Create

Free Fire में क्लोज रेंज की फाइट्स के लिए सबसे अच्छी सेंसिटिविटी सेटिंग्स कैसे चुनें?

image via ff.garena.com ff67
image via ff.garena.com ff67
Ujjaval E-Sports

Free Fire में सेंसिटिविटी सेटिंग्स का काफी ज्यादा महत्व है। आपको इनसे काफी ज्यादा फायदा देखने को मिलता है। कई लोगों को सेंसिटिविटी सेटिंग्स सेट करने में दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। इसलिए इस आर्टिकल में कम सेंसिटिविटी सेट करने के तरीकों के बारे में बात करेंगे।

youtube-cover

Free Fire में क्लोज रेंज की फाइट्स के लिए सबसे अच्छी सेंसिटिविटी सेटिंग्स कैसे चुनें?

(Image via Free Fire App)
(Image via Free Fire App)

कई सारे खिलाड़ियों को क्लोज रेंज की फाइट्स के दौरान काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। आप अपने क्लोज रेंज गेम को सेंसिटिविटी सेटिंग्स द्वारा बेहतर बना सकते हैं। इससे आपके रिफ्लेक्स और निशाने बेहतर हो जाते हैं। आप इन स्टेप्स द्वारा Free Fire में बेहतर सेंसिटिविटी सेटिंग्स चुन सकते हैं;

स्टेप 1. Free Fire खोलें।

स्टेप 2. सेटिंग्स के विकल्प को ढूंढें और क्लिक करें।

स्टेप 3. सेंसिटिविटी सेटिंग्स के विकल्प में जाएं।

(Image via Free Fire App)
(Image via Free Fire App)

स्टेप 4: आपको सेंसिटिविटी सेटिंग्स में बदलाव करते हुए नीचे दी गई संख्या सेट कर सकते हैं:

  • जनरल: 100
  • रेड डॉट : 95-100
  • 2X स्कोप: 90-95
  • 4X स्कोप: 80-85
  • स्नाइपर स्कोप: 80-85
  • फ्री लुक: 75-80

जनरल, रेड डॉट और 2X स्कोप की सेंसिटिविटी सेटिंग्स हमेशा ज्यादा रहती है। दूसरी ओर 4X और स्नाइपर के स्कोप की सेंसिटिविटी थोड़ी कम रहती है। उनकी सेंसिटिविटी ज्यादा रखने से आपको नुकसान पहुंच सकता है।

youtube-cover

फ्री लुक की सेंसिटिविटी सेटिंग्स को ज्यादा नहीं रखा गया है क्योंकि नए खिलाड़ियों को दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। अगर आपको खेलते हुए समय हो गया है तो फिर आप अपनी मूवमेंट स्किल्स बढ़ाने के लिए फ्री लुक की सेंसिटिविटी सेटिंग्स को बढ़ा सकते हैं।

(Image via Free Fire App)
(Image via Free Fire App)

स्टेप 5. आपको थोड़े बदलाव करने पड़ेंगे क्योंकि हर एक डिवाइस की सेंसिटिविटी सेटिंग्स अलग रहती है। आप ट्रेनिंग ग्राउंड में जाकर सेटिंग्स को टेस्ट कर सकते हैं और फिर कुछ छोटे बदलाव करके गेम में सुधार कर सकते हैं।


Edited by Ujjaval E-Sports

Comments

Fetching more content...