Create

PKL 9 के लिए पुनेरी पलटन ने किया चौंकाने वाला बदलाव, अनूप कुमार की जगह दिग्गज को बनाया कोच 

Pro Kabaddi League के सीजन के लिए पुनेरी पलटन को मिला नया कोच (Photo: PKL)
Pro Kabaddi League के सीजन के लिए पुनेरी पलटन को मिला नया कोच (Photo: PKL)

प्रो कबड्डी लीग (PKL) के 9वें सीजन की शुरुआत कब होगी यह अभी कहना मुश्किल है, लेकिन टीमोें ने तैयारी करना अभी से शुरू कर दिया है। इस बीच पुनेरी पलटन ने अपनी टीम में चौंकाने वाला बदलाव करते हुए हेड कोच को बदल दिया है। अनूप कुमार (Anup Kumar) की जगह दिग्गज बीसी रमेश (BC Ramesh) को आगामी सीजन के लिए टीम का कोच बनाया गया है।

पुनेरी पलटन ने अपने आधिकारिक इंस्टाग्राम अकाउंट पर पोस्ट करके बीसी रमेश को हेड कोच बनाने का ऐलान किया। पुनेरी पलटन ने PKL 5 में बीसी रमेश की कोचिंग के अंडर ही प्लेऑफ तक का सफर तय किया था और उनकी उम्मीद एक बार फिर टीम के साथ अच्छा प्रदर्शन करने पर होगी।

बीसी रमेश ने पुनेरी पलटन का कोच बनने के बाद स्पोर्ट्सकीड़ा के साथ बात करते हुए कहा,

"मैं युवा खिलाड़ियों के साथ काम करने को लेकर काफी ज्यादा उत्साहित हूं। यह एक ऐसी टीम है, जिसके साथ पहले मैं काम कर चुका हूं और मैं वापसी करके काफी ज्यादा खुश हूं। मेरे कोशिश होगी कि सीजन 5 में हमने जो किया उसे दोहराया जा सकें। कोविड के कारण लगातार कैंप्स नहीं हो पाए हैं। इस बार ऑक्शन भी काफी अलग होने वाले हैं।"

आपको बता दें कि बीसी रमेश का प्रदर्शन बतौर कोच काफी जबरदस्त रहा है। वो सीजन 6 में बेंगलुरु बुल्स के सहायक कोच थे और टीम ने खिताबी जीत दर्ज की थी। इसके बाद सीजन 7 में वो बंगाल वॉरियर्स के कोच थे और टीम ने पहली बार टूर्नामेंट जीता था। हालांकि पिछला सीजन उनका बतौर कोच बिल्कुल भी अच्छा नहीं रहा था और टीम प्लेऑफ में नहीं पहुंच पाई थी।

PKL में अनूप कुमार कोचिंग में पुनेरी पलटन का प्रदर्शन कैसा रहा था?

अनूप कुमार को PKL सीजन 6 में पुनेरी पलटन का हेड कोच बनाया गया था, लेकिन उस सीजन में टीम का प्रदर्शन कुछ खास नहीं रहा था। हालांकि सीजन 8 में जरूर टीम ने प्ले-ऑफ तक का सफर तय किया, लेकिन वो टीम को खिताबी जीत दिलाने में कामयाब नहीं हुए।

अनूप कुमार को कोचिंग का दो सीजन का ही अनुभव है और अब देखना होगा कि पुनेरी पलटन के बाद वो PKL से किस रूप में जुड़े रहते हैं। बतौर खिलाड़ी अनूप कुमार ने PKL के दूसरे सीजन में यू मुंबा को पहली बार खिताबी जीत दिलाई थी।

Quick Links

Edited by मयंक मेहता
Be the first one to comment