Create
Notifications

विदेशी टी20 लीग में यूसुफ पठान के खेलने का सपना टूटा

Abhishek Tiwary
visit

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड द्वारा यूसुफ पठान को हांगकांग में टी20 टूर्नामेंट खेलने के लिए दिया गया नो ऑबजेक्शन सर्टिफिकेट (एनओसी) वापस ले लिया गया है। इंडियन एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक बीसीसीआई इस टूर्नामेंट को आईपीएल की प्रतिद्वंद्वी लीग मानता है, इसलिए पठान को वहां खेलने के लिए दी गई इजाजत के फैसले को रिव्यू कर दिया गया है। एक और भारतीय खिलाड़ी दिनेश कार्तिक भी वेस्टइंडीज की कैरेबियाई प्रीमियर लीग में खेलने के लिए जाना चाहते थे, लिहाजा उनके लिए भी बोर्ड का यह कदम एक झटका है। बता दें कि कुछ दिनों पहले ही यूसुफ पठान ने बीसीसीआई में एक अर्जी दाखिल कर हांगकांग टी20 ब्लिज में खेलने की अनुमति मांगी थी, जिसे बोर्ड ने स्वीकार कर लिया था। इसके बाद कुछ अन्य खिलाड़ियों की ओर से भी विश्व के टी20 टूर्नामेंटों में खेलने हेतू आवेदन आए, इसलिए बोर्ड को पठान के फैसले को भी बदलना पड़ा। बोर्ड के एक अधिकारी ने इस पर बात करते हुए कहा कि भारतीय खिलाड़ी ब्रांड के रूप में जाने जाते हैं और उनका बाहर खेलने जाने का मतलब है हमारे स्पोंसर्स भी उन विदेशी टूर्नामेंटों में इन्वेस्ट करेंगे, इसलिए हमने ऐसा कदम उठाया है। हांगकांग लीग में कुमार संगकारा, माइकल क्लार्क और डैरेन सैमी जैसे दिग्गज क्रिकेटर भी खेलते हुए नजर आएंगे। गौरतलब है कि यूसुफ पठान फिलहाल बीसीसीआई के अनुबंधित खिलाड़ियों की सूची में नहीं है। इसलिए उन्हें इस विदेशी टी20 टूर्नामेंट में खेलने की इजाजत मिलने की बात सामने आई थी। ऐसे में सभी को लग रहा था कि भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड भी अन्य देशों की तरह अपने खिलाड़ियों को विदेशी टी20 टूर्नामेंट के लिए अनुमति प्रदान करने का सिलसिला शुरू कर चुका है। उल्लेखनीय है कि आईपीएल में यूसुफ कोलकाता नाइट राइडर्स के लिए खेलते हैं और 2012 तथा 14 में दो बार इस विजेता टीम के सदस्य रहे हैं। उन्होंने शाकिब अल हसन के साथ इस टीम के लिए मध्य क्रम में बल्ले से बहुत शानदार कार्य किया है।


Edited by Staff Editor
Article image

Go to article
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now