Create
Notifications

पूर्व कबड्डी कप्‍तान अजय ठाकुर ठिकाने की विफलता के लिए निलंबित होने वाले पहले भारतीय एथलीट बने

अजय ठाकुर
अजय ठाकुर
Vivek Goel
FEATURED WRITER
Modified 10 Apr 2021
न्यूज़

भारत के 2016 कबड्डी विश्‍व कप विजेता टीम के सदस्‍य और 2014 इंचियोन एशियाई गेम्‍स के गोल्‍ड मेडलिस्‍ट पूर्व कप्‍तान अजय ठाकुर देश के पहले एथलीट बन गए हैं, जिन्‍हें राष्‍ट्रीय डोपिंग विरोधी एजेंसी (नाडा) ने उनकी बार-बार विफलताओं के लिए अस्‍थायी रूप से निलंबित कर दिया है। अर्जुन अवॉर्डी को व्‍हेयर अबाउट (टेस्टिंग के लिए अपना पता) नहीं देने पर एंटी डोपिंग गतिविधियों का आरोपी माना गया। व्‍हेयर अबाउट के लिए नाडा की तरफ से तीन नोटिस का जवाब नहीं देने पर उनका मिस टेस्‍ट घोषित किया गया। यह भारतीय डोपिंग इतिहास में पहला मौका है जब कोई एथलीट अपने ठिकाने की विफलता बताने के चलते अनंतिम रूप से निलंबित हुआ हो।

ठाकुर को विश्‍व डोपिंग विरोधी एजेंसी (वाडा) के आर्टिकल 2.4 के अंतर्गत डोपिंग विरोधी नियम उल्‍लंघन का नोटिस पिछले महीने 19 मार्च को मिला था। अजय ठाकुर को दो साल का निलंबन झेलना पड़ेगा। विश्‍व डोपिंग विरोधी संहिता के आर्टिकल 2.4 के मुताबिक, 'रजिस्‍टर्ड टेस्टिंग पूल (आरटीपी) में 12 महीने के अंदर तीन मिस्‍ड टेस्‍ट या फेलियर पाने पर डोपिंग विरोधी नियम उल्‍लंघन माना जाता है। ऐसे में दो साल का प्रतिबंध लगता है।'

बता दें कि नाडा ने अजय ठाकुर को अपने रजिस्टर्ड टेस्टिंग पूल (आरटीपी) में शामिल कर रखा है। आरटीपी में शामिल होने वाले खिलाड़‍ियों को साल में चार बार अपना व्हेयर अबाउट देना पड़ता है। एक क्वार्टर में पता नहीं देने पर एक नोटिस भेजा जाता है। साल में ऐसे तीन नोटिस का जवाब नहीं देने पर वाडा के नियम 2.4 के तहत खिलाड़ी का मिस टेस्ट घोषित किया जाता है। इसके तहत उस पर दो साल के प्रतिबंध का प्रावधान है। नाडा ने व्हेयर अबाउट नहीं भेजने पर कड़ा रुख अपना रखा है।

अजय ठाकुर का करियर रहा शानदार

अजय ठाकुर का कबड्डी करियर शानदार रहा है। उन्‍हें पद्म श्री और अर्जुन अवॉर्ड से नवाजा जा चुका है। उनका पेशेवर करियर 15 साल से ज्‍यादा का हो चुका है। वह राष्‍ट्रीय टीम के कप्‍तान रह चुके हैं, जिसने ईरान के गोरगान में 2017 एशियाई कबड्डी चैंपियनशिप का खिताब जीता था। अहमदाबाद कबड्डी विश्‍व कप में भारत ने ईरान को मात देकर खिताब जीता था। तब अजय ठाकुर को नंबर-1 रेडर के खिताब से नवाजा गया था। अजय ठाकुर ने टूर्नामेंट में कुल 68 रेड अंक हासिल किए थे।

अजय ठाकुर इंचियोन एशियाई गोल्‍ड और जकार्ता ब्रॉन्‍ज मेडल विजेता टीम के सदस्‍य रहे और प्रो कबड्डी लीग के सात सीजन में तीन फ्रेंचाइजियों का प्रतिनिधित्‍व कर चुके हैं। 34 साल के अजय ठाकुर इस समय हिमाचल प्रदेश पुलिस में डीएसपी के पद पर कार्यरत हैं।

Published 10 Apr 2021
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now