Create

3 दिग्गज खिलाड़ी जो PKL 8 में 10 रेड पॉइंट्स भी हासिल नहीं कर पाए हैं

Pro Kabaddi League, PKL 8 में इन रेडर्स ने किया है निराश
Pro Kabaddi League, PKL 8 में इन रेडर्स ने किया है निराश
reaction-emoji
मयंक मेहता

प्रो कबड्डी लीग (PKL) का 8वां सीजन बहुत ही जबरदस्त तरीके से इस समय बैंगलोर में चल रहा है। अभी तक जहां सभी टीमों ने 7-7 मुकाबले खेल लिए हैं। एक तरफ पिछले साल की फाइनलिस्ट दंबग दिल्ली (Dabang Delhi) एकमात्र ऐसी टीम है जोकि एक भी मैच नहीं हारी है, तो दूसरी तरफ तेलुगु टाइटंस (Telugu Titans) को PKL 8 में एक भी जीत नहीं मिली है।

When you realise all the top 5️⃣ teams in the points table are undefeated in their last five fixtures! 🤯Take a look at the updated points table after Match 42 of #SuperhitPanga 🎉Which team would you want to see at the 🔝 next week?#UPvDEL #MUMvTT #GGvPAT https://t.co/nvuNOzfbsy

दबंग दिल्ली की टीम अंक तालिका में सबसे पहले स्थान पर हैं, तो तेलुगु टाइटंस की टीम सबसे निचले स्थान पर है। नवीन कुमार, अर्जुन देशवाल, रिंकू, सुरजीत सिंह, मनिंदर सिंह, पवन सेहरावत जैसे खिलाड़ियों ने काफी ज्यादा प्रभावित किया है।

इसके अलावा परदीप नरवाल, श्रीकांत जाधव, के प्रपंजन, सुनील कुमार, अमित हूडा, धर्मराज चेरलाथन, नितेश कुमार जैसे खिलाड़ियों ने उम्मीद के मुताबिक प्रदर्शन नहीं किया। हालांकि कुछ रेडर्स ऐसे भी थे, जिनसे उम्मीद तो काफी थी, लेकिन वो पूरी तरह से नाकाम हुए और यहां तक कि 10 रेड पॉइंट्स भी हासिल नहीं कर पाए हैं।

इस आर्टिकल में ऐसे ही 3 दिग्गज रेडर्स के बारे में बताएंगे जोकि Pro Kabaddi League, PKL 8 में 10 रेड पॉइंट्स हासिल करने में कामयाब नहीं हुए:

#) रोहित कुमार, तेलुगु टाइटंस (5 मैचों में 4 पॉइंट्स)

Hello Titan Army !We are happy to announce @rohit.c.akki is going to lead YOUR TITANS FOR @prokabaddi season VIII#idiaatakaaduveta #Titanarmy #vivoProkabaddi https://t.co/Cs0B7iCd7j

PKL 8 में तेलुगु टाइटंस ने अपनी टीम में रोहित कुमार को शामिल किया और साथ ही में उन्हें टीम की कप्तानी भी दी गई। एक तरफ तेलुगु टाइटंस का प्रदर्शन काफी ज्यादा खराब अबतक रहा है और रोहित कुमार भी बुरी तरह फ्लॉप हुए हैं। रोहित कुमार ने PKL 8 में 5 मुकाबले खेले हैं, जिसमें उन्होंने सिर्फ 4 रेड पॉइंट्स हासिल किए हैं।

इस बीच रोहित कुमार ने अपनी टीम के लिए 24 रेड किए हैं, जिसमें उनके नाम 4 पॉइंट्स हैं। आपको बता दें कि इन मैच में से 2 मैच ऐसे भी थे जिनमें रोहित कुमार को एक भी पॉइंट नहीं मिला। रोहित कुमार की कोशिश ज्यादा से ज्यादा समय मैट पर रहते हुए टीम को संभालने पर है, लेकिन सिद्धार्थ देसाई चोटिल होने के कारण नहीं खेल पा रहे हैं और इसी वजह से रोहित कुमार से काफी उम्मीद थी।

हालांकि रोहित कुमार ने रेडिंग में काफी ज्यादा निराश किया है और वो पूरी तरह से फिट भी नजर नहीं आ रहे हैं। इसके अलावा गौर करने वाली बात यह है कि रोहित कुमार को दो मैचों में टीम में शामिल ही नहीं किया गया है। तेलुगु टाइटंस अंक तालिका में सबसे नीचे हैं और उन्होंने एक भी मैच नहीं जीता है। इसकी एक प्रमुख वजह रोहित कुमार की खराब फॉर्म भी है।

#) अजय ठाकुर, दबंग दिल्ली (4 मैचों में एक पॉइंट)

Hard work is the key of success https://t.co/gTRzAl77gq

भारतीय टीम के पूर्व कप्तान और दिग्गज खिलाड़ी अजय ठाकुर वैसे तो किसी पहचान के मोहताज नहीं है। उन्होंने अपने दम पर टीम को कई मैच जिताए हैं और इस लीग के ही नहीं बल्कि विश्व के सबसे जबरदस्त रेडर्स में से एक हैं। हालांकि PKL 8 में अजय ठाकुर छाप छोड़ने में कामयाब नहीं हुए हैं।

दबंग दिल्ली के मुख्य रेडर नवीन कुमार हैं और वो ही अपनी टीम के लिए ज्यादा से ज्यादा रेडिंग करते हुए पॉइंट्स हासिल कर रहे हैं। वैसे तो अजय ठाकुर को रेडिंग करने के ज्यादा मौके नहीं मिले हैं और उन्होंने भी मिले मौकों में कुछ खास नहीं किया है।

अजय ठाकुर ने PKL 8 में अभी तक 4 मैच खेले हैं, जिसमें उन्हें 7 रेड करने का मौका मिला और वो सिर्फ एक पॉइंट ही हासिल कर पाए हैं। इस बीच तीन मैच ऐसे रहे हैं, जहां उन्हें एक भी रेड पॉइंट नहीं मिला। पिछले कुछ मैचों से अजय ठाकुर को टीम में भी शामिल नहीं किया जा रहा है। हालांकि आने वाले मैचों में अगर ठाकुर को मौका मिलता है, तो निश्चित ही वो अपनी टीम के लिए अच्छा करना चाहेंगे।

#) राहुल चौधरी, पुनेरी पलटन (4 मैचों में 9 पॉइंट्स)

PKL इतिहास में राहुल चौधरी दूसरे सबसे ज्यादा रेड पॉइंट्स हासिल करने वाले खिलाड़ी हैं और उन्हें PKL 8 के लिए पुनेरी पलटन ने खरीदा था। पुनेरी पलटन को दिग्गज खिलाड़ी से काफी उम्मीद थी, लेकिन राहुल चौधरी PKL 8 में अभी तक पूरी तरह फ्लॉप हुए हैं और टीमों ने उन्हें रेडिंग में पॉइंट्स लाने ही नहीं दिए।

राहुल चौधरी ने अभी तक PKL 8 में 25 रेड किए हैं, जिसमें वो सिर्फ 9 रेड पॉइंट्स ही हासिल कर पाए हैं। इसके अलावा किसी भी मैच में वो पूरे 40 मिनट मैच का हिस्सा ही नहीं रहे और कोच अनूप कुमार ने लगातार सब्स्टीट्यूट किया। राहुल चौधरी को पिछले 3 मैचों से टीम में भी जगह नहीं मिली है। नितिन तोमर की गैरमौजूदगी में राहुल से काफी उम्मीद थी, लेकिन उन्होंने काफी ज्यादा निराश किया। अगर राहुल चौधरी को आने वाले मुकाबलों में मौका मिलता है तो वो निश्चित ही वो अपनी क्लास जरूर दिखाना चाहेंगे।

Edited by मयंक मेहता
reaction-emoji

Comments

Quick Links

More from Sportskeeda
Fetching more content...