Create
Notifications

"PKL 8 में हमारी कोशिश टॉप 2 में खत्म करने पर होगी" - बंगाल वॉरियर्स के प्रदर्शन को लेकर कप्तान मनिंदर सिंह से खास बातचीत 

PKL 8 में बंगाल वॉरियर्स के कप्तान मनिंदर सिंह का प्रदर्शन काफी अच्छा रहा है (Photo: Pro Kabaddi League)
PKL 8 में बंगाल वॉरियर्स के कप्तान मनिंदर सिंह का प्रदर्शन काफी अच्छा रहा है (Photo: Pro Kabaddi League)
मयंक मेहता
visit

प्रो कबड्डी लीग (PKL 8) में गत विजेता बंगाल वॉरियर्स (Bengal Warriors) ने पिछले कुछ मैचों में जबरदस्त लय हासिल की है और इसी वजह से अंक तालिका में उनकी स्थिति काफी बेहतर है। बंगाल की टीम ने अभी तक 13 मैच खेले हैं, जिसमें टीम ने 6 मैच जीते हैं और इतने ही मैचों में टीम को हार मिली है। इस बीच उन्होंने एक मैच टाई भी खेला है।

बंगाल वॉरियर्स ने अपने पिछले 5 में से 3 मैच जीते हैं, एक मैच उनका टाई रहा और एक में उन्हें हार मिली है। टीम के प्रदर्शन में कप्तान मनिंदर सिंह का बहुत बड़ा हाथ है और उन्होंने अभी तक शानदार प्रदर्शन किया है। मनिंदर सिंह ने 13 मैचों में 167 पॉइंट्स हासिल किए हैं और इस बीच उन्होंने 10 सुपर 10 भी लगाए हैं।

Skipper Maninder Singh racked up 1️⃣9️⃣ Raid Points, but #AamarWarriors fell short by 4️⃣ points against U.P. Yoddha.Onto the next challenge 💪🏼#BENvUP #vivoProKabaddi #SuperhitPanga https://t.co/Ueq5XXZYri

मनिंदर सिंह ने जयपुर पिंक पैंथर्स के खिलाफ मुकाबले से पहले स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी से खास बातचीत की। उन्होंने टीम के प्रदर्शन, अपनी फॉर्म, बायो-बबल और आने वाले मैचों के लिए रणनीति के बारे में भी बताया।

#) PKL 8 में बंगाल वॉरियर्स के अबतक के प्रदर्शन को आप किस तरह देखते हैं?

-) इस सीजन की शुरुआत में कुछ खिलाड़ी हमारे चोटिल हो गए थे और इसकी वजह से कुछ मैच हमारे खराब गए। हालांकि रण सिंह की वापसी से टीम को मजबूती मिली है और टीम सेट हो गई है। उनके आने के बाद हम सिर्फ एक मैच ही हारे हैं। प्रदर्शन टीम का अबतक सही रहा है और आने वाले मैचों में और अच्छा करने की कोशिश रहेगी।

#) बंगाल वॉरियर्स अच्छी शुरुआत के बाद कुछ मैच काफी बड़े अंतर से हारी। टीम ने वापसी के लिए क्या अलग किया और खिलाड़ियों को किस तरह मोटिवेट किया?

-) हमारे कॉर्नर खिलाड़ी रिंकू को चोट लगी थी और फिर हमने उन्हें रेस्ट दिया था। टीम को नए डिफेंस से खेलना पड़ा और इसी वजह से नतीजे हमारे पक्ष में नहीं गए। खिलाड़ियों को मोटिवेट करने के लिए हमने यह ही कहा कि हार नहीं माननी है। हर मैच नया है और हमें जीत हासिल करनी है। रण सिंह के आने से डिफेंस को मजबूती मिली है और पहले वाली दिक्कत नहीं आ रही है।

#) बंगाल वॉरियर्स आपके ऊपर काफी ज्यादा निर्भर करती है, दूसरे रेडर्स इतना प्रभावशाली प्रदर्शन क्यों नहीं कर पा रहे हैं?

-) हमारे पास काफी अच्छे रेडर्स हैं और वो अच्छा भी करेंगे। मैच की स्थित ऐसी होती है कि मुझे ज्यादा से ज्यादा रेड करनी होती हैं। अभी सुकेश हेगड़े अच्छा कर रहे हैं और आने वाले मैचों में दूसरे रेडर्स भी अपना काम अच्छे से करेंगे। इसके अलावा मोहम्मद नबीबक्श को हम डिफेंस में ज्यादा इस्तेमाल कर रहे हैं। हम इसके ऊपर प्लानिंग कर रहे हैं और कोच से भी बात होती है।

#) डिफेंडिंग चैंपियंस होने के कारण बंगाल वॉरियर्स के ऊपर इस सीजन अतिरिक्त दबाव है?

-) हमारे ऊपर ज्यादा दबाव नहीं है, क्योंकि पिछले सीजन में हमारी टीम अलग थी और इस सीजन में अलग है। हम हर मैच जीतने के लिए ही खेलते हैं। फैंस भी उम्मीद करते हैं कि हम पिछले सीजन की तरह इस साल भी जीते। हम कोशिश करेंगे और अब टीम सेटल हो रही है, तो अच्छा ही करेंगे।

#) PKL 8 में पिछले कुछ दिनों में लॉबी रूल काफी चर्चा में रहा है, आपकी इसे लेकर क्या राय है?

-) यह नियम सभी के लिए एक जैसा है। बेंगलुरु बुल्स की जगह हमारी टीम होती तो हमें भी इसे मानना पड़ता। पिछले सीजन में हमारे भी इसी नियम की वजह से 5 खिलाड़ी आउट हुए थे।

#) जयपुर पिंक पैंथर्स के खिलाफ मैच के लिए बंगाल वॉरियर्स की क्या रणानीति रहेगी?

-) जयपुर पिंक पैंथर्स के खिलाफ मैच हमारे लिए काफी खास रहता है। पिछले सीजन में भी जब हमारा आमना-सामना होता है तो बढ़िया मैच देखने को मिलता है। जयपुर मेरी पुरानी टीम है और उनके खिलाफ खेलने में काफी मजा आता है। हमारी कोशिश उनके खिलाफ ज्यादा से ज्यादा मैच जीतने पर होती है। इस बार भी हमारी कोशिश जीतने की होगी।

#) बंगाल वॉरियर्स का स्कोर डिफरेंस काफी खराब है, इसे बेहतर करने के लिए प्लानिंग चल रही है?

-) PKL में सभी टीमें बराबर की हैं और मैचों का फैसला भी एक-दो पॉइंट्स से ही हो रहा है। हमारा ध्यान स्कोर डिफरेंस के ऊपर है, क्योंकि यह काफी ज्यादा महत्वपूर्ण है। जब क्वालीफिकेशन की बात आएगी तो स्कोर डिफरेंस का अच्छा होना बहुत जरूरी है। हम एक मैच में इसे कवर नहीं कर सकते, लेकिन धीरे-धीरे इसे जरूर कम करेंगे।

#) सभी टीमें काफी समय से बायो-बबल में हैं, इसका कितना दबाव खिलाड़ियों के ऊपर रहता है?

-) इंसान जहां रहता है, वहां की उसे आदत हो जाती है। इधर हम काफी ज्यादा बिजी रहते हैं। ट्रेनिंग, जिम और भी चीज़ें हम करते हैं। इसी वजह से हमारा टाइम आसानी से निकल जाता है। हमारा काम कबड्डी खेलना है और कबड्डी काफी बढ़िया हो रही है।

#) बंगाल वॉरियर्स लीग स्टेज के बाद टॉप 2 में रह सकती है?

-) अभी सभी टीमों के काफी मैच रहते हैं और काफी रोमांचक मैच देखने को मिल रहे हैं। हमारी पूरी कोशिश टॉप 2 में खत्म करने पर ही होगी। टीम के नजरिए से देखूं तो रण सिंह के आने से काफी सुधार आया है और डिफेंस को भी फायदा मिला है।


Edited by मयंक मेहता
Article image

Go to article

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now