'PKL 8 में मीतू शर्मा बनेंगे स्टार खिलाड़ी', हरियाणा स्टीलर्स के कोच राकेश कुमार ने किये कई बड़े खुलासे

Rahul
Photo Courtesy : Haryana Steelers (PKL 8)
Photo Courtesy : Haryana Steelers (PKL 8)

भारतीय कबड्डी का बड़ा नाम और प्रो कबड्डी लीग (Pro Kabaddi League) में हरियाणा स्टीलर्स (Haryana Steelers) के हेड कोच राकेश कुमार (Rakesh Kumar) किसी तारीफ़ के मोहताज नहीं हैं। राकेश कुमार ने भारतीय टीम और प्रो कबड्डी लीग में अपने दमदार खेल के जरिये सभी को प्रभावित किया है और अब एक कोच की भूमिका में वह नए खिलाड़ियों को तराश रहे हैं। स्पोर्ट्सकीड़ा से हुई ख़ास बातचीत में उन्होंने आगामी प्रो कबड्डी में हरियाणा टीम की तैयारियों और नए चेहरों को स्टार बनाने को लेकर अपनी बात रखी है।

इस सीजन आपने खिलाड़ियों की फिटनेस के ऊपर क्या अलग काम किया है?

हमने खिलाड़ियों की फिटनेस पर ध्यान 1 अक्टूबर से ही देना शुरू कर दिया था। मैं फ़िलहाल फिटनेस पर ज्यादा ध्यान न देते हुए खिलाड़ियों के खेल की बारीकियों पर ध्यान दे रहा हूँ। मेरी टीम के सभी के सभी खिलाड़ी पूरी तरह फिट हैं।

युवा रेडर मीतू शर्मा के बारे में बहुत कुछ अच्छा सुनने को मिल रहा है. उनको लेकर आप क्या कहेंगे?

मीतू शर्मा एक युवा खिलाड़ी हैं। उन्होंने जूनियर लेवल पर सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया है। राष्ट्रीय कबड्डी मैचों में उन्होंने दमदार खेल दिखाया था। नवीन, विकास और परदीप नरवाल की तरह ही यह खिलाड़ी भी कबड्डी का स्टार बनेगा। यह सिर्फ मेरा मानना नहीं है। हमारे से ऊपर दर्जे के कोच और खिलाड़ी मीतू शर्मा के खेल से काफी प्रभावित हैं।

आपके अनुसार क्या विकास कंडोला को कप्तानी की बड़ी जिम्मेदारी देना सही फैसला है, क्योंकि टीम में सुरेंदर नाडा और राजेश नरवाल जैसे दिग्गज मौजूद हैं?

विकास कंडोला के खेल पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा। विकास पहले भी स्टार खिलाड़ी था, अब भी स्टार है और आगे भी रहेगा। विकास में एक अच्छे लीडर बनने की काबिलियत है और आगामी लीग के मैचों में वह अपना कार्य 100 प्रतिशत करेंगे, इसमें मुझे कोई संदेह नहीं है।

विकास कंडोला को आप कप्तानी के क्या टिप्स दे रहें हैं?

मैं केवल विकास को यही समझाता हूँ कि आप की टीम में दोहरी भूमिका है। आप एक रेडर के रूप में भी खेलते हैं और कप्तान के रूप में भी। क्योंकि आपको भी अपना प्रदर्शन करके दिखाना है और साथ ही टीम के खिलाड़ियों से भी प्रदर्शन दिलवाना है। जैसा मैंने अपने करियर में नेतृत्व किया था मैं वैसा ही विकास को सीखा रहा हूँ और मुझे यकीन है कि वो इस कप्तानी की जिम्मेदारी को अच्छे से निभाएगा।

पहले मैच में पटना के खिलाफ मिली हार का क्या बड़ा कारण रहा?

पहले हाफ के बाद हमने पटना के स्टार रेडर मोनू गोयत को नजरअंदाज कर दिया था। अंत में सुरेंदर नाडा ने थोड़ी जल्दबाजी की जिसके कारण मैच हमारे हाथ से निकल गया, लेकिन हमें ये भी नहीं भूलना होगा कि उन्होंने मैच में हाई 5 हासिल किया था।

Quick Links

Edited by Rahul
Be the first one to comment