Create
Notifications

वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट सीरीज के बाद यूनिस खान भी लेंगे संन्यास

ANALYST
Modified 21 Sep 2018
पाकिस्तान के अनुभवी बल्लेबाज यूनिस खान ने वेस्टइंडीज के खिलाफ अप्रैल और मई में होने वाली टेस्ट सीरीज के बाद अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने का फैसला किया है। इसी के साथ यूनिस अब संन्यास लेने के मामले में मिस्बाह उल हक के साथ जुड़ गए हैं। मिस्बाह की भी वेस्टइंडीज के खिलाफ आखिरी टेस्ट सीरीज होगी। 39 वर्षीय यूनिस ने शनिवार को कराची में अपने 17 वर्षीय टेस्ट करियर पर विराम लगाने की घोषणा की। दाएं हाथ के बल्लेबाज ने कहा, 'लोग मुझे कहते हैं कि किसी प्रकार की घोषणा नहीं करूं, लेकिन अब सही समय आ गया है। एक खिलाड़ी की जिंदगी में वो समय आता है जब उसे फैसला लेना होता है। मैंने हमेशा देश के लिए अपना सर्वश्रेष्ठ करने की कोशिश की और मुझे इस पर गर्व है। कोई खिलाड़ी हमेशा फिट नहीं रह सकता। प्रोत्साहन हमेशा समान नहीं हो सकता। इसलिए अब समय आ गया है जब यूनिस आगामी वेस्टइंडीज के खिलाफ सीरीज के बाद मैदान छोड़े।' मिस्बाह और यूनिस के कैरीबियाई टीम के खिलाफ तीन टेस्ट के बाद संन्यास लेने से पाकिस्तान को 190 टेस्ट के अनुभव की कमी खलेगी।यूनिस टेस्ट में 10,000 रन पूरे करने से केवल 23 रन दूर है। अगर वह इसे पूरा करते हैं तो 10,000 रन बनाने वाले पहले पाकिस्तानी बल्लेबाज बन जाएंगे। वहीं 43 वर्षीय मिस्बाह उल हक को 5,000 रन पूरे करने के लिए 49 रन की दरकार है। यह भी पढ़ें : वेस्टइंडीज के खिलाफ सीरीज के बाद संन्यास लेंगे पाकिस्तान के कप्तान मिस्बाह उल हक यूनिस ने कहा, 'मैंने हमेशा खेल अच्छा दूत बनने तथा अपने देश की सेवा करने की सोची। अगर मैंने अपने करियर में कभी कोई गलती की हो, अगर मैं कुछ भूल गया हूं या मैंने कुछ गलत किया हो तो अपना समझकर मुझे माफ़ कर देना और आगे बढ़ जाना।' उन्होंने आगे कहा, 'यह अचानक लिया फैसला नहीं है। इसके बारे में मैंने सोचा था और मेरे नजदीकी दोस्तों को इसकी जानकारी थी। भले ही मैंने जावेद मियांदाद के रिकॉर्ड को तोड़ने के बाद संन्यास लेने का मन बनाया था, लेकिन मुझे पप्रोत्साहन मिला और फिर मैंने 10,000 रन पूरे करने का विचार बनाया। मैंने अब पहले अपने संन्यास लेने का फैसला इसलिए सुनाया क्योंकि लोग मुझे 11 व 12 हजार रन पूरे करने के लिए बोलते। फिर मैं सचिन तेंदुलकर के 15,000 रन के रिकॉर्ड को तोड़ने के बारे में सोचता। इंसान कभी संतुष्ट नहीं होता, लेकिन मेरी उम्र उतना आगे जाने की नहीं है। इसलिए मैं चाहता हूं कि लोग मेरे फैसले की इज्जत करे और मुझे अपने भविष्य के काम को करने की अनुमति प्रदान करें।' यूनिस ने हाल ही में सिडनी टेस्ट में 175 रन की पारी खेली थी, इसके अलावा वह रन बनाने के लिए संघर्ष करते दिखाई दे रहे थे। इस वजह से उनके भविष्य पर सवाल खड़े होने लगे थे। यूनिस ने तब कहा था कि उनका भविष्य इस बात पर टिका होगा जो टीम उनसे करवाना चाहेगी। यूनिस ने 2000 में डेब्यू के बाद 115 टेस्ट खेले और करीब 53 की औसत तथा 34 शतकों की मदद से 9977 रन बनाए। उनका टेस्ट में सर्वश्रेष्ठ स्कोर 313 रन है। उन्हें हाल ही में विजडन क्रिकेटर्स ऑफ़ द ईयर नामित किया गया।
Published 08 Apr 2017
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now