Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

Pro Kabaddi 2018: बंगाल वॉरियर्स टीम की ताकत और कमजोरी पर एक नजर

Modified 21 Sep 2018, 20:22 IST
Advertisement
प्रो कबड्डी लीग शुरू होने में केवल मात्र 4 महीने का समय रहा गया है और ऐसे में सभी टीमों ने अपनी तैयारियां अभी से शुरू कर दी है, जबकि साल की शुरुआत में खत्म हुई नीलामी से ही कई टीमों की तैयारियां आगामी सीजन के लिए शुरू हो चुकी हैं। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी के माध्यम से आप सीजन 6 के लिए सभी टीमों का विशलेषण प्राप्त कर पा रहे हैं और आज भी एक ऐसी दमदार टीम के बारे में हम चर्चा करने जा रहे हैं, जिसने पिछले कई सीजन से ख़िताब का प्रबल दावेदार होने के उदाहारण दिए  हैं लेकिन यह टीम आखिरी मौके पर खिताब हासिल करने में नाकाम रहती है। बंगाल वॉरियर्स टीम के विषय में हम विस्तार से आप सभी को जानकारी देंगे। बंगाल की टीम के पास सीजन 6 में बेहतरीन प्रदर्शन करने के मौके होंगे। टीम की ताकत उसके पुराने खिलाड़ियों में दिखाएगी देगी, तो टीम की कमजोरी दिग्गज और युवा खिलाड़ियों की कमी रहने वाली है, जो मौकों को भुनाते हुए पूरे जोर के साथ टीम के लिए योगदान देते हुए नजर आते। टीम की ताकत बंगाल टीम की ताकत उसके दिग्गज खिलाड़ियों पर निर्भर है। कप्तान सुरजीत सिंह, रण सिंह, मनिंदर सिंह और कोरिया की शान जैंग कुन ली, यह 4 खिलाड़ी बंगाल की सबसे बड़ी ताकत हैं। डिफेंस में कप्तान सुरजीत सिंह दरामोदार संभाल कर रखते हैं, तो रेडिंग विभाग में मनिंदर सिंह और जैंग कुन ली का किसी टीम के पास कोई जवाब नहीं होता। इसके आलावा ऑलराउंडर के रूप में रण सिंह का शानदार खेल देखने को मिलता है। बंगाल की टीम आगामी सीजन में इन खिलाड़ियों के भरोसे चैंपियन बनने का ख्वाब देख रही, जो ये दिग्गज खिलाड़ी उम्दा खेल से पूरा कर सकते हैं। टीम की कमजोरी बंगाल वॉरियर्स की कमजोरी अपने दिग्गज खिलाड़ियों पर ज्यादा निर्भर रहना होगा, क्योंकि 3 महीने से भी ज्यादा चलने वाले इस टूर्नामेंट में दिग्गज खिलाड़ियों को चोट का भी सामना करना पड़ सकता है। इसलिए इन खिलाड़ियों पर ज्यादा निर्भर रहना भी टीम के लिए सही नहीं रहेगा। इसके साथ ही टीम के पास नए खिलाड़ियों के रूप में कोई जाना पहचाना चेहरा नहीं है, जिसके खेल को देख कर उसपर उम्मीदें की जा सके और यही टीम की सबसे बड़ी कमजोरी भी रहेगी। नए और युवा खिलाड़ियों के पास अपना दमखम दिखाने का मौका बंगाल वॉरियर्स ने आगामी सीजन के लिए इस बार नए खिलाड़ियों पर ज्यादा भरोसा जताया है। रेडर्स में जहाँ आशीष छोकर, महेश गौड़ और राकेश नरवाल जैसे अनुभवी और युवा खिलाड़ी मौजूद हैं, तो डिफेंस में कप्तान सुरजीत सिंह का साथ बलदेव सिंह और मनोज धुल देते नजर आयेंगे। इसके साथ ही ऑलराउंडर विभाग में श्रीकांत तेवतिया का अनुभव रण सिंह के साथ मैदान पर नजर आएगा। यह सभी खिलाड़ी कई सालों से कबड्डी लीग का हिस्सा रहे हैं लेकिन इनका प्रभाव दर्शकों के बीच कम ही रहा है। इसलिए इन खिलाड़ियों के पास मौका होगा कि सीजन 6 में नई शुरुआत के साथ यह सभी दमदार खेल दिखाएँ और अपना प्रभाव छोड़ें। इन खिलाड़ियों की खलेगी कमी सभी टीमों में बंगाल फ्रंचाइजी ने अपने पुराने खिलाड़ियों पर ही दांव खेला और सभी दिग्गज खिलाड़ी रिटेन करने के साथ वापस टीम में शामिल कर लिए। इसलिए एक या दो ही खिलाड़ी रहे, जिनका साथ बंगाल से आगामी सीजन के छूटा हो अन्यथा बंगाल की टीम से किसी बड़े खिलाड़ी के जाने की कमी नहीं खली है लेकिन दीपक नरवाल और विनोद कुमार जैसे दिग्गज खिलाड़ियों की कमी टीम को खल सकती है। इन दोनों खिलाड़ियों ने बंगाल के लिए पिछले सीजन में शानदार प्रदर्शन किया था।
Advertisement
प्रो कबड्डी सीजन 6 के लिए बंगाल वॉरियर्स की टीम: मनिंदर सिंह , जैंग कुन ली, महेश गौड़, अमित कुमार, अमित नागर, राकेश नरवाल, आशीष छोकर, मितिन कुमार, सुरजीत सिंह, जियाउर रहमान, विजिन थंगादुराई, मनोज धुल, अमीरस मोंडल, बलदेव सिंह, रण सिंह, श्रीकांत तेवथिया, विट्टल मेटी, भूपेंदर सिंह, रविंदर रमेश कुमावत।   Published 02 Jul 2018, 19:30 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now
❤️ Favorites Edit