Pro Kabaddi League: लीग स्टेज के बाद PKL 10 की बेस्ट प्लेइंग 7

PKL 10 - लीग स्टेज में काफी खिलाड़ियों ने बेहतरीन प्रदर्शन किया
PKL 10 - लीग स्टेज में काफी खिलाड़ियों ने बेहतरीन प्रदर्शन किया

PKL 10 (Pro Kabaddi League) का लीग स्टेज 21 फरवरी को खत्म हुआ और 26 फरवरी को दोनों एलिमिनेटर मुकाबले भी खेले गये। पुनेरी पलटन और जयपुर पिंक पैंथर्स ने पहला दो स्थान हासिल करते हुए सीधे सेमीफाइनल में प्रवेश किया था, वहीं एलिमिनेटर में पटना पाइरेट्स ने दबंग दिल्ली और हरियाणा स्टीलर्स ने गुजरात जायंट्स को हराकर सेमीफाइनल में जगह बनाई।

लीग स्टेज में काफी खिलाड़ियों ने शानदार प्रदर्शन किया और अपनी टीम की जीतों में काफी अहम योगदान दिया। हालाँकि काफी खिलाड़ियों के बढ़िया प्रदर्शन के बावजूद उनकी टीम टॉप 6 में नहीं पहुंच सकी और इसका सबसे अच्छा उदाहरण पवन सेहरावत का है, जिन्होंने 21 मैचों में 202 रेड पॉइंट लिए लेकिन उनकी टीम आखिरी स्थान पर रही।

आइये नज़र डालते हैं PKL 10 के लीग स्टेज के बाद की बेस्ट प्लेइंग 7 पर:

# आशु मलिक (रेडर - दबंग दिल्ली)

PKL 10 में दबंग दिल्ली के कप्तान आशु मलिक ने बहुत ही शानदार प्रदर्शन किया और लीग स्टेज के 22 मैचों में उन्होंने 15 सुपर 10 के साथ 257 रेड पॉइंट लेकर टीम को टॉप 3 में पहुंचाया। एलिमिनेटर में पटना पाइरेट्स के खिलाफ भी उन्होंने बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए 19 रेड पॉइंट लिए, लेकिन उनकी टीम को रोमांचक मुकाबले में 37-35 से हार का सामना करना पड़ा और वह टूर्नामेंट से बाहर हो गये।

# अर्जुन देशवाल (रेडर - जयपुर पिंक पैंथर्स)

PKL के पिछले सीजन की विजेता जयपुर पिंक पैंथर्स के प्रमुख रेडर अर्जुन देशवाल ने इस सीजन भी लीग स्टेज में शानदार प्रदर्शन किया और 22 मैचों में उन्होंने सबसे ज्यादा 16 सुपर 10 के साथ 262 रेड पॉइंट लिए और अपनी टीम को टॉप 2 में पहुँचाने के लिए बड़ा योगदान दिया। सेमीफाइनल में भी टीम को उनसे काफी ज्यादा उम्मीदें होगी।

# सचिन (रेडर - पटना पाइरेट्स)

पटना पाइरेट्स के प्रमुख रेडर और कप्तान सचिन ने भी लीग स्टेज में काफी अच्छा प्रदर्शन किया और 20 मैचों में उनके नाम 7 सुपर 10 के साथ 157 रेड पॉइंट रहे। सचिन ने अपने बढ़िया प्रदर्शन से टीम को टॉप 6 में पहुंचाया और उसके बाद एलिमिनेटर में दबंग दिल्ली के खिलाफ 9 रेड पॉइंट लिए, जिससे उनकी टीम सेमीफाइनल में भी पहुंची।

# कृष्ण ढुल (राईट कॉर्नर - पटना पाइरेट्स)

पटना पाइरेट्स के राईट कॉर्नर और प्रमुख डिफेंडर कृष्ण ढुल ने लीग स्टेज में काफी बढ़िया प्रदर्शन किया और उनके नाम 22 मैचों में 6 हाई 5 के साथ 73 टैकल पॉइंट रहे। पटना पाइरेट्स के टॉप 6 में पहुंचने में कृष्ण की डिफेंस का बड़ा योगदान रहा। एलिमिनेटर में उन्होंने दबंग दिल्ली के खिलाफ 3 टैकल पॉइंट लिए।

# मोहम्मदरज़ा शादलू (लेफ्ट कॉर्नर - पुनेरी पलटन)

PKL 10 के सबसे महंगे विदेशी खिलाड़ी मोहम्मदरज़ा शादलू ने लीग स्टेज में बेहतरीन प्रदर्शन किया और 22 मैचों में सबसे ज्यादा 10 हाई 5 की मदद से उन्होंने सबसे ज्यादा 92 टैकल पॉइंट लिए। शादलू के इस जबरदस्त प्रदर्शन की वजह से पुनेरी पलटन ने लीग स्टेज में पहला स्थान हासिल किया।

# मोहित नंदल (राईट कवर - हरियाणा स्टीलर्स)

हरियाणा स्टीलर्स के प्रमुख डिफेंडर और राईट कवर मोहित नंदल ने भी लीग स्टेज में अपने डिफेंस से सबको काफी प्रभावित किया और 21 मैचों में उन्होंने 5 हाई 5 की मदद से 62 टैकल पॉइंट हासिल किये। नंदल के इस डिफेन्स का हरियाणा को एलिमिनेटर में भी फायदा मिला और उन्होंने 7 टैकल पॉइंट लेकर टीम को सेमीफाइनल में पहुंचाया।

# जयदीप (लेफ्ट कवर - हरियाणा स्टीलर्स)

हरियाणा स्टीलर्स के कप्तान और लेफ्ट कवर जयदीप का प्रदर्शन लीग स्टेज में काफी शानदार रहा और उन्होंने 20 मैचों में 6 हाई 5 की मदद से 67 टैकल पॉइंट लिए। हालाँकि एलिमिनेटर में उन्होंने गुजरात जायंट्स के खिलाफ टीम की 42-25 की एकतरफा जीत में एक भी टैकल पॉइंट नहीं लिया लेकिन टीम के सेमीफाइनल तक के सफ़र में उनकी कप्तानी का काफी बड़ा योगदान रहा है।

नोट - इस टीम में लीग स्टेज के टॉप 6 टीमों के खिलाड़ियों को ही शामिल किया गया है।