COOKIE CONSENT
Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

प्रो कबड्डी लीग 2018: तेलुगु टाइटंस ने पुणे को हराया, राहुल चौधरी ने रचा इतिहास

न्यूज़
921   //    13 Nov 2018, 21:00 IST

Enter caption

इंटरजोन चैलैंज वीक के दूसरे दौर के पहले दिन जोन बी की तेलुगु टाइटंस ने रोमांचक मुकाबले में जोन ए की पुनेरी पलटन को 28-25 से शिकस्त दी। इस शानदार जीत के साथ तेलुगु टाइंटस 30 अंकों के साथ जोन बी में अंक तालिका में दूसरे स्थान पर पहुंच गए हैं। पुनेरी पलटन की यह लगातार दूसरी हार है और वो अभी भी दूसरे स्थान पर ही काबिज हैं।

मैच की 18वीं रेड में 2 रेड पॉइंट लाते ही राहुल चौधरी प्रो कबड्डी लीग में सबसे ज्यादा रेड पॉइंट हासिल करने वाले रेडर बन गए हैं। उन्होंने पटना पाइरेट्स के कप्तान परदीप नरवाल को पछाड़ा। लगातार यह दोनों खिलाड़ी एक दूसरे को पछाड़ रहे हैं और देखना होगा कि राहुल कितने समय तक अपनी बढ़त को बरकरार रख पाते हैं।

तेलुगु टाइटंस के लिए रेड में राहुल चौधरी और निलेश सालुंखे ने शानदार प्रदर्शन किया, तो डिफेंस में अबोजार मिघानी और युवा डिफेंडर कृूष्णा मदने ने बेहतरीन कार्य किया। दूसरी तरफ पुनेरी पलटन के लिए संदीप नरवाल ने रेड और डिफेंस दोनों में टीम को अंक दिलाए। पुनेरी पलटन को एक बार फिर स्टार रेडर नितिन तोमर की कमी काफी खली, जिसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि पुणे के रेडर्स पॉइंट लाने बुरी तरह से नाकाम रहे।

हाफ टाइम तक तेलुगु टाइटंस ने 17-11 से बढ़त बना ली थी। तेलुगु टाइटंस ने मुकाबले की शानदार तरीके से शुरूआत की और नितिन तोमर की गैरमौजूदगी का पूरी तरह से फायदा उठाते हुए शुरूआती बढ़त बनाई। इस बीच अक्षय जाधव ने दो बोनस पॉइंट लाते हुए टीम का स्कोर आगे बढ़ाया। हालांकि तेलुगु के पास पुनेरी पलटन को ऑलआउट करने का अच्छा मौका था, लेकिन राहुल चौधरी सुपर टैकल का शिकर हुए, जिससे पुनेरी पलटन ने दोनों टीमों कोे बीच के फासले को कम किया। हालांकि तेलुगु ने जल्द ही पुणे को ऑलआउट कर अपनी बढ़त और मजबूत किया। तेलुगु के लिए राहुल चौधरी रेड करते हुए सिर्फ एक बार आउट हुए और वो लगातार रेड में अंक लाते रहे। तेलुगु टाइटंस के लिए उनके रेडर्स और डिफेंडर्स दोनों ने ही शानदार प्रदर्शन करके दिखाया। दूसरी तरफ पुनेरी पलटन के लिए एक मात्र अच्छी चीज रही कि उन्होंने 3 सुपर टैकल किए।

तेलुगु टाइटंस ने दूसरे हाफ की शुरूआत भी बेहतरीन तरीकसे की और 5 मिनट के अंदर ही पुनेरी पलटन को एक और ऑलआउट दिया। राहुल चौधरी ने दूसरे ऑलआउट में अहम भूमिका निभाई। मैच में दूसरी बार ऑलआउट होने के बाद पुनेरी पलटन काफी दबाव में आ गए थे, लेकिन उन्होंने जरूर वापसी का प्रयास किय। रेडिंग और डिफेंस दोनों ही टीम ने अंत में बेहतर खेल दिखाया। मैच में जब 3 मिनट से भी कम का समय बाकी था, तो पुनेरी पलटन के पास तेलुगु टाइटंस को ऑलआउट करते हुए मैच में वापसी का मौका बना और वो इसमें कामयाब भी हुए। पुणे ने मैच के 39वें मिनट में तेलुगु को ऑलआउट किया। इस वापसी का श्रेय मोनू को जाता है, जिन्होंने टीम को महत्वपूर्ण अंक दिलाए। पुनेरी पलटन ने शानदार वापसी तो की, लेकिन वो मुकाबला जीतने में कामयाब नहीं हुए। हालांकि इस मैच से उन्हें एक अंक जरूर मिला। तेलुगु टाइटंस अपने प्रदर्शन से काफी खुश होंगे।

पुनेरी पलटन का अगला मुकाबला 17 नवंबर को इंटर जोन चैलेंज वीक के दौरान जोन बी की बंगाल वॉरियर्स के खिलाफ होगा, तो दूसरी तरफ तेलुगु टाइटंस का मुकाबला 20 नवंबर को तमिल थलाइवाज के खिलाफ होगा। पुनेरी पलटन को कोशिश करनी होगी कि वो जल्द ही फॉर्म में वापसी करें और उन्हें उम्मीद होगी कि नितिन तोमर जल्द फिट होकर वापसी करें, क्योंकि उनकी टीम को काफी जरूरत है।

प्रो कबड्डी की तमाम खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Advertisement
Topics you might be interested in:
Advertisement
Fetching more content...