Create
Notifications

युवराज ने मुंबई में कैंसर ग्रसित बच्चों के साथ क्रिसमस का जश्न मनाया

ANALYST
Modified 21 Sep 2018
भारतीय क्रिकेटर युवराज सिंह ने मुंबई के पारेल में सेंट जुड इंडिया चाइल्डकेयर सेंटर में कैंसर ग्रसित बच्चों के साथ क्रिसमस का जश्न मनाया। कैंसर से लड़कर ठीक हो चुके युवराज सिंह ने बच्चों के साथ अच्छा समय बिताया और अपनी फैशन कंपनी यूवीकैन (YWC) के विशेष उपहार सभी को दिए। बच्चों को भी युवराज का साथ बहुत रास आया और क्रिकेटर ने बच्चों के साथ अपने विशेष पल साझा किये। बच्चों ने कहा कि वह युवराज के साथ बिताए समय को हमेशा याद रखेंगे। इस केंद्र में 30 से अधिक बच्चे थे। युवराज ने कहा कि कैंसर पीड़ितो के साथ समय बिताना उन्हें अच्छा लगता है, विशेषकर बच्चों के साथ। जब भी उन्हें समय मिलता है तो वह ऐसा समय बिताना पसंद करते हैं। क्रिसमस से पहले उन्हें ऐसा समय मिला और वह बहुत खुश दिखे। इस विशेष अवसर पर युवराज ने कहा, 'जहां हम सभी इस उत्सव सत्र का जश्न मनाते हैं, वहीं हमें अपने अंदाज में कुछ वापस करने की बात भी ध्यान रखना चाहिए। मेरी जिंदगी का सबसे बड़ा लक्ष्य कैंसर पीड़ितों की मदद करना है और इस केंद्र के बच्चों ने मेरा दिल जीत लिया है। उनकी सकारात्मकता ने हम सभी को प्रेरणा दी है कि कभी हार नहीं मानना चाहिए और हमेशा प्यार व मुस्कान फैलाते रहना चाहिए। मैं इस समय का शुक्रगुजार हूं और कामना करता हूं कि जल्द ही यह सब ठीक हो जाएं।' 2011 में जब युवराज सिंह अपने चरम पर थे, तब विश्व कप के बाद वह कैंसर से ग्रसित हो गए थे। उन्होंने अपना इलाज कराया और कैंसर जैसी गंभीर बीमारी को मात देकर मैदान पर वापसी की। इस अनुभव के बाद युवी का प्रमुख लक्ष्य कैंसर पीड़ितों की मदद करना और लोगों को जागरूक करना बन गया है। 2007 वर्ल्ड टी20 जीत में उन्होंने बहुत ही अहम योगदान दिया था और उसके बाद जब 2011 में भारत ने एकदिवसीय विश्व कप जीता था, तब युवराज को मैन ऑफ़ द टूर्नामेंट चुना गया था। भारत के लिए युवराज ने अभी तक 40 टेस्ट, 293 एकदिवसीय और 55 टी20 मैच खेले हैं और उनके नाम 10000 से ज्यादा अंतर्राष्ट्रीय रन और 16 शतक हैं। तीनों फॉर्मेट मिलाकर युवराज ने 148 विकेट भी लिए हैं और अपने आप को एक उपयोगी ऑलराउंडर साबित किया है।
Published 23 Dec 2016
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now