Create
Notifications

अपने भारतीय ओलम्पियन को जानें: अश्विनी पोनप्पा के बारे में 10 बातें

जितेंद्र तिवारी

भारतीय बैडमिंटन की डबल स्टार अश्विनी पोंनप्पा ने वास्तव में अपने करियर में कई यादगार प्रदर्शन किया है। उनकी जोड़ी ज्वाला गट्टा के साथ खूब जमती है और इन दोनों ने भारत के लिए बेहतरीन खेल दिखाया है। ऐसे में इन दोनों के ऊपर एक बार फिर देश के लिए डबल्स में अच्छा खेल दिखाने की आशा है। पोनप्पा की उम्र 18 साल थी और पहली बार 2007 में उन्होंने अपने करियर की शुरुआत की थी। पोनप्पा ने अपने अबतक के करियर में बड़ी तेजी से ऊंचाई पायी है। ऐसे में उनसे और उनकी पार्टनर ज्वाला से भारत को रियो में काफी आशाएं हैं। यहाँ हम आपको इस स्टार खिलाड़ी के बारे में बता रहे हैं: #1. अश्विनी पोनप्पा का जन्म कर्नाटक के कुर्ग में 18 सितम्बर 1989 में हुआ था। उनके पिता राष्ट्रीय स्तर के हॉकी खिलाड़ी रह चुके हैं। हालाँकि पोंनप्पा ने हॉकी के बजाय बैडमिंटन की ट्रेनिंग लेना चुना था। #2. पोनप्पा ने बेंगलुरु के सेंट फ्रांसिस ज़ेवियर गर्ल्स हाई स्कूल से अपनी पढ़ाई पूरी करने के बाद हैदराबाद में स्नातक की पढ़ाई करने चली आयीं। #3. पोनप्पा तब खबरों में आयीं जब उन्होंने साल 2001 में भारतीय जूनियर बैडमिंटन चैंपियनशिप जीत लिया। तब उनकी उम्र 12 साल थी। उसके 5 साल बाद पोंनप्पा ने साउथ एशियन गेम्स में गोल्ड जीतकर सभी को प्रभावित किया। #4. इसके बाद 2010 में हुए दिल्ली कामनवेल्थ खेलों में पोनप्पा ने ज्वाला गट्टा के साथ जोड़ी बनाकर महिला डबल्स में स्वर्ण पदक जीतकर इतिहास रच दिया। इसके अलावा पोनप्पा ने मिक्स्ड डबल में रजत पदक जीता था। #5. साल 2011 में पोनप्पा और गट्टा ने बेहतरीन प्रदर्शन किया था। इस साल इन दोनों ने कोपहेगन में हुए वर्ल्ड चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीता। इससे पहले प्रकाश पादुकोण ने 1983 में वर्ल्ड चैंपियनशिप में पदक जीता था। साथ ही महिला डबल्स में ये कारनामा ये सफलता पहली थी। #6. साल 2012 ओलंपिक में अश्विनी-ज्वाला की जोड़ी क्वार्टरफाइनल में बड़े ही करीबी अंतर से हारकर मैडल की रेस से बाहर हो गयी थी। #7. जून 2015 में अश्विनी-ज्वाला की जोड़ी ने कनाडा ओपन के डबल्स ख़िताब पर कब्जा करते हुए डच जोड़ी ईफ्जे मुस्केंस और सेलेना पीएक को हराया। ये इस साल का उनका एक मात्र ख़िताब था। #8. साल 2014 पोनप्पा के लिए अच्छा रहा और उनकी जोड़ी ने ग्लासगो कामनवेल्थ खेलों में रजत पदक जीता था। उसके बाद इंचियोन एशियन खेलों में कांस्य और दिल्ली के उबेर कप को भी जीतने में कामयाब रही। #9. पोनप्पा इंडियन बैडमिंटन लीग के पहले सीजन में पुणे पिस्टन के लिए खेली थीं। उसके बाद 2015 में उन्होंने बेंगलुरु टॉप गन्स की तरफ से खेलने का निर्णय लिया। #10. 26 साल की पोनप्पा को जानवरों को पसंद करती हैं और खाली समय में गाना सुनना अच्छा लगता है।


Edited by Staff Editor

Comments

Fetching more content...