Create
Notifications
Get the free App now
Favorites Edit
Advertisement

CWG 2018: मनु भाकर ने 10 मीटर एयर पिस्टल में जीता गोल्ड, हिना सिद्धू को सिल्वर मेडल

  • महज 16 साल की मनु भाकर का ये पहला कॉमनवेल्थ गेम है
SENIOR ANALYST
Modified 21 Sep 2018, 20:23 IST

गोल्ड कोस्ट में चल रहे 21वें कॉमनवेल्थ गेम्स के पांचवे दिन महिलाओं के 10 मीटर एयर पिस्टल में भारत की झोली में दो पदक आए। 16 साल की मनु भाकर ने जहां गोल्ड मेडल जीता तो इसी वर्ग में अनुभवी हिना सिद्धू ने सिल्वर मेडल अपने नाम किया। वहीं पुरुषों के 10 मीटर एयर राइफल में रवि कुमार ने कांस्य पदक जीता। उन्होंने कुल 224.1 का स्कोर हासिल किया। इस वर्ग का स्वर्ण पदक ऑस्ट्रेलिया के डेन सैंपसन ने जीता और रजत पदक बांग्लादेश के बाकी ने जीता। मानु भाकर का ये पहला कॉमनवेल्थ गेम्स था लेकिन उन्होंने शानदार प्रदर्शन दिखाया और भारत को एक और स्वर्ण पदक दिलाया। उन्होंने कुल 240.9 का स्कोर हासिल किया जो कि कॉमनवेल्थ गेम्स का रिकॉर्ड है। वहीं सिल्वर मेडल जीतने वाली हिना सिद्धू ने 234 प्वाइंट हासिल किए। फाइनल मुकाबले में दोनों ही खिलाड़ियों ने काफी शानदार खेल दिखाया। मनु भाकर काफी सावधानी से खेल रही थी। उन्होंने सबसे पहले 10, 10.3, 10.6  फायर किया उसके बाद सबको हैरान करते हुए 10.9 तक फायर कर शानदार बढ़त बना ली। इसके बाद उन्होंने सिद्धू और ऑस्ट्रेलिया की एलिन गलियाबोविच से बढ़त बना ली। एलिन ने 214.9 के स्कोर के साथ कांस्य पदक हासिल किया। भाकर का फाइनल शॉट 10.4 था, जिससे महज 16 साल की उम्र में उनका गोल्ड मेडल पक्का हो गया। वहीं दूसरी तरफ हिना ने भी बेहतरीन खेल दिखाते हुए रजत पदक हासिल किया। हालांकि उनका गोल्ड मेडल जीतने का सपना रह गया। कुछ ही समय पहले नेशनल शूटिंग चैंपियनशिप में उन्होंने स्वर्ण पदक जीता था। जिसके बाद उनके कॉमनवेल्थ गेम्स में भी गोल्ड की उम्मीदें बढ़ गई थीं। शूटिंग शुरु करने के महज दो साल के अंदर ही मनु भाकर ने भारत को विभिन्न प्रतियोगिताओ में कई मेडल दिलाए हैं। आईएसएसएफ विश्व कप में महिलाओं के 10 मीटर एयर पिस्टल में उन्होंने स्वर्ण पदक जीता था। वो विश्व कप में गोल्ड मेडल जीतने वाले सबसे युवा महिला निशानेबाज बन गई थी। आपको जानकर हैरानी होगी कि शूटिंग में आने से पहले मनु भाकर ने बॉक्सिंग और मार्शल आर्ट्स में भी अपना हाथ आजमाया था। उन्होंने खेलो इंडिया प्रतियोगिता में भी जूनियर नेशनल के दो रिकॉर्ड बनाए थे।

Published 08 Apr 2018, 09:46 IST
Advertisement
Fetching more content...