Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

प्रो कबड्डी सीजन 7: बंगाल वॉरियर्स टीम का विश्लेषण

Rahul Pandey
ANALYST
फ़ीचर
Published May 10, 2019
May 10, 2019 IST

बंगाल वारियर्स ने इस सीजन में कुछ महत्वपूर्ण खिलाड़ी खरीदें हैं

बंगाल वॉरियर्स वह टीम है जो हर सीज़न बेहतर होती चली जा रही है,सीजन छह में यह टीम एलिमिनेटर तक पहुँचने में सफल रही थी। सीज़न पांच में डिफेंडर सुरजीत सिंह के नेतृत्व में, वॉरियर्स ने पहली बार प्लेऑफ़ में जगह बनाई और छठे सीज़न के लिए अपने कप्तान को बनाए रखा, इसके अलावा रेडर मनिंदर सिंह को भी उन्होंने टीम में बनाये रखा था।

हालांकि, सीजन सात की नीलामी से पहले, बंगाल वॉरियर्स ने रवींद्र रमेश कुमावत, बलदेव सिंह और आदर्श टी जैसे युवा सितारों के साथ मनिंदर सिंह को बरकरार रखा, लेकिन जैंग कुन ली और कप्तान सुरजीत सिंह के टीम से रिलीज़ होने के बाद, अब टीम को मनिंदर सिंह के इर्द गिर्द मजबूती के साथ खड़ा करना होगा।

नीलामी में बंगाल वॉरियर्स का प्रदर्शन ?

नीलामी की शुरुआत से ही यह टीम सुर्खियों में थी, क्योंकि उन्होंने ईरानी ऑलराउंडर मोहम्मद नबीबख्श के रूप में लीग के इतिहास का दूसरा सबसे महंगा विदेशी खिलाड़ी खरीद लिया था। टीम ने उनके लिए 77.75 लाख की बोली लगाई थी और बाद में 15.5 लाख में उन्हीं के देश के मोहम्मद तगही को साइन किया।

नबीबख्श के साथ मनिंदर सिंह की जगह भरने के लिए और रक्षा पंक्ति मजबूत करने के लिए अनुभवी डिफेंडर जीवा कुमार (₹ 31 लाख) और कार्नर डिफेंडर रिंकू नरवाल (₹ 20 लाख) को खरीदा।

इसके अलावा रेडिंग क्षमता बढ़ाने के लिए बंगाल वॉरियर्स ने अनुभवी रेडर के प्रपंजन को 55.5 लाख के रूप खरीदा। दूसरे दिन वॉरियर्स ने आगे बढ़कर खरीदारी की और उन्होंने राकेश (₹16.25 लाख) को बनाए रखने के लिए अपने 'फाइनल बिड मैच' कार्ड का उपयोग करने से पहले एआर अविनाश (₹10 लाख), अमित धूमल (₹10 लाख) और धर्मेंद्र सिंह (₹10 लाख) को खरीदा। इसके अलावा अमित को रोस्टर में ₹ 17.5 लाख में खरीदा।

अनकैप्ड खिलाड़ियों की सूची से, सुकेश हेगड़े (₹20 लाख) और विराज विष्णु लांडे (₹10 लाख) को खरीदा, जबकि भुवनेश्वर गौड़ को ₹ 10 लाख में टीम का हिस्सा बनाया।

वॉरियर्स को किन समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है?

बंगाल वॉरियर्स के पास मनिंदर सिंह, के प्रपंजन, मोहम्मद नबीबख्श और सुकेश हेगड़े के रूप में एक बेहद मजबूत रेडिंग इकाई है, लेकिन असली समस्या उनकी रक्षा पंक्ति में स्टार खिलाड़ियों की कमी इस टीम को परेशान कर सकती है।

हालाँकि जीवन कुमार निश्चित रूप से टीम के लिए अनुभव में लाते हैं, लेकिन पिछले सीजन में यूपी के लिए खेलते हुए वह सर्वश्रेष्ठ फॉर्म में नहीं थे और बलदेव सिंह कुछ ज्यादा ही आक्रामक साबित हो रहे थे, ऐसे में टीम को सुरजीत सिंह या रण सिंह की कमी निश्चित रूप से खलेगी।

Advertisement

बंगाल वॉरियर्स टीम:

रेडर: मनिंदर सिंह, रवींद्र रमेश कुमावत, मोहम्मद तागी, के प्रपंजन, सुकेश हेगड़े, अमित कुमार, राकेश नरवाल, भुवनेश्वर गौड़।

ऑलराउंडर्स: मोहम्मद नबीबख्श, अमीर संतोष धूमल, एआर अविनाश।

डिफेंडर्स: जीवा कुमार, बलदेव सिंह, आदर्श टी, विराज लांडे, रिंकू नरवाल, विजिन थंगादुरई, धर्मेंद्र सिंह, साहिल (एनवाईपी)

Advertisement
Advertisement
Fetching more content...