Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

Pro Kabaddi 2017, सीजन 5: सबसे मजबूत आक्रमण वाली 5 टीमें

Modified 13 Jul 2017, 17:39 IST
Advertisement
अगर कबड्डी की बात आती है तो सबसे पहले चर्चा टीम के रेडर्स की होती है। रेडर्स वो होते हैं जो अपनी चुस्ती और फुर्ती से कब सामने वाले पर अटैक कर आते हैं यह पता ही नहीं चलता हैं। रेडर्स का काम ना सिर्फ समय-समय पर टीम की अंकतालिका को बढाते रहना है बल्कि अपनी चालाकी और आक्रमण से विरोधियों को चारों खाने चित करना भी होता है। आक्रमण किसी भी खेल को जीतने का सबसे महत्वपूर्ण पक्ष होता है, जो ना सिर्फ टीम को जीत दिलाने में निर्णायक भूमिका निभाता है बल्कि टीम में जोश और जज्बा भी भरता है। कबड्डी में आक्रमण सबसे मजबूत पहलू होता है और ये पाया जाता है कि जिस टीम का आक्रमण सबसे मजबूत खेल दिखाता है सफलता भी उसी टीम के कदम चूमती है। ऐसे में आज बतायेंगे प्रो कबड्डी लीग में पांचवें संस्करण की वो पांच मजबूत अटैक वाली टीमें, जिनके पास हैं श्रेष्ठ रेडर्स- हरियाणा स्टीलर्स नई टीमों में से एक हरियाणा स्टीलर्स ने अपनी टीम में बेहद ही समझदारी के साथ रेडर्स का चुनाव किया है। हरियाणा ने सोनू नरवाल और सीपीओ सुरजीत सिंह जैसे बेहतरीन रेडर्स को अपनी टीम में शामिल किया है, जिनके खाते में सामूहिक रूप से 239 रेड प्वाइंट दर्ज हैं, ऐसे में अगर ये दोनों खिलाड़ी चल निकले तो हरियाणा को हराना बेहद मुश्किल हो जायेगा क्योंकि हरियाणा के पास सुरेन्दर नाडा और मोहित छिल्लर जैसे बेस्ट डिफेंडर टीम में शामिल हैं, जो उन्हें दाएं और बाएं दोनों ही तरफ से सुरक्षा देंगे। इसके अलावा हरियाणा के पास ऐसे कई धुरंधर खिलाड़ी शामिल हैं जो अटैक की जिम्मेदारी को बखूबी निभाते नजर आयेंगे। जिसमें युवा ब्रिगेड यानि दीपक दहिया और प्रशांत राय की जोड़ी है, जिन्होंने बीते संस्करण में अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाया है। इनके अलावा हरियाणा के पास अनुभवी वज़ीर सिंह भी है। थाईलैंड के खोमसान थोंगकम टीम के वाइल्ड कार्ड हो सकते हैं। जो प्रो कबड्डी लीग में अपना डेब्यू करने जा रहे हैं। अगर थोंगकम के प्रदर्शन की बात की जाएं तो विश्व कप में उनकी दमदार परफॉर्मेंस ये बताने के लिए काफी है।
1 / 5 NEXT
Published 13 Jul 2017, 17:39 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now
❤️ Favorites Edit