Create
Notifications

प्रो कबड्डी लीग 2018: बेंगलुरू बुल्स ने गुजरात फॉर्च्यूनजायंट्स को हराकर फाइनल में जगह बनाई

Enter caption
मयंक मेहता

प्रो कबड्डी लीग के पहले क्वालीफायर मुकाबले में बेंगलुरू बुल्स ने गुजरात फॉर्च्यूनजायंट्स को 41-29 से हराते हुए फाइनल में जगह बनाई। इसी के साथ प्रो कबड्डी लीग के इतिहास में गुजरात के खिलाफ बुल्स की यह पहली जीत है। हालांकि गुजरात की टीम को फाइनल में पहुंचने का एक और मौका मिलेगा। उनका मुकाबला दूसरे क्वालीफायर में दबंग दिल्ली और यूपी योद्धा के बीच होने वाले मैच के विजेता के साथ होगा। प्रो कबड्डी लीग के दूसरे सीजन के बाद पहली बार फाइनल में पहुंचे हैं।

बेंगलुरू बुल्स के कप्तान रोहित कुमार ने पहला पॉइंट हासिल करते हुए प्रो कबड्डी लीग में अपने 600 पॉइंट पूरे किए और साथ ही में पवन कुमार सेहरावत ने भी इस सीजन में अपने 250 पॉइंट पूरे किए और ऐसा करने वाले वो पहले खिलाड़ी भी बने हैं।

गुजरात फॉर्च्यूनजायंट्स ने टॉस जीतकर पहले कोर्ट का फैसला किया। हालांकि पहले क्वालीफायर का पहला अंक पवन सेहरावत ने हासिल किया, इसके बाद गुजरात के लिए सचिन ने दो अंक हासिल कर अपनी टीम के लिए पहला अंक हासिल किया। हालांकि शुरूआत में ही गुजरात के कप्तान सुनील के लगातार आउट होने से जरूर टीम को झटका लगा। बैंगलोर के रेडर्स ने खूबी से गुजरात के कप्तान के ऊपर अटैक किया, लेकिन सचिन लगातार रेड में पॉइंट लाते हुए अपनी टीम को पिछड़ने से बचाते रहे। गुजरात ने मैच के 11वें मिनट में डिफेंस में पहला अंक हासिल किया, जोकि काफी हैरान करने वाला था। हालांकि रोहित कुमार और पवन ने मिलकर गुजरात के डिफेंस को चलने नहीं दिया और अपना शिकंजा कसा। इस बीच गुजरात ने रेड करते हुए पहले पवन और फिर रोहित को आउट किया, जिससे बैंगलोर के ऊपर दबाव में काफी इजाफा हुआ और उनके ऊपर ऑलआउट होने का खतरा मंडराने लगा, लेकिन सुमित ने उन्हें बचाया। पहले हाफ की आखिरी रेड में सुमित ने डू और डाई रेड में पॉइंट हासिल करते हुए अपनी टीम को पिछड़ने से बचाया। इस बीच गुजरात ने 20 मिनट के बाद 14-13 की मामूली बढ़त बना ली थी। पहले हाफ में गुजरात के लिए सचिन ने सबसे ज्यादा अंक हासिल किए, तो बुल्स के लिए रोहित कुमार और पवन कुमार सेहरावत ने अच्छा किया।

दूसरे हाफ में बुल्स ने वापसी का प्रयास किया और एक समय वो स्कोर को बराबरी पर भी लेकर आए। हालांकि सचिन ने अपनी टीम को मजबूत स्थिति में लेकर गए और शानदार सुपर 10 पूरा किया। मैच के 32वें मिनट में गुजरात ने बुल्स को ऑलआउट किया और अपनी बढ़त को 5 अंक का किया। हालांकि यहां से पवन ने बेहतरीन तूफानी सुपर रेड करते हुए अपनी टीम को बेहतरीन वापसी कराई, यह इस मैच की पहली सुपर रेड भी थी और इससे पवन के लिए सुपर रेड हासिल करने का इससे अच्छा मौका और कोई नहीं हो सकता था। मैच के 35वें मिनट में पवन ने एक और शानदार रेड की और गुजरात को ऑलआउट किया। इससे बुल्स को 5 अंक मिले और उन्होंने बढ़त हासिल की। पवन ने अपना सुपर 10 भी पूरा किया। यहां से बुल्स के डिफेंडर्स ने भी लय प्राप्त की और टीम को महत्वपूर्ण अंक दिलाए। हादी ने रेड करते हुए अपनी टीम को वापसी और मैच में रोमांच लाने का प्रयास किया, लेकिन जल्द ही बुल्स ने गुजरात की सभी उम्मीदों को खत्म किया। इस बीच रोहित कुमार ने अपना हाई 5 भी पूरा किया। उनके अलावा महेंद्र सिंह ने भी अपना हाई 5 पूरा किया। इस मैच में बुल्स के रेडर्स और डिफेंडर्स दोनों ही दमदार खेल दिखाया। दूसरा हाफ खत्म होते-होते गुजरात एक बार फिर ऑलआउट हो गई और आसानी के साथ बुल्स ने फाइनल में जगह बनाई।


Edited by मयंक मेहता

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...