Create
Notifications

महेंद्र सिंह धोनी के कप्तानी छोड़ने पर हुई है युवराज सिंह की टीम में वापसी : योगराज सिंह

Naveen Sharma
FEATURED WRITER
Modified 21 Sep 2018
सीमित ओवर क्रिकेट में कप्तान के रूप में अंतिम मैच खेलने वाले महेंद्र सिंह धोनी को उनके कप्तानी कार्यकाल के दौरान दिए गए योगदान के लिए अपार तारीफ मिली है। संयोग से विश्वकप स्टार युवराज सिंह भी इस मैच में टीम का हिस्सा रहे। उनके पिता और पूर्व भारतीय क्रिकेटर योगराज ने कहा कि दो वर्ष से अटका हुआ पल पूरा हुआ है। स्पोर्ट्सकीड़ा से बातचीत में उन्होंने कहा ईमानदारी से कहूं तो 2 साल पहले मुझे इसका अनुमान भी था या नहीं? अगर आप मेरे किसी भी साक्षात्कार को देखेंगे, मैंने साफ कहा है कि वे युवराज को पसंद नहीं करते हैं और टीम में अंदरूनी राजनीति चलती है। मैं खुद इंडिया के लिए खेला हूं इसलिए जानता हूं कि वहां ऐसी चीजें होती है।“ इस बातचीत में उन्होंने आगे कहा “ टीम के साथ धोनी इसी तरह से चल रहे थे लेकिन विराट कोहली के कप्तान बनते ही चीजें बदल गई। वे घरेलू स्तर पर युवराज के प्रदर्शन को नकार नहीं सकते। वन-डे हो या टी20, वे एकदम फिट हैं। यह धोनी ने नहीं समझा या समझने की कोशिश नहीं की।“ युवराज के पिता ने कहा “ पिछले वर्ष मई में मैंने उससे कहा कि टीम इंडिया में कोई तुम्हारा समर्थन नहीं करेगा। अपने प्रदर्शन पर ध्यान रखो और तुम ये करोगे। उसने इस पर ध्यान दिया और परिणाम आपके सामने है। मैंने यह भी कहा था कि शादी और बाकी चीजें ठीक है लेकिन खेल पर भी फोकस रखो, क्योंकि धोनी एक दिन रिटायर होंगे तब तुम्हें मौका मिलेगा। वो मेरी बातों को अधिक नहीं सुनता लेकिन अब वो भी जानेगा कि उसके पिता सही थे।“ गौरतलब है कि युवराज सिंह ने भारतीय टीम के लिए अपना अंतिम वन-डे मैच 2013 में खेला था और वे तीन वर्ष बाद उनकी भारतीय टीम में वापसी हुई है। कई मौकों पर उन्हें अपने पिता की विवादास्पद बातों से दूरी बनाते हुए देखा गया है। भारत के लिए एक टेस्ट मैच खेल चुके योगराज सिंह महेंद्र सिंह धोनी की कई बार आलोचना कर चुके है। उन्होंने कहा कि विराट कोहली युवराज को बल्लेबाज के अलावा गेंदबाजी में भी उपयोग कर सकते हैं।
Published 13 Jan 2017
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now