परदीप नरवाल को कबड्डी के सबसे बड़े टूर्नामेंट के लिए टीम में नहीं मिली जगह, PKL के कई प्रमुख खिलाड़ी शामिल

Kabaddi
Senior National Kabaddi Championship के लिए परदीप नरवाल को नहीं मिली हरियाणा टीम में जगह (Photo: PKL)

70वें सीनियर नेशनल कबड्डी चैंपियनशिप (Senior National Kabaddi Championship 2024) के लिए हरियाणा की टीम का ऐलान हो गया है और इसमें प्रो कबड्डी लीग (PKL) के कई प्रमुख खिलाड़ियों को शामिल किया गया है। इस बीच दिग्गज खिलाड़ी परदीप नरवाल (Pardeep Narwal) को इस टीम में जगह नहीं मिली है। सुरजीत नरवाल टीम के कोच की भूमिका निभाने वाले हैं।

परदीप नरवाल के नहीं चुने जाने से हर कोई हैरान है और अभी तक उन्हें नहीं चुने जाने का कारण भी सामने नहीं आया है। इसी वजह से कहना मुश्किल है कि उन्हें ड्रॉप किया गया है, या फिर निजी कारण से वो इस टूर्नामेंट का हिस्सा नहीं बन पा रहे हैं। PKL 10 के अंतिम कुछ मैचों में यूपी योद्धाज ने भी डुबकी किंग को प्लेइंग 7 में मौका नहीं दिया था।

खैर, हरियाणा की टीम की बात की जाए तो वो 70वें सीनियर नेशनल्स के लिए काफी मजबूत दिखाई दे रही है। टीम में आशु मलिक, मोहित गोयत, नितिन जैसे रेडर्स और डिफेंस में जयदीप दहिया, मोहित नांदल, कृष्णा ढुल जैस डिफेंडर्स मौजूद हैं। इसके अलावा टीम के पास राजेश नरवाल के रूप में अनुभवी ऑल-राउंडर भी है। आपको बता दें कि हरियाणा की टीम हिमाचल प्रदेश, त्रिपुरा और उत्तराखंड के साथ ग्रुप डी में मौजूद है।

70वें Senior National Kabaddi Championship के लिए हरियाणा का स्क्वाड इस प्रकार है:

राजेश नरवाल, मोहित नांदल, जयदीप दहिया, विशाल लाथेर, कृष्णा ढुल, मोहित गोयत, आशु मलिक, नितिन, अक्षय राठी, नितिन, उपेंदर और मोहित।

Senior National Kabaddi Championship में कप्तानी करेंगे राहुल चौधरी

PKL 10 में जयपुर पिंक पैंथर्स के लिए खेलने वाले राहुल चौधरी को इस टूर्नामेंट के लिए बहुत बड़ी जिम्मेदारी दी गई है और उन्हें यूपी का कप्तान बनाया गया है। राहुल के अलावा यूपी की टीम में PKL खेल चुके विनय, रॉबिन चौधरी, शुभम, नितिन जैसे खिलाड़ी शाामिल हैं। उत्तर प्रदेश के कोच कुलदीप सिंह हैं।

यूपी की टीम इस प्रकार है:

राहुल चौधरी (कप्तान), विनय तेवतिया, रॉबिन चौधरी, शुभम कुमार, मोहित बालियान, नितिन पनवार, विशाल चौधरी, नवनीत, शिवम सिंह, विकुल लांबा, अनिरुद्ध पांडे और गौरव।

Quick Links

Edited by मयंक मेहता