Create
Notifications

प्रो कबड्डी 2019: नीलामी में सबसे ज़्यादा खर्च करने वाली 5 टीमें

Enter caption
Neeraj
visit

प्रो कबड्डी लीग के सातवें सीजन के लिए नीलामी हो चुकी है और फ्रेंचाइजियों ने इस सीजन बेहतरीन टीम बनाने के लिए खूब पैसे खर्च किए हैं। सभी 12 टीमों ने कुल मिलाकर इस सीजन 50 करोड़ रूपए खर्च किए हैं। चार करोड़ से ऊपर की राशि खर्च कर सकने की अनुमति होने की वजह से कोच और टीम के मालिकों ने अपने पसंदीदा खिलाड़ियों खरीदने और कुछ खिलाड़ियों को रिटेन करने में खूब तेजी दिखाई।

तेलुगु टाइटंस ने छठे सीजन में शानदार प्रदर्शन करने वाले सिद्धार्थ देसाई को 1 करोड़ 45 लाख रूपए में खरीदा तो वहीं पुनेरी पलटन ने 1 करोड़ 20 लाख रूपए देकर नितिन तोमर को रिटेन किया है। नीलामी समाप्त होने तक सभी 12 टीमों ने पर्याप्त 18-18 खिलाड़ी अपनी टीम में शामिल कर लिए थे।

हालांकि, पहले दिन की अपेक्षा दूसरे दिन नीलामी में बहुत बड़ूी बोलियां नहीं लगी। पहले दिन करोड़ी क्लब के टूटने के बाद नीरज कुमार दूसरे दिन के सबसे महंगे खिलाड़ी रहे जिन्हें पटना पायरेट्स ने 44.75 लाख रूपए में खरीदा। एक नजर डालते हैं उन 5 टीमों पर जिन्होंने इस नीलामी में सबसे ज़्यादा पैसे खर्च किए।

#5 पटना पाइरेट्स (269.75 लाख)

प्रो कबड्डी लीग खिताब को तीन बार जीतने वाली पटना पाइरेट्स शांत बैठने वालों में से नहीं है और पिछले सीजन अपना खिताब नहीं बचा पाने के बाद इस सीजन वे दोबारा उसे हासिल करने की कोशिश करेंगे। पटना ने कोरिया के जैंग कुन ली को 40 लाख रूपए तो वहीं ईरान के शानदार खिलाड़ी मोहम्मद मग्सुद्लू को 35 लाख रूपए में खरीदा है।

दोनों ही खिलाड़ी एक बार फिर से पटना के शानदार दिनों को वापस लाने की कोशिश करेंगे। सुरेंदर नाडा टीम के लिए काफी बढ़िया खरीद साबित हो सकते हैं क्योंकि लेफ्ट-कॉर्नर डिफेंडर अपने अनुभव का इस्तेमाल करते हुए पटना के लिए 44.75 लाख रूपए में बिककर सबको चौंका देने वाले नीरज कुमार को असिस्ट करेंगे।

#4 यूपी योद्धा (309.25 लाख)

Enter caption

उत्तर प्रदेश की फ्रेंचाइजी ने प्रो कबड्डी लीग के पांचवें सीजन में अपना डेब्यू किया, लेकिन प्ले-ऑफ में पहुंचकर उन्होंने अपना प्रभुत्व दिखाया था। पिछले सीजन भी यूपी प्ले-ऑफ में पहुंची थी और इस सीजन वे रिशांक देवाडिगा, मोनू गोयत और श्रीकांत जाधव की बदौलत एक बार फिर से शानदार प्रदर्शन करने की कोशिश करेंगे। पिछले सीजन 1.5 करोड़ रूपए से ज़्यादा की कीमत में बिकने वाले मोनू गोयत को इस सीजन यूपी ने 93 लाख रूपए में खरीदा है तो वहीं श्रीकांत जाधव को 68 लाख और रिशांक देवाडिगा को 61 लाख रूपए में खरीदा गया है।

ईरान के मोहसेन मघसूद्लू को 21 लाख रूपए में खरीदा गया और उनका अनुभव टीम के काफी काम आएगा। डिफेंडर गुलवीर सिंह को 10 लाख रूपए में खरीदा गया तो वहीं आल-राउंडर सुरेंदर सिंह और गुरदीप को भी 10-10 लाख रूपए में खरीदा गया। पिछले सीजन शानदार प्रदर्शन करने वाले डिफेंडर नितेश कुमार और सचिन कुमार को रिटेन किया गया है।

#3 बंगाल वारियर्स (319 लाख)

Enter caption

बंगाल वारियर्स ने ईरान के दो खिलाड़ियों को साइन करके अपनी टीम को और भी मजबूत किया है। बंगाल ने डिफेंडर मोहम्मद इस्माइल नबीबख्श को 77.75 लाख रूपए में खरीदा तो वहीं आल-राउंडर मोहम्मद ताघी के लिए टीम ने 15.5 लाख रूपए खर्च किए। वारियर्स ने रेडर सुकेश हेगड़े को 20 लाख रूपए में खरीदा है तो वहीं अनुभवी डिफेंडर जीवा कुमार के लिए टीम ने 31 लाख रूपए खर्च किए।

बंगाल एक ऐसी टीम रही है जो लगातार सुधार करती रही है और सीजन दर सीजन बंगाल के प्रदर्शन में सुधार आया है। इस सीजन लगभग 320 लाख रूपए खर्च करने वाली बंगाल उम्मीद कर रही होगी कि वे इस सीजन में अपना सबसे बेस्ट प्रदर्शन करें। 16.25 लाख रूपए में बंगाल आने वाले राकेश नरवाल टीम में सुकेश हेगड़े के साथ आक्रामक रेडिंग यूनिट बनाएंगे तो वहीं 20 लाख रूपए में टीम में आने वाले रिंकू नरवाल डिफेंस में अहम भूमिका निभाते नजर आएंगे।

#2 तेलुगु टाइटंस (352 लाख)

Enter caption

टाइटंस ने इस सीजन की नीलामी में खुलकर पैसे खर्च किए। पिछले सीजन यू मुंबा के लिए धमाकेदार प्रदर्शन करने वाले युवा खिलाड़ी सिद्धार्थ देसाई को खरीदने के लिए टाइटंस ने सबको पीछे छोड़ते हुए 1 करोड़ 45 लाख की बोली लगाई और उन्हें अपने साथ जोड़ा। विशाल भारद्वाज को 60 लाख रूपए में दोबारा साइन किया गया तो वहीं दिग्गज डिफेंडर अबोजार मिघानी ने भी 75 लाख रूपए की कीमत में टीम में जगह बनाई।

कुछ चुनिंदा खिलाड़ियों पर ही ज़्यादा से ज़्यादा पैसे खर्च करना टाइटंस की रणनीति रही थी और वे उम्मीद करेंगे कि इस बार उनकी टीम अपने फैंस को बढ़िया रिजल्ट देने में सफल रहेगी। टाइटंस ने एक स्टार को रिलीज करके उसे उभरते स्टार से रिप्लेस करने की कोशिश की है। टाइटंस के पहले सीजन से ही टीम का चेहरा रहने वाले प्रो कबड्डी के पोस्टर ब्वॉय राहुल चौधरी को टाइटंस ने रिलीज किया और उनकी जगह सिद्धार्थ देसाई को लेकर आए हैं।

#1 पुनेरी पलटन (395.45 लाख)

Enter caption

पुनेरी पलटन ने एक भी खिलाड़ी को रिटेन नहीं किया था और उन्होंने पूरी तरह से नई टीम बनाने की योजना बनाई थी। नितिन तोमर के लिए टीम ने 1 करोड़ 20 लाख रूपए खर्च करके सबको चौंका दिया। टीम में दर्शन कादियान और पवन कुमार के रूप में दो अन्य रेडर्स भी हैं जिन्हें पलटन ने 20-20 लाख रूपए में खरीदा है। पिछले सीजन पटना पाइरेट्स के लिए खेलने वाले रेडर मंजीत कुमार को पुनेरी ने 63 लाख रूपए में खरीदा जो कि उनके पिछले साल (20.4 लाख) की कीमत का तीन गुना है।

गिरीश एर्नाक के लिए टीम ने 33 लाख रूपए खर्च किए तो वहीं सुरजीत सिंह को 56 लाख रूपए में खरीदा और ये दोनों खिलाड़ी डिफेंस को मजबूती देंगे। मैट पर बढ़िया प्रदर्शन करने के बावजूद पुनेरी प्ले-ऑफ से आगे का सफर नहीं तय कर सकी है, लेकिन इस सीजन टीम और फैंस दोनों ही इसमें बदलाव की उम्मीद कर रहे हैं।

Edited by सावन गुप्ता

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...
Article image

Go to article
App download animated image Get the free App now