PKL 9 में रेफरी के चौंकाने वाले फैसले ने खड़ा किया बहुत बड़ा विवाद, दिग्गज के जबरदस्त प्रदर्शन की बदौलत घरेलू टीम की एकतरफा हार

PKL
PKL 9 में रेफरी के विवादित फैसले ने चौंकाया (Photo: Pro kabaddi League)

प्रो कबड्डी लीग (PKL 9) के 14वें मुकाबले में बंगाल वॉरियर्स ने बेंगलुरु बुल्स को एकतरफा मैच में 42-33 से हराया। यह बंगाल वॉरियर्स की तीन मैचों के बाद दूसरी जीत है। उन्होंने घरेलू टीम को उनके घर में पहली हार दी और इस मैच में रेफरी का फैसला काफी विवादों में रहा।

पहले हाफ के बाद बंगाल वॉरियर्स की टीम 15-14 से आगे थी। पहले हाफ की शुरुआत में पूरी तरह से डिफेंस का बोलबाला देखने को मिला। इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है बेंगलुरु बुल्स ने अपना पहला रेड पॉइंट 8वें मिनट में हासिल किया। बंगाल के लिए गिरीश एर्नाक, तो बेंगलुरु बुल्स के लिए अमन ने जबरदस्त डिफेंस दिखाया। अमन ने मनिंदर सिंह को तीन बार आउट करते हुए उन्हें खाता ही खोलने नहीं दिया। इस बीच बुल्स के भरत ने बंगाल के दोनों कॉर्नर्स को आउट करते हुए उन्हें ऑल-आउट की तरफ धकेला।

बंगाल के लिए सिर्फ मनोज गौड़ा रह गए थे और उन्होंने सुपर रेड करते हुए दो डिफेंडर्स को आउट किया और साथ ही अपनी टीम को बड़े खतरे से निकाला। मैच के 17वें मिनट में बेंगलुरु बुल्स ने पहली बार आखिरकार बंगाल वॉरियर्स को ऑल-आउट किया। बंगाल के कप्तान मनिंदर ने 17.5 मिनट में बोनस के जरिए मैच में अपना खाता खोला। मनिंदर ने 19वें मिनट में बुल्स के दोनों कवर को आउट किया और फिर गिरीश ने नीरज को आउट करते हुए मोमेंटम बंगाल की तरफ किया। पहले हाफ की आखिरी रेड में मनिंदर ने सौरभ नंदल को आउट करते हुए अपनी टीम को एक पॉइंट की लीड दिलाई।

PKL 9 में बेंगलुरु बुल्स vs बंगाल वॉरियर्स मैच में रेफरी के फैसले ने खड़ा किया बड़ा विवाद

बेंगलुरु बुल्स के ऊपर दूसरे हाफ की शुरुआत में ऑल-आउट का खतरा था और इस बीच मनिंदर सिंह ने मैच में पहली बार अमन को आउट किया। शुभम शिंदे के सेल्फ आउट होने के कारण बुल्स एक बार तो खुद को बचाने में कामयाब हुई और उन्होंने खुद भी एक पॉइंट की लीड हासिल की। मनिंदर सिंह 23वें मिनट में अपनी रेड में विकास और भरत को आउट करते हुए मैच में पहली बार ऑल-आउट किया। रेफरी का भरत को सेल्फ आउट देना थोड़ा विवादित फैसला रहा, क्योंकि रिव्यू में दिख रहा था कि वो आउट नहीं थे। हालांकि रेफरल के बाद भी नतीजा नहीं बदला गया।

इस बीच मनिंदर सिंह ने अपनी रेड में दो डिफेंडर्स को आउट किया और एक डिफेंडर सेल्फ आउट हो गया, जिसकी वजह से बंगाल की बढ़त में भी इजाफा देखने को मिला। बुल्स की टीम एक बार फिर ऑल-आउट के करीब पहुंची और बंगाल वॉरियर्स ने 28वें मिनट में उन्हें दूसरी बार ऑल-आउट कर दिया। श्रीकांत जाधव ने भी मोमेंटम को बरकरार रखा और सुपर रेड (2 टच और एक बोनस) लगाई। कप्तान मनिंदर सिंह ने भी अपना एक और सुपर 10 पूरा किया।

बंगाल के डिफेंस ने थोड़ा ढीला खेल दिखाया और बुल्स ने पॉइंट्स के अंतर को कम करके वापसी का प्रयास किया। हालांकि अंत में बंगाल ने संभलते हुए लीड को बरकरार किया और अंत में आसानी से मैच को जीत लिया। बेंगलुरु बुल्स को इस मुकाबले से एक भी अंक नहीं मिला और यह उनकी तीन मैचों के बाद पहली हार है।

इस मुकाबले में बंगाल वॉरियर्स के लिए कप्तान मनिंदर सिंह ने सबसे ज्यादा 11 रेड पॉइंट्स और डिफेंस में गिरीश मारूती एर्नाक ने हाई 5 लगाते हुए 5 टैकल पॉइंट्स हासिल किए। बेंगलुरु बुल्स के लिए भरत ने रेडिंग में सबसे ज्यादा 8 और अमन ने डिफेंस में 4 टैकल पॉइंट्स हासिल किए।

Quick Links

Edited by मयंक मेहता
1 comment