COOKIE CONSENT
Create
Notifications
Favorites Edit

Pro Kabaddi 2018: यू मुम्बा टीम की ताकत और कमजोरी पर एक नजर

626   //    05 Jun 2018, 22:52 IST

प्रो कबड्डी लीग में पटना पाइरेट्स के बाद यदि किसी टीम को ट्रॉफी का दावेदार माना गया है, तो वह मुंबई फ्रंचाइजी की टीम यू मुम्बा है। यू मुम्बा का प्रदर्शन पिछले 2 सीजन से औसतन रहा है लेकिन पहले तीन सीजन की फाइनलिस्ट टीम को आगामी सीजन में कम नहीं आँका जा सकता। यू मुम्बा का प्रो कबड्डी इतिहास कप्तान अनूप कुमार की अगुआई में शानदार रहा है लेकिन सीजन 6 में टीम को अनूप कुमार का साथ देखने को नहीं मिलेगा। हाल में संपन्न हुई नीलामी में अनूप कुमार को यू मुम्बा ने रिटेन नहीं किया, जिसके चलते उन्हें जयपुर पिंक पैंथर्स ने अपनी टीम में शामिल कर लिया।

यू मुम्बा ने इस साल अपनी टीम में विदेशी खिलाड़ियों पर महंगा दांव खेला है और साथ ही भारतीय खिलाड़ियों में से कुछ चुनिन्दा अनुभवी खिलाड़ियों को अपनी टीम में शामिल किया है। दिग्गज विदेशी खिलाड़ियों में फ़जल अत्राचली और अबुलफज़ल मग्सुद्लू का नाम शामिल है, तो भारतीय खिलाड़ियों में टीम की कमान रोहित राणा, धर्मराज चेरालाथन के हाथ में होगी। यू मुम्बा की टीम पिछले 5 सीजन के मुकाबले आगामी सीजन के लिए कागज पर कमजोर दिखाई पड़ती है लेकिन कबड्डी दमखम का खेल है, जो यू मुम्बा के खिलाड़ियों में भरपूर देखने को मिलेगा।

टीम की ताकत

यू मुम्बा की टीम आगामी सीजन में नए खिलाड़ियों और नए कप्तान की अगुआई में मैदान पर उतरेगी। टीम की ताकत डिफेंस में बसी हुई है। यू मुम्बा के पास विश्व के सबसे दमदार डिफेंडर फ़जल अत्राचली के साथ दिग्गज धर्मराज चेरालाथन, अनुभवी रोहित राणा और युवा सुरिंदर सिंह मौजूद हैं। फ़जल अत्राचली को वापस यू मुम्बा की टीम में शामिल करने के लिए मुंबई फ्रंचाइजी ने रिकॉर्ड 1 करोड़ की बोली लगाई और टीम का डिफेंस मजबूत बनाया है।

टीम की कमजोरी

डिफेंस में दिग्गज और अनुभवी खिलाड़ियों की मौजूदगी से टीम की ताकत नजर आती है, तो कमजोरी के रूप में टीम का रेडिंग पक्ष और अनुभवी ऑलराउंडर खिलाड़ियों की गैरमौजूदगी दिखाई पड़ता है। अबुलफज़ल मग्सुद्लू, दर्शन कादयान और रोहित बालियान के आलावा टीम के पास कोई भी अनुभवी रेडर मौजूद नहीं, जिसके कारण टीम इस विभाग में कमजोर दिखाई देती है और साथ ही ऑलराउंड खेल में भी टीम का पक्ष बेहद कमजोर है।

नए कप्तान के पास यू मुम्बा को मजबूत दावेदार बनाने का मौका

प्रो कबड्डी नीलामी में अनूप कुमार का साथ यू मुम्बा से छुट गया, जिसके चलते किसी अनुभवी या दिग्गज खिलाड़ी पर कप्तानी का दारोमदार आ सकता है। इस लिस्ट में फ़जल अत्राचली और धर्मराज चेरालाथन का नाम सबसे ऊपर चल रहा है, जिन्हें आगामी सीजन के लिए टीम का कप्तान चुना जा सकता है। अनूप कुमार की विरासत को बनाये रखने के लिए नए कप्तान के पास अवसर होगा कि वह यू मुम्बा को आगामी सत्र के लिए विजेता होने का दावेदार बनाये और टीम को टॉप टीमों में सम्मलित करने का प्रयास करें।

इन खिलाड़ियों की खलेगी कमी

यू मुम्बा को नीलामी में सबसे बड़ा नुकसान अपने अनुभवी कप्तान अनूप कुमार को रिटेन न करने का हुआ। इसके साथ ही नीलामी में टीम ने उन्हें वापस खरीदने का मौका भी गँवा दिया। अनूप की कप्तानी में यू मुम्बा 3 बार फाइनल में जगह बना चुकी है, तो एक बार टीम ने ट्रॉफी को अपने नाम किया था। अनूप कुमार के साथ दिग्गज खिलाड़ी शब्बीर बापू और काशिलिंगे अड़के की कमी भी टीम को बखूबी खलेगी।

प्रो कबड्डी सीजन 6 के लिए पूर्व विजेता यू मुम्बा की टीम:

फज़ल अत्राचली, अभिषेक सिंह, सिद्धार्थ देसाई , अबुलफज़ल मग्सुद्लू, विनोद कुमार, दर्शन कादियान, रोहित बलियान, आर श्रीराम, अर्जुन देशवाल, गौरव कुमार, धर्मराज चेरालाथन, राजगुरु, रोहित राणा, हादी ताजिक, सुरिंदर सिंह, आदिनाथ गवाली, इ सुभाष, शिव ओम, अनंत कुमार, मोहित बलियान।

Fetching more content...