ओलंपिक इतिहास के 5 महान तीरंदाज

kim-soo-nyung-1469975083-800

सन 1900 में पेरिस में हुए दूसरे ओलंपिक में तीरंदाजी को ओलंपिक खेलों में शामिल किया गया। तब से अबतक ये 16 बार ओलंपिक में शामिल किया जा चुका है। ये खेल विश्व तीरंदाजी फेडरेशन द्वारा संचालित होता है। इस लोकप्रिय खेल में 84 देश भाग लेते हैं। 1920 से 1972 तक तीरंदाजी समर खेलों में नहीं शामिल किया गया था। लेकिन उसके बाद ये सभी ओलंपिक में शामिल था। रिकर्व तीरंदाजी ओलंपिक खेलों में शामिल रहा है जो इस बार रियो में भी है। महिला इवेंट में 1984 से कोरियाई महिलाओं का मैडल जीतने के मामले में दबदबा रहा है। इन्होने अबतक 15 में 14 स्वर्ण पदक जीते हैं। वहीं पुरुषों में भी कोरियाई ही आगे रहे हैं। उनके बाद यूएसए का नम्बर आता है। कोरिया के नाम टीम इवेंट में 7 में से 4 स्वर्ण पदक और व्यक्तिगत में 8 स्वर्ण पदक है। ओलंपिक खेल शुरू होने में अब जब गिने चुने दिन ही बचे हैं तो आइये डालें एक नजर दुनिया के 5 बेहतरीन तीरंदाजों पर: #1 किम सू-न्युंग(दक्षिण कोरिया) कोरिया की 17 महिलाओं ने अबतक स्वर्ण पदक जीते हैं, लेकिन इसमें एक नाम सबसे आगे आता है वह है किम सू-न्युंग। किम ने अबतक 4 स्वर्ण, एक रजत और एक कांस्य पदक जीते हैं। न्युंग आधुनिक तीरंदाजों में सर्वश्रेष्ठ तीरंदाज हैं। स्कूली पढ़ाई के साथ-साथ 9 वर्ष की उम्र में न्युंग ने तीरंदाजी शुरू कर दी थी। राष्ट्रीय टीम में 16 वर्ष की उम्र में जगह बना ली थी। उन्होंने सीओक्यु फ्रांस इवेंट में 30 मीटर में विश्व रिकॉर्ड बनाकर स्वर्ण पदक जीता था। इस तीरंदाज के मुताबिक, “तीरंदाजी में मजबूत बांह होनी चाहिए उसके बाद उन्हें तकनीकी रूप से दक्ष होना चाहिए। अपनी गलतियों से जल्द ही सीखकर हमने अच्छा प्रदर्शन करने की कोशिश करनी चाहिए। मेरे हिसाब से तीरंदाजी टाइमिंग का खेल है।” न्युंग के हिसाब से तीरंदाजी में निरंतरता ही सफलता की कुंजी है, “ओलंपिक में ज्यादा स्वर्ण पदक जीतने वाले तीरंदाज निरंतर अच्छा प्रदर्शन करते हैं। वह अपने अंदर निरंतर बेहतर करने की क्षमता विकसित कर लेते हैं।” #2 डैरल पेस(यूएसए) darrell-pace-1469975127-800 “मैं अपने प्रतिद्वंदी से एक मित्र की तरह बात कर सकता हूँ, लेकिन मुकाबले में मैं ये लाइन क्रॉस कर जाता हूँ। मैं ये मानता हूँ कि वह मुझे हरा नहीं सकता है। मैं उसे जीतने नहीं दूंगा।”: डैरल पेस डैरल पेस यूएसए के महान तीरंदाज रहे हैं। उनके नाम लगातार 1976 और 1984 में दो बार व्यक्तिगत प्रतिस्पर्धा में स्वर्ण पदक जीतने का रिकॉर्ड दर्ज है। 1973 में यूएस का राष्ट्रीय चैंपियनशिप जीतने के लिए उन्होंने 1440 राउंड में से 1316 अंक हसिल किए थे। इसी साल उन्होंने स्विट्ज़रलैंड में हुए विश्व तीरंदाजी चैंपियनशिप भी जीता था। ओलंपिक में उनके नाम 2 स्वर्ण और एक रजत पदक है। #3 पार्क सुंग-ह्यून(दक्षिण कोरिया) park-sung-hyun-1469975216-800 पार्क ने 11 वर्ष की उम्र में तीरंदाजी को बतौर खेल चुन लिया था। आज 21 सदी के वह महान तीरंदाज हैं। उन्होंने मात्र दो ओलंपिक साल 2004 और 2008 में 3 स्वर्ण और एक रजत पदक जीता है। साल 2001 में बीजिंग में हुए वर्ल्ड चैंपियनशिप जीतकर अपना आगाज किया था। वह अपनी फॉर्म और जबरदस्त प्रतिस्पर्धी खेल के लिए जानी जाती हैं। साल 2004 में उन्होंने एथेंस से ओलंपिक डेब्यू किया था। उन्होंने 11 साल पुराने रिकॉर्ड को रैंकिंग राउंड में 682 अंक हासिल करके तोड़ा था। #4 हुबर्ट वैन इन्निस(बेल्जियम) hubert-van-innis-1469975354-800 हुबर्ट ने अभी दो ओलंपिक खेले हैं लेकिन उन्होंने अबतक 6 स्वर्ण और तीन रजत पदक जीते हैं। उन्होंने 1900 और 1920 में हुए ओलंपिक में भाग लिया था। सन 1933 में 67 साल की उम्र में उन्होंने वर्ल्ड चैंपियनशिप भी जीता था। उन्होंने तीरंदाजी को अपने 80-90 वर्ष की उम्र तक जारी रखा था। 95 वर्ष की उम्र में उनका निधन हो गया था। ऐसे में हम समझ सकते हैं अगर वह ओलंपिक में खेलते रहते तो उनके पदकों की संख्या कुछ और होती। #5 यून मी जिन(दक्षिण कोरिया) yun-mi-jin-1469975420-800 स्कूल में उनके टीचर उन्हें पिशिरी कहा करते थे। जिसका मतलब हमेशा नींद में रहने वाला होता है। किसी को नहीं पता था कि सिडनी ओलंपिक साल 2000 में वह अपना दबदबा कायम कर पाएंगी। जहाँ उन्होंने टीम और व्यक्तिगत स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीता था। एथेंस में भी उन्होंने सोना जीता था। साल 2002 में यून ने एशियन खेलों में टीम को ख़िताब दिलाया और उसके बाद न्यूयॉर्क में वर्ल्ड तीरंदाजी चैंपियन में स्वर्ण पदक जीता था। “तीरंदाजी ने मुझे एकाग्रता दिलाने में अहम योगदान दिया। लेकिन आज मैं जहाँ हूँ उसके लिए मुझे लगातार कोशिश करते रहना पड़ा है।” यून मी जिन और सम्मानित नाम 1 मार्को गलिअज्जो, इटली- दो स्वर्ण और एक रजत पदक 2। पार्क क्युंग-मो, दक्षिण कोरिया- दो स्वर्ण और एक रजत पदक 3। मिचेल फ्रंगिली, इटली- एक स्वर्ण, एक रजत और एक कांस्य पदक 4। ली सुंग जिन, दक्षिण कोरिया दो स्वर्ण और एक रजत पदक 5। हिरोशी यामामोटो, जापानएक रजत और एक कांस्य पदक

Edited by Staff Editor