Create

युवराज सिंह ने क्रिकेट से संन्यास को लेकर दिया बड़ा बयान

सावन गुप्ता

भारतीय क्रिकेट टीम के धाकड़ बल्लेबाज युवराज सिंह ने अपने संन्यास को लेकर बड़ी बात कही है। उन्होंने कहा है कि वो अपने शर्तों पर ही संन्यास लेंगे और भारतीय टीम में वापसी की उम्मीद भी उन्होंने नही छोड़ी है। युवराज ने ये भी कहा कि वो 2-3 सीजन तक आईपीएल भी खेलते रहेंगे। स्पोर्टस्टार लाइव से इंटरव्यू के दौरान युवराज ने कहा कि मैं किसी पछतावे के साथ संन्यास नहीं लेना चाहता। मैं कुछ साल और खेलने के बारे में सोच रहा हूं। मैं तभी संन्यास लूंगा जब मुझे लगेगा कि क्रिकेट छोड़ने का यही समय है। युवराज ने कहा कि जब मुझे लगेगा कि मैंने अपना बेस्ट क्रिकेट खेल लिया है और इससे ज्यादा अच्छा मैं नहीं खेल पाउंगा तब मैं संन्यास ले लूंगा। मैं इसलिए अभी भी खेल रहा हूं क्योंकि मैं अभी क्रिकेट का पूरा लुत्फ उठा रहा हूं। मैं केवल भारतीय टीम या आईपीएल में खेलने के लिए नहीं क्रिकेट खेल रहा हूं। हालांकि निश्चित तौर पर लक्ष्य भारतीय टीम के लिए ही खेलना होता है। मुझे लगता है कि मैं अभी 2 या तीन आईपीएल और खेल सकता हूं। युवराज ने आगे कहा कि मेरा अभी तक का सफर अच्छा रहा है। मैं मुश्किलों से नहीं डरा और विपरीत परिस्थितियों में भी हिम्मत नहीं हारी। युवराज ने कहा कि संन्यास के बाद मैं उन लोगों का सहारा बनना चाहता हूं जो कि कैंसर से जूझ रहे हैं या फिर अपने जीवन में किसी और समस्या से परेशान हैं। मैं चाहता हूं लोग मुझे उस इंसान के तौर पर जाने जिसने कभी हार नहीं मानी। चाहे मैं भारत के लिए खेलूं या ना मैदान पर हमेशा मैं अपना 100 प्रतिशत दूंगा। गौरतलब है युवराज सिंह ने आखिरी बार भारतीय टीम के लिए जून 2017 में वेस्टइंडीज के खिलाफ एंटीगुआ में वनडे मैच खेला था। उसके बाद फिटनेस और फॉर्म को लेकर वे टीम से बाहर रहे और अभी तक वापसी नहीं कर पाए हैं। आईपीएल के 11वें सीजन के लिए किंग्स इलेवन पंजाब की टीम ने उन्हें अपनी टीम में शामिल किया है। हालांकि इस बार उनके लिए महज 2 करोड़ की ही बोली लगी, जबकि 2015 में 16 करोड़ और 2017 में 7 करोड़ की बोली उनके लिए लगी थी। विजय हजारे ट्रॉफी में इस वक्त युवराज सिंह अच्छा खेल रहे हैं और आगे के मैचो में ज्यादा से ज्यादा रन बनाकर वो भारतीय टीम में जगह जरुर बनाना चाहेंगे।


Edited by Staff Editor

Comments

Fetching more content...