Create
Notifications
Advertisement

स्पोर्ट्सकीड़ा एक्सक्लूसिव: मैं उम्मीद करता हूं कि हम दबंग दिल्ली को पहली बार चैंपियन बनाएंगे- जोगिंदर नरवाल

  • दबंग दिल्ली सातवें सीजन में अभी तक सिर्फ 1 ही मुकाबला हारी है
FEATURED COLUMNIST
विशेष
Modified 26 Aug 2019, 15:56 IST

दबंद दिल्ली के.सी
दबंद दिल्ली के.सी

प्रो कबड्डी 2019 में दबंग दिल्ली इकलौती ऐसी टीम है, जोकि अबतक सिर्फ एक ही मुकाबला हारी है और टीम का जबरदस्त प्रदर्शन देखने को मिल रहा है। दबंग दिल्ली ने अबतक खेले 9 में से 7 मुकाबले जीते हैं, एक मैच उनका टाई रहा और एक मैच में उन्हें शिकस्त मिली। दिल्ली की टीम इस समय 39 अंकों के साथ पहले स्थान पर हैं।

दिल्ली की टीम इस समय अपने होम लेग के पहले मुकाबले खेल रही हैं और टीम ने अबतक हुए दोनों मुकाबलों में जीत दर्ज करते हुए बेंगलुरु बुल्स और यूपी योद्धा को शिकस्त दी। दिल्ली को अभी अपने होम लेग में यू मुंबा और पटना पाइरेट्स के खिलाफ मैच और खेलने हैं। हालांकि जिस तरह टीम का प्रदर्शन चल रहा है, वो टॉप 2 में जगह बनाने के प्रबल दावेदार नजर आ रहे हैं।

25 अगस्त को यूपी योद्धा के खिलाफ मिली बेहतरीन जीत के बाद दबंग दिल्ली के कप्तान जोगिंदर नरवाल ने स्पोर्ट्सकीड़ा के साथ खास बातचीत की, जिसमें उन्होंने टीम के प्रदर्शन और अपनी निजी फॉर्म के बारे में भी बात की:

सवाल: प्रो कबड्डी 2019 में दबंग दिल्ली के प्रदर्शन को अबतक आप किस तरह देखते हैं:

जवाब: हमने अबतक अच्छा प्रदर्शन किया। होम लेग के पहले मैच में हमने बेंगलुरु बुल्स को हराया, जिसमें कई बड़े खिलाड़ी शामिल हैं। इसके बाद हमने यूपी योद्धा को हराया, वो टीम भी मजबूत थी। मैं अपनी टीम के प्रदर्शन से संतुष्ट हूं और मैं टीम को साथ लेकर चलता हूं। मेरे लिए यह नहीं है कि मैं टूर्नामेंट का बेस्ट प्लेयर बनू, मेरे लिए यह बातें बिल्कुल अहमियत नहीं रखती। टीम का जीतना मेरे लिए सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण हैं, फिर चाहे कोई भी खिलाड़ी उस जीत में अहम भूमिका निभाए।

सवाल: इस सीजन राहुल चौधरी, रोहित कुमार जैसे बड़े खिलाड़ी इतना अच्छा नहीं कर पा रहे हैं, लेकिन युवा खिलाड़ी जैसे नवीन कुमार या विकास कंडोला वो लगातार अच्छा कर रहे हैं। उसके पीछे आपको क्या कारण लगता है?

जवाब: कोई भी खिलाड़ी जब खेलने के लिए आता है, तो वो अपनी टीम के लिए अच्छा ही करना चाहता है। हालांकि कई बार जो खिलाड़ी करना चाहता है, वो नहीं हो पाता है। यह खेल ही में नहीं बल्कि असल जिंदगी में भी हो जाता है, कोई करता कुछ है और हो कुछ और जाता है। वो भी काफी अच्छे खिलाड़ी है और भारत के लिए अच्छा किया है। जो नए खिलाड़ी हैं, मुझे उनके ऊपर गर्व और कबड्डी इतनी ऊपर जा रही है। खासकर जिस तरह युवा खिलाड़ी अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं।

सवाल: दबंग दिल्ली पिछले सीजन में पहली बार प्ले ऑफ के लिए क्वालीफाई की थी और इस बार भी टीम टॉप पर चल रही है, तो आगे जाकर क्या रणनीति रहने वाली है?

जवाब: कोशिश तो पिछली बार भी थी कि हम फाइनल ही खेले, लेकिन हम वहां तक नहीं पहुंच पाए। मैं आशा तो यह ही करता हूं कि टीम इतना अच्छा कर रही है, तो हम फाइनल खेले और दिल्ली को पहली बार चैंपियन बनाए।

सवाल: क्या आप अपनी फॉर्म को लेकर संतुष्ट है और साथ ही में जिस तरह टीम लगातार जीत रही है, तो खिलाड़ियों में अतिआत्मविश्वास आ जाता है, तो उसका किस तरह ख्याल रखा जाता है?

Advertisement

जवाब: मैं अपनी फॉर्म को लेकर काफी संतुष्ट हूं। मैंने पहले भी कहा है कि मैं टीम के लिए खेलता हूं और कबड्डी एक टीम गेम है। मेरे लिए टीम का जीतना ही सबसे महत्वपूर्ण है। मेरी टीम में आत्मविश्वास है, लेकिन अतिआत्मविश्वास नहीं है। हम किसी भी टीम को कभी भी अपने से कम नहीं समझते हैं। हम बस कबड्डी खेलने के लिए उतरते हैं और वो ही काम अबतक हमने किया भी है।


Published 26 Aug 2019, 15:47 IST
Advertisement
Fetching more content...
Get the free App now
❤️ Favorites Edit