युवराज सिंह ऑल टाइम भारतीय एकदिवसीय टीम में जरुर शामिल होंगे: राहुल द्रविड़

पूर्व भारतीय भारतीय कप्तान राहुल द्रविड़ ने युवराज सिंह को अपने एकदिवसीय करियर के 300 मैच पूरे करने पर बधाई दी है। उनका मानना है कि युवी ने पिछले 17 सालों से निरंतर जिस प्रकार का प्रदर्शन किया है उससे अगर कोई भी भारतीय टीम का 'ऑलटाइम वनडे XI' बनता है तो युवराज जरुर उसका हिस्सा होंगे। द्रविड़ ने क्रिकइन्फो के एक कार्यक्रम में गुरुवार को कहा ,"युवी 17 वर्षों से जैसा प्रदर्शन करते आ रहे हैं वो एक सुपरस्टार का दर्जा पा चुके हैं। उनके बिना भारतीय 'ऑलटाइम वनडे XI' की कल्पना नहीं की जा सकती और जो सभी के भारतीय 'ऑलटाइम वनडे XI' बनाया जायेगा वो जरुर उसका हिस्सा होंगे। युवराज ने अपने करियर का 300वां मैच गुरुवार को बांग्लादेश के खिलाफ चैंपियंस ट्रॉफी के सेमीफाइनल में खेला। 17 साल पहले, 2000 में 19 वर्षीय युवराज ने केन्या के खिलाफ अपना पहला एकदिवसीय मैच खेला था जहाँ उन्हें बल्लेबाजी का मौका नहीं मिला, पर अगले ही मैच में ऑस्ट्रेलिया की धारदार तेज गेंदबाजी के खिलाफ युवी ने 84 रनों की जबरदस्त पारी खेली और अपने सटीक फील्डिंग के दम पर ऑस्ट्रेलिया को चैंपियंस ट्रॉफी से बाहर का रास्ता दिखा दिया और उस पारी के लिए उन्हें 'मैन ऑफ़ द मैच' भी चुना गया। भारत उस समय आईसीसी नॉक आउट के फाइनल में पहुचने में सफल हुआ था जहाँ उसे न्यूज़ीलैंड के हाथों हार का सामना करना पड़ा था। द्रविड़ ने कहा, "अगर मैं थोड़ा पहले सन 2000 की तरफ जाऊं तो मुझे उनकी वो पारी याद आती है जो उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेली थी। एक 19 साल के खिलाड़ी के लिए ग्लेन मैक्ग्रा, ब्रेट ली और जेसन गिलेस्पी के खिलाफ वैसी पारी खेलना काफी प्रभावित करने वाला था।" द्रविड़ का मानना है कि युवी ने अपने करियर में काफी उतार -चढ़ाव देखे हैं चाहे वो शारीरिक हो या ख़राब फॉर्म की वजह से, वो कैंसर से भी पीड़ित थे पर उन्होंने आगे बढना नहीं छोड़ा। उन्होंने कहा कि कुल मिलाकर युवी शानदार खिलाड़ी हैं और भारत जब भी बड़ी प्रतियोगिताओं में जीता है, उसमें उनका बहुत बड़ा योगदान रहा है।