Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

वर्ल्ड कप इतिहास में लगातार तीन फाइनल में साथ अम्पायरिंग करने वाले दो दिग्गज अम्पायर

Armendra Amar
CONTRIBUTOR
आँकड़े
2.93K   //    Timeless

डेविड शेफर्ड और स्टीव बकनर
डेविड शेफर्ड और स्टीव बकनर

‘अंपायर डिसीजन इस लास्ट डिसीजन’ यह एक ऐसा वाक्य है जिसे भारत का हर बच्चा गली- कुचों में क्रिकेट खेलना शुरू करने के बाद सबसे अधिक सुनता और समझता है | वैसे कमोबेश यह सच भी है कि क्रिकेट के खेल में में जितना बड़ा दर्जा क्रिकेट अंपायर को दिया गया है उतना बड़ा दर्जा दूसरे खेलों के किसी निर्णायक को शायद ही है | डीआरस तकनीक आने के पहले तो बैट्समैन की पूरी पारी ही अंपायर के उंगलियों पर टिकी होती थी |

क्रिकेट के खेल में क्रिकेट अंपायर सिर्फ अंपायर नहीं बल्कि एक अनुशासन का नाम होता है | काले- सफ़ेद कोट वालों की ऐसी परम्परा जिसमें डेविड शेफर्ड, डिक्की बर्ड से लेकर श्रीनिवास वेंकटराघवन जैसे नामचीन नाम जुड़े हैं | साथ ही हाल के दिनों का क्रिकेट प्रेमी स्टीव बकनर की ‘स्लो’ और बिली बोर्डन की ‘फ्लाई हाई’ अंपायरिंग को भला कैसे भूल सकता है |

आईसीसी क्रिकेट विश्व कप के दौरान किसने सबसे अधिक रन बनाए, किसने सबसे अधिक विकेट चटकाए, कौन मैन ऑफ़ द मैच रहा ऐसे आकड़े हमेशा देखने पढ़ने को मिल जाते हैं | लगभग क्रिकेट में रूचि रखने वाले एक सामान्य दर्शक को पता है कि आईसीसी विश्व कप प्रतियोगिता में सबसे ज्यादा रन और सबसे अधिक विकेट किसने लिए हैं | लेकिन आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि विश्व क्रिकेट के उन दो अम्पायरों के बारे में जिन्होंने न सिर्फ आज तक विश्व कप क्रिकेट के इतिहास में सर्वाधिक मैचों में अम्पायरिंग किया है बल्कि लगातार तीन विश्व कप फाइनल में भी अम्पायरिंग जोड़ीदार भी रहें हैं |

आइये अब आगे की स्लाइडस में जानते हैं विश्व क्रिकेट के उन दो अम्पायरों के बारे में जिन्होंने आईसीसी विश्व कप प्रतियोगिता में 45 से अधिक मैचों में अम्पायरिंग की है और साथ ही लगातार तीन विश्व कप फाइनल में अम्पायरिंग जोड़ीदार रहे हैं |

1 / 3 NEXT
Tags:
Advertisement
Advertisement
Fetching more content...