COOKIE CONSENT
Create
Notifications
Favorites Edit

प्रो कबड्डी 2018: चेन्नई लेग के टॉप 5 डिफेंडर्स 

आँकड़े
322   //    15 Oct 2018, 17:43 IST

Enter caption

प्रो कबड्डी लीग के छठे सीजन का पहला लेग चेन्नई के जवाहरलाल नेहरू इंडोर स्टेडियम में खेला गया। घरेलू टीम तमिल थलाइवाज ने बेहतरीन शुरूआत करते हुए गत विजेता पटना पाइरेट्स को शिकस्त दी थी। हालांकि उसके बाद वो एक भी मुकाबला नहीं जीत पाए।

चेन्नई लेग में जहां कई रेडर्स ने अपने प्रदर्शन से काफी प्रभावित किया, तो दूसरी तरफ कुछ डिफेंडर्स ऐसे भी थे जिन्होंने अपने टैकल से सबको हैरान कर दिया और अपनी टीम की जीत में अहम भूमिका निभाई। मंजीत छिल्लर, आशीष सांगवान जैसे डिफेंडर्स की जितनी तारीफ की जाए उतनी कम है।

आइए नजर डालते हैं चेन्नई लेग के टॉप 5 डिफेंडर्स पर:

5) मंजीत छिल्लर, तमिल थलाइवाज (5 मैचों में 16 अंक, 3.2 पॉइंट प्रति मैच)

Enter caption

.प्रो कबड्डी लीग इतिहास के सबसे अनुभवी डिफेंडर्स में से एक मंजीत छिल्लर को इस साल तमिल थलाइवाज ने खरीदा और उन्होंने अपनी टीम को निराश नहीं किया। भले ही उनकी टीम मैच नहीं जीत पाई, लेकिन मंजीत का प्रदर्शन दमदार रहा।

मंजीत ने अपने अनुभव का शानदार तरीके से इस्तेमाल किया और 5 मुकाबलों में उन्होंने 16 टैकल पॉइंट हासिल किए। तमिल की टीम उम्मीद करेगी कि वो अपने इस प्रदर्शन कोे आने वाले मुकाबलों में भी जारी रखेंगे।


4) अमित हूडा, तमिल थलाइवाज (5 मैचों में 11 अंक, 2.2 पॉइंट प्रति मैच)

Enter caption

तमिल थलाइवाज ने इस साल अमित हूडा को नीलामी में रिटेन किया था और वो राइट कॉर्नर में काफी अहम भूमिका निभाते हैं। अमित ने 5 मुकाबलों में 11 टैकल पॉइंट हासिल किए, भले ही वो अपने प्रदर्शन से खुद खुश नहीं होंगे।

हालांकि फिर भी उन्होंने परदीप नरवाल और रोहित कुमार जैसे रेडर्स के सामने अच्छा काम किया। हूडा आगे भी अपने प्रदर्शऩ में सुधार करते हुए बेहतर करना चाहेंगे।


3) फजल अत्रचली, यू मुंबा ( 2 मैचों में 7 अंक, 3.5 पॉइंट प्रति मैच)

Enter caption

ईरान के दिग्गज डिफेंडर फजल अत्रचली इस साल यू मुंबा की कप्तानी कर रहे हैं। चेन्नई लेग में फजल ने अपनी टीम के अच्छे प्रदर्शन में अहम भूमिका निभाई। फजल ने पावरफुल एंकल होल्ड किए, स्ट्रॉन्ग ब्लॉक और लेफ्ट कॉर्नर से डैश करते हुए दो मुकाबलों में 7 टैकल पॉइंट हासिल किए।


4) नीतेश कुमार, यूपी योद्धा (2 मैचों में 7 पॉइंट, 3.5 पॉइंट प्रति मैच)

Enter caption

नीतेश कुमार यूपी योद्धा की टीम में राइट कॉर्नर की भूमिका निभा रहे हैं और उन्होंने डिफेंस में काफी अच्छा काम किया है। चेन्नई लेग में काफी मेहनत की, कुमार तमिल थलाइवाज और पटना पाइरेट्स के खिलाफ काफी सफल हुए। यूपी की टीम इस उम्मीद में होगी कि नीतेश आगे भी इस प्रदर्शन को जारी रखेंगे। उन्होंने 2 मैचों में 7 पॉइंट हासिल किए।


5) आशीष कुमार सांगवान, बेंगलुरू बुल्स (एक मैच में 7 पॉइंट, 7 पॉइंट प्रति मैच)

Enter caption

आशीष कुमार सांगवान ने तमिल थलाइवाज के खिलाफ हुए मुकाबले में बेहतरीन प्रदर्शन किया। बैंगलोर की 48-37 की जीत मेें सांगवान का किरदार काफी अहम था। आशीष ने मैच में 7 पॉइंट हासिल करते हुए हाई 5 लगाया। यहां तक कि उन्होंने दो बार सुपर टैकल भी किया।

Topics you might be interested in:
Fetching more content...