Create
Notifications

Garena Free Fire Max में सीजन 17 : रैंक सिस्टम की महत्वपूर्ण जानकारी

रैंक सिस्टम महत्वपूर्ण जानकारी (Image Credit : Garena)
रैंक सिस्टम महत्वपूर्ण जानकारी (Image Credit : Garena)
reaction-emoji reaction-emoji
Sawan E-Sports

Garena Free Fire Max रैंक सिस्टम पर आधारित बैटल रॉयल गेम है। प्रत्येक अपडेट के दौरान सभी गेमर्स की रैंक को रिसेट कर दिया जाता है। क्योंकि, गेम के अंदर नए रिवॉर्ड और आइटम के साथ न्यू सीजन प्रस्तुत किया जाता है। गेम के अंदर से सीजन 16 समाप्त हो गया है और सीजन 17 शुरू हो गया है। ये सीजन लगभग दो महीने तक चलता है। गेमर्स सीजन के शुरआत से ही रैंक पुश करने लग जाते हैं। क्योंकि, रैंक पुश करना आम बात नहीं होती है।

क्योंकि, रैंक रिसेट करने के बाद खिलाड़ियों को पूरी लगन के साथ पॉइंट हासिल करने पड़ते हैं और रैंक बढ़ाना पड़ता है। इसलिए, इस आर्टिकल में हम Garena Free Fire Max में सीजन 17 : रैंक सिस्टम की महत्वपूर्ण जानकारी बताने वाले हैं।

नोट : गरेना फ्री फायर को आधिकारिक तोर पर भारतीय सरकार ने बैन कर दिया गया है। इसलिए, मैक्स वर्जन को खेलना पसंद करता है।


Garena Free Fire Max में सीजन 17 : रैंक सिस्टम की महत्वपूर्ण जानकारी

फ्री फायर मैक्स रैंक ड्रॉप्स (Image Credit : Garena)
फ्री फायर मैक्स रैंक ड्रॉप्स (Image Credit : Garena)

Garena Free Fire Max के अंदर खिलाड़ियों को कुछ इस प्रकार से सीजन 17 में रैंक को बढ़ावा देना पड़ेगा:

  • खिलाड़ियों को हीरोइक टियर पर जाने के लिए (3200 रैंक पॉइंट) और गोल्ड II (1750 रैंक पॉइंट)
  • खिलाड़ियों को डायमंड्स I-IV पर जाने के लिए (2600-3200 रैंक पॉइंट) और गोल्ड I (1650 रैंक पॉइंट)
  • खिलाड़ियों को प्लैटिनम I-IV पर जाने के लिए (2101-2600 रैंक पॉइंट) और सिल्वर II (1500 रैंक पॉइंट)
  • खिलाड़ियों को गोल्ड I-IV पर जाने के लिए (1601-2100 रैंक पॉइंट) और सिल्वर I (1350 रैंक पॉइंट)
  • खिलाड़ियों को सिल्वर I-III पर जाने के लिए (1301-1600 रैंक पॉइंट) और ब्रोंज II (1175 रैंक पॉइंट)
  • खिलाड़ियों को ब्रोंज I-III पर जाने के लिए (1000-1300 रैंक पॉइंट) ब्रोंज I (1000 रैंक पॉइंट)

गेमर्स को ऊपर मौजूद टियर पर पहुंचने के लिए जरूरी पॉइंट की जरूरत पड़ेगी। उसके बड़ा ही टियर को प्राप्त कर सकते हैं।


Edited by Sawan E-Sports
reaction-emoji reaction-emoji

Comments

Fetching more content...