Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

स्पोर्ट्सकीड़ा एक्सक्लूसिव: मुझे परदीप नरवाल के रिकॉर्ड की बराबरी करके काफी अच्छा लग रहा है- नवीन 'एक्सप्रेस'

FEATURED WRITER
विशेष
29 Aug 2019, 15:31 IST

नवीन एक्सप्रेस ने की परदीप नरवाल के रिकॉर्ड की बराबरी
नवीन एक्सप्रेस ने की परदीप नरवाल के रिकॉर्ड की बराबरी

दबंग दिल्ली का प्रदर्शन प्रो कबड्डी लीग के सातवें सीजन में बेहतरीन चल रहा है और टीम इस समय 44 अंकों के साथ पहले स्थान पर हैं। वैसे तो पूरी टीम काफी अच्छा कर रही है, लेकिन अपना सिर्फ दूसरा ही सीजन खेल रहे नवीन 'एक्सप्रेस' ने अपने प्रदर्शन से सभी को काफी प्रभावित किया।

नवीन ने इस सीजन अबतक खेले 10 मुकाबलों में 9 सुपर 10 की मदद से अभी तक 116 पॉइंट हासिल किए हैं। दिल्ली के इस युवा रेडर ने 27 अगस्त को यू मुंबा के खिलाफ हुए मुकाबले 11 रेड पॉइंट हासिल किए और इसके साथ ही यह उनका इस सीजन का लगातार आठवां सुपर 10 है। नवीन ने पटना पाइरेट्स के कप्तान परदीप नरवाल के रिकॉर्ड की बराबरी की, जिन्होंने भी लगातार 8 सुपर 10 लगाए हुए हैं।

यू मुंबा के खिलाफ हुए मैच के बाद नवीन ने स्पोर्ट्सकीड़ा के साथ बातचीत की, आइये नज़र डालते हैं उनके साथ हुए बातचीत के मुख्य अंशों पर:

-यू मुंबा के खिलाफ आपने काफी अच्छा किया और इस सीजन का नौवां सुपर 10 लगाया, अपने प्रदर्शन को लेकर क्या कहना है आपको?

-मुझे काफी अच्छा लग रहा है, टीम के लिए खेल रहा हूं और मेरा प्रदर्शन भी काफी अच्छा चल रहा है। परदीप नरवाल स्टार रेडर हैं और उनके द्वारा बनाए गए रिकॉर्ड की बराबरी करके अच्छा लग रहा है। खासकर टीम के प्रदर्शन में अपना योगदान भी दे पा रहा हूं, तो काफी खुशी हो रही है।

-यह आपका दूसरा ही सीजन है, तो आपने अपनी रेडिंग के ऊपर किस तरह का काम किया?

-पिछले सीजन में भी टीम के लिए काफी अच्छा करना चाहता था, लेकिन कुछ गलतियां हुई थी। इस बार जो कैंप लगा, तो उसमें कोच ने मुझे मेरी गलतियों के बारे में बताया। दो महीने मैंने अपनी कमजोरियों पर काम किया। मुझे टीम से अच्छा समर्थन मिल रहा है, जिससे आत्मविश्वास भी बढ़ता है। इसी वजह से मैं इतना अच्छा कर पा रहा हूं।

-आपका कबड्डी में आना का मुख्य कारण क्या रहा और परिवार की तरफ से किस तरह का समर्थन मिला?

-मैंने 11 साल की उम्र में स्कूल में खेलना शुरु किया था। मैंने कभी यह नहीं सोचा था कि इतना आगे आ पाऊंगा। हालांकि गांव में सिर्फ कबड्डी ही था, तो इसी खेल को चुना। कबड्डी के साथ पढ़ाई के लिए भी समय निकालना होता था। पढ़ाई से एक घंटा पहले ही प्रैक्टिस करके स्कूल जाते थे। स्कूल गेम्स में गोल्ड भी जीता और सभी की तरफ से काफी सपोर्ट मिला।

-इस सीजन राहुल चौधरी, रोहित कुमार जैसे दिग्गज रेडर्स का प्रदर्शन इतना खास नहीं रहा, लेकिन आप इतना अच्छा कर रहे हैं। आपको इसके पीछे का क्या कारण लगता है?

Advertisement

-वो काफी बड़े खिलाड़ी हैं, उन्हें भी सात सीजन हो गए हैं खेलते हुए। उनको देखकर ही हम लोग भी आए हैं, लेकिन कभी-कभी हो जाता है, जब परफॉर्मेंस नहीं आती। मुझे खुशी है कि मैं टीम के लिए काफी अच्छा कर रहा हूं।

-मौजूदा दौर में फिटनेस का काफी महत्व है, पीकेएल का सीजन काफी लंबा होता है, तो अपने आप को फिट रखने के लिए आप क्या करते हैं?

-हमारे पास फिजियो, ट्रेनर और कोच हैं, जोकि हमें मैच के हिसाब से अभ्यास कराते हैं। हमारे ट्रेनर फिटनेस का खास ख्याल रखते हैं और कोई इंजरी होती है, तो उसका ट्रीटमेंट करते हैं। इसी वजह से हमारी टीम काफी फिट हैं और कुछ होता भी है, तो हम जल्द रिकवर कर जाते हैं।

-प्रो कबड्डी लीग में आपका आगाज काफी शानदार रहा है, आगे जाकर कोई खास रिकॉर्ड जिसे आप तोड़ना चाहते हैं?

-रिकॉर्ड तो टूटने के लिए ही बनते हैं, मुझे बस टीम के लिए खेलना है, क्योंकि टीम आगे जाएगी, तो रिकॉर्ड़ अपने आप ही बनेंगे। मुझे बस अच्छा ही करना है।

-अगला मैच आपका पटना पाइरेट्स के खिलाफ हैं। आपने कहा कि परदीप नरवाल के रिकॉर्ड की बराबरी करके अच्छा लग रहा है, उस मैच के लिए कोई खास तैयारी:

-होम लेग का एक मैच बचा है, तैयारी बस यह है कि उस मुकाबले को जीतना है। एक दिन है और कोच उस मैच के लिए रणनीति तैयार करेंगे।

-कबड्डी के अलावा और कोई खेल आप फॉलो करते हैं और आपका पसंदीदा खिलाड़ी?

-मैं बस कभी-कभी क्रिकेट देख लेता हूं। रोहित शर्मा मेरे पसंदीदा खिलाड़ी हैं।

Tags:
Advertisement
Advertisement
Fetching more content...