PKL 8 के प्लेऑफ में पहुंचने के लिए 8 टीमों को क्या करना होगा?

PKL 8 में पहुंचने के लिए टीमों को क्या करना होगा (Photo: Pro Kabaddi League)
PKL 8 में पहुंचने के लिए टीमों को क्या करना होगा (Photo: Pro Kabaddi League)

प्रो कबड्डी लीग (Pro Kabaddi League) के आठवें सीजन (PKL) के लीग स्टेज के सिर्फ तीन दिन और 9 मुकाबले रह गए हैं। प्ले-ऑफ के लिए टीमों के बीच रोमांचक जंग देखने को मिल रही है और आने वाले लगभग हर मुकाबले करो या मरो के हो चुके हैं। अभी तक पटना पाइरेट्स ने ही प्ले-ऑफ के लिए अपनी जगह कर ली है। इसके अलावा तीन टीमें प्लेऑफ से बाहर भी हो चुकी हैं।

PKL 8 में प्ले-ऑफ की रेस से कौन सी टीमें बाहर हो चुकी हैं?

अभी तक तीन टीमें प्ले-ऑफ की रेस से बाहर हो गई हैं। तेलुगु टाइटंस (21 मैचों में एक जीत और 27 पॉइंट) सबसे पहले इस दौड़ से बाहर हुई थी। इसके अलावा इसी हफ्ते गत विजेता बंगाल वॉरियर्स (21 मैचों में 8 जीत और 52 पॉइंट्स) और तमिल थलाइवाज (21 मैचों में 5 जीत और 47 पॉइंट्स) की टीमें भी अंतिम 6 की रेस से बाहर हो गई हैं।

PKL 8 में आज कौन सी टीम प्लेऑफ की रेस से बाहर हो सकती है?

आज PKL में कुल मिलाकर तीन मुकाबले खेले जाने वाले हैं। यूपी योद्धा का मुकाबला यू मुंबा, बेंगलुरु बुल्स का मैच हरियाणा स्टीलर्स और दबंग दिल्ली का मुकाबला पटना पाइरेट्स के खिलाफ होने वाला है। यू मुंबा आज मैच हारते ही प्लेऑफ की दौड़ से बाहर हो जाएगी और अगर वो जीतते भी हैं तो भी उनके प्लेऑफ में पहुंचने की उम्मीद काफी कम है।

बेंगलुरु बुल्स अगर अपना मैच हरियाणा स्टीलर्स के खिलाफ हारती है, तो उनके लिए भी प्ले-ऑफ में पहुंचना काफी मुश्किल हो जाएगा। उन्हें पूरी तरह से दूसरी टीमों के रिजल्ट्स के ऊपर निर्भर करना होगा।

PKL 8 में प्ले-ऑफ में किस टीम को क्या करना होगा?

-दबंग दिल्ली, यूपी योद्धा और हरियाणा स्टीलर्स एक मैच जीतकर प्ले-ऑफ के लिए क्वालीफाई कर जाएंगे।

-पुनेरी पलटन अगर अपने बचे हुए दोनों मुकाबले जीतते हैं तो वो प्ले-ऑफ के लिए क्वालीफाई कर जाएंगे। वो एक मैच जीतकर भी अंतिम 6 में जगह बना सकते हैं, लेकिन उसके लिए दूसरी टीमों के नतीजों पर उन्हें निर्भर करना होगा।

-बेंगलुरु बुल्स को आज का मैच जीतना होगा और साथ ही दूसरे मैचों के नतीजों का अपने पक्ष में जाने का इंतजार करना होगा।

-) जयपुर पिंक पैंथर्स अपना आखिरी मुकाबला अच्छे अंतर से जीतती है तो वो भी सीधे प्ले-ऑफ के लिए क्वालीफाई कर जाएंगे।

-) गुजरात जायंट्स को अपने बचे हुए दोनों मैच जीतने होंगे और उन्हें दूसरे मैचों के नतीजों पर निर्भर करना होगा।

Quick Links

Edited by Narender