Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

स्टार स्पोर्ट्स प्रो कबड्डी सीजन 4: टीम ऑफ़ द टूर्नामेंट

EXPERT COLUMNIST
Modified 11 Oct 2018, 13:42 IST
Advertisement
37 तक चले जबरदस्त एक्शन के बाद स्टार स्पोर्ट्स प्रो कबड्डी के चौथे सीजन का 31 जुलाई को हैदराबाद में समापन हुआ। फाइनल में पतन पाइरेट्स ने जयपुर पिंक पैंथर्स को हराकर लगातार दूसरी बार ख़िताब जीता। इस साल में ये प्रो कबड्डी का दूसरा टूर्नामेंट था और सीजन से पहले टीमों में हुए उलटफेर के कारण मुकाबला और भी रोमांचक हो गया था। सभी टीमों में पटना पाइरेट्स ने सबसे ज्यादा प्रभावित किया लेकिन कई टीमें ऐसी भी रहीं जिनका प्रदर्शन अच्छा नहीं था लेकिन उनके खिलाड़ियों ने बढ़िया प्रदर्शन किया। आइये नज़र डालते हैं टूर्नामेंट के सात बेहतरीन खिलाड़ियों पर: #परदीप नरवाल (पटना पाइरेट्स) - रेडर टीम ऑफ़ द टूर्नामेंट में सीजन 4 के MVP का होना तो तय है। परदीप ने इस सीजन एम् लाजवाब प्रदर्शन किया और राहुल चौधरी के बाद सबसे ज्यादा (131) रेड पॉइंट हासिल किये। फाइनल में उन्होंने जयपुर पिंक पैंथर्स के खिलाफ 16 पॉइंट हासिल करके टीम को लगातार दूसरी बार ख़िताब दिलवाया। 19 साल की उम्र में MVP बनने वाले परदीप सबसे युवा खिलाड़ी हैं। #राहुल चौधरी (तेलुगु टाइटन्स) - रेडर सीजन 4 के अंत में राहुल चौधरी सबसे बेस्ट रेडर साबित हुए और इसमें कोई दो राय नहीं थी। उनकी टीम हालाँकि टूर्नामेंट में चौथे स्थान पर रही लेकिन तेलुगु टाइटन्स के कप्तान ने 146 पॉइंट हासिल किया और इस सीजन में टॉप पर रहे। उन्होंने कंधे में लगी चोट के बावजूद अपना बेहतरीन प्रदर्शन बरक़रार रखा। #दीपक निवास हूडा (पुनेरी पलटन) - रेडर 22 साल के दीपक निवास हूडा ने शानदार प्रदर्शन करके अपनी टीम को लगातार दूसरे सीजन में तीसरा स्थान दिलाया। हालाँकि दीपक के ऑलराउंडर हैं, लेकिन मंजीत छिल्लर, जोगिन्दर नरवाल और रविंदर पहल की मौजूदगी के कारण उन्होंने रेडिंग पर ही अपना ध्यान रखा और 126 रेड पॉइंट के साथ इस सीजन में तीसरे स्थान पर रहे। #मंजीत छिल्लर (पुनेरी पलटन) - राईट कवर
Advertisement
मंजीत छिल्लर इस समय दुनिया के बेहतरीन ऑलराउंडरों में शामिल हैं। पुनेरी पलटन के कप्तान ने इस सीजन में अपनी उपयोगिता साबित की और 43 टैकल पॉइंट के अलावा 24 रेड पॉइंट भी हासिल किये। घुटने में लगी चोट के बावजूद मंजीत ने पुनेरी पलटन के आखिरी लीग मैच में 11 टैकल पॉइंट हासिल किये, जो एक मैच में सबसे ज्यादा टैकल पॉइंट का रिकॉर्ड है। #सचिन शिंगाडे (दबंग दिल्ली) - लेफ्ट कवर दबंग दिल्ली के लिए ये सीजन भी काफी खराब रहा और वो सातवें स्थान पर रहे। हालाँकि डिफेन्स में सचिन शिंगाडे ने उनके लिए बेहतरीन खेल का प्रदर्शन किया। 28 वर्षीय लेफ्ट कवर सचिन ने इस सीजन में 39 सफल टैकल किये लेकिन उनकी टीम का प्रदर्शन नहीं सुधर पाया। कई बार उन्होंने सुपर टैकल करके अपनी टीम को मुश्किल से निकाला। #अमित हूडा (जयपुर पिंक पैंथर्स) - राईट कॉर्नर 52.8% सफल टैकल के साथ अमित हूडा इस सीजन में जयपुर पिंक पैंथर्स के सबसे बेहतरीन खिलाड़ी रहे। सबसे ज्यादा 47 टैकल पॉइंट के साथ उन्होंने अपनी टीम को दो साल के बाद फाइनल में पहुँचाया। 20 साल के इस खिलाड़ी ने टूर्नामेंट में चार सुपर टैकल भी किये। #फ़ज़ल अत्राचली (पटना पाइरेट्स) - लेफ्ट कॉर्नर ईरान के इस खिलाड़ी ने इस सीजन में बेहतरीन डिफेन्स दिखाया और उन्हें डिफेंडर ऑफ़ द सीजन का खिताब दिया गया। पिछले सीजन में यू मुम्बा के लिए खेलने वाले फज़ल ने इस सीजन में पटना पाइरेट्स के लिए 45 सफल टैकल किया और उनका टैकल में सफलता प्रतिशत 62.5 रहा। फज़ल ने 7 सुपर टैकल भी किये और पटना पाइरेट्स को ख़िताब दिलाने में अहम भूमिका निभाई। Published 02 Aug 2016, 15:37 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now
❤️ Favorites Edit