भारत के एशियाई कबड्डी चैंपियन बनने पर आई प्रतिक्रियाएं, ईरान को फाइनल में हराया था 

ईरान को हराने के बाद एशियाई चैंपियनशिप के गोल्ड मेडल के साथ भारतीय टीम।
ईरान को हराने के बाद एशियाई चैंपियनशिप के गोल्ड मेडल के साथ भारतीय टीम।

भारतीय पुरुष कबड्डी टीम ने एशयाई चैंपियनशिप अपने नाम कर ली है। दक्षिण कोरिया के बुसान में खेले गए फाइनल मुकाबले में भारत ने ईरान को 42-32 के स्कोर से मात दी और रिकॉर्ड आठवीं बार इस खिताब को अपने नाम किया। ईरान की टीम ने फाइनल में अच्छी शुरुआत की, लेकिन भारतीय खिलाड़ियों ने धैर्य के साथ एक-एक अंक अर्जित कर जीत पाई। भारत के खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने इस जीत पर पूरी टीम को बधाई देते हुए ट्वीट किया।

टीम इंडिया के कप्तान पवन सहरावत ने दो टचप्वाइंट दिलाते हुए ईरान की टीम को ऑलआउट किया और कुछ समय बाद एक और बार भारत ने ईरान को ऑलआउट कर दिया। हाफ टाइम तक टीम 23-11 से आगे थी। इसके बाद एक और बार ईरान की टीम ऑलआउट हो गई। भारतीय टीम ने आखिरी अंकों को जल्दी अर्जित कर मैच पूरी तरह अपने नाम किया।

इस बार कुल 6 टीमों ने इस चैंपियनशिप में भाग लिया था। भारत, ईरान के अलावा चीनी ताइपे, जापान, हांगकांग और मेजबान दक्षिण कोरिया की टीमें भी टूर्नामेंट में शामिल थीं। शुरुआती दौर में खेले गए मुकाबलों में भारत ने पांचों मैच जीते। इस लेग में ईरान के खिलाफ भारत को कड़े मैच में 33-28 से जीत मिली थी।

एशियाई कबड्डी चैंपियनशिप की शुरुआत साल 1980 में हुई थी। भारत ने साल 1980, 1988, 2000, 2001, 2002 में लगातार पांच साल खिताब जीता। साल 2003 में ईरान ने सभी को चौंकाते हुए खिताब अपने नाम किया। इसके बाद 2005, 2017 और अब 2023 में भारत ने फिर खिताब जीते हैं। साल 2005 और 2017 में भारत ने पाकिस्तान को फाइनल में मात दी थी। भारत को इस जीत का फायदा सितंबर 2023 में चीन में होने वाले एशियन गेम्स में हो सकता है। साल 1990 से लगातार 2014 तक भारत ने एशियन गेम्स में कबड्डी का गोल्ड जीता लेकिन पिछली बार 2018 में ईरान ने पुरुष एवं महिला, दोनों वर्गों में गोल्ड हासिल किया। पुरुष टीम पिछली बार एशियन गेम्स में संयुक्त रूप से तीसरे नंबर पर रही।

App download animated image Get the free App now