Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

जानिए दुनिया के इन 10 खेलों के बारे में जो हैं बेहद थकाने वाले

CONTRIBUTOR
Modified 07 Nov 2016, 22:50 IST
Advertisement

हममें से कई लोगों के लिए थकान का मतलब होता है आठ या दस घंटे की नौकरी करने के बाद होने वाली थकावट। हालांकि एक अच्छी नींद इस थकान को दूर करने के लिए काफी होती है। लेकिन क्या आपको पता है कि इस थकान के असली मायने पेशेवर खिलाड़ियों के लिए होते हैं, जहां उनका शारीरिक काम कहीं अधिक होता है? शारीरिक क्षमता के प्रयोग से खेले जाने वाले सभी खेलों में मासपेशियों का भरपूर इस्तेमाल होता है। इसी के चलते सभी प्रोफेशनल खिलाड़ियों का शरीर अक्सर जरूरत से ज्यादा थक जाता है। लेकिन हर खेल में एक समान शारीरिक थकावट नहीं होती। वो इसलिए क्योंकि हर खेल की समय सीमा, अंतराल और गति सब एक दूसरे से अलग होते हैं। तो किस में खिलाड़ी कितना थकता है, ये हम कई पैमानों से निर्धारित करते हैं। यहां हम आपको उन 10 खेलों का पूरा लेखा-झोखा बता रहे हैं जो वैज्ञानिक दृष्टि से सबसे थकाने वाले खेल हैं। पहले इन दो सम्माननीय खेलों की बात कर लेते हैं:


टेनिस tennis टेनिस खेल 'स्टेमिना' का खेल माना जाता है। बाहर से देखने वालों के भले ही ये उतना थकाने वाला न लगे, लेकिन कोर्ट में मौजूद खिलाड़ियों को इस बात का पूरा ऐहसास होता है। 2012 के ऑस्ट्रेलियन ओपन के फाइनल मुकाबले में, जोकोविच और नडाल के बीच छह घंटे तक ये मैच खिंचा था। मैच के बाद दोनों दिग्गज खिलाड़ी बुरी तरह थक के चूर हो गए थे। ये ऐतिहासिक मैच टैनिस की शारीरिक जरूरत का एक बड़ा उदाहरण है। हालांकि इस खेल को हमारी 10 की सूची में न शामिल करने की वजह है कि टेनिस में खिलाड़ी के पास छोटे-बड़े ब्रेक लेने के कई मौके होते हैं। ये खेल निरंतर एक ही गति से नहीं चलता, जिसके चलते प्लेयर्स अपनी थकान को नियंत्रित कर सकते हैं। फिर टेनिस में 2012 जैसा छह घंटे का मैच कोई आम बात नहीं है। आमतौर पर टेनिस का एक मैच औसतन 2 घंटे 40 मिनट में पूरा हो जाता है।
फुटबॉल
Advertisement
cristiano-ronaldo-exhausted-1476961973-800 कुछ लोगों के मन में ये सवाल होगा कि फुटबॉल को इस लिस्ट से अलग क्यों रखा गया? इसका कारण भी टेनिस के खेल से मिलता-जुलता ही है। फुटबॉल के 90 मिनट के खेल के दौरान टीम के खिलाड़ी समय समय अपनी बॉडी को आराम दे देते हैं। जैसे कि कभी धीरे दौड़ कर या फिर थोड़ा चलते फिरते। इस तरह एक ही बार में एक फुटबॉल खिलाड़ी बुरी तरह थकने से बच जाता है। हालांकि इस बात में कोई शक नहीं है कि लगातार भागने वाले इस खेल में शारीरिक कसरत और मासपेशियों की खिंचाई भरपूर होती है। अपनी पोजिशन के हिसाब से, कुछ खिलाड़ी तो 10 किलोमीटर से अधिक दौड़ जाते हैं।
  चलिए, अब बात करते हैं उन खेलों की जो सही मायने में सबसे ज्यादा थकाते हैं:   10.Rowing (नौकायन) rowers-1476960287-800 सबसे थकाने वाले स्पोर्ट्स में 10वें स्थान पर है नौकायन। जरा सोचिए अगर आपको एक ही जगह पर, एक ही अवस्था में बहुत देर तक बैठा रहना पड़े, तो आपको किस तरह की थकान होगी। बस कुछ ऐसा है होता है नौकायन के खिलाड़ियों के साथ। ओलंपिक के मुख्य खेलों में से एक नौकायन में हाथों की मासपेशियों से लेकर पैर की ऊंगलियों तक की जम कर कसरत हो जाती है। इस खेल में जिस तेजी से हाथों से पानी में चप्पू चलाना होता है, उसी लय में पैरों और शरीर के पीछे के हिस्सों को भी चलाना पड़ता है। इस खेल के मशहूर ओलंपिक खिलाड़ी Matthew Pinsett का कहना है कि नौका चलाने वाले खिलाड़ी की एक समय पर सब इंद्रीयां ठप पड़ जाती हैं। उसे न ढंग से सुनाई पड़ता है, न ठीक दिशा में दिखाई देता है और शरीर के सिर्फ उन्हीं हिस्सों में ऐहसास होता है जो बेहद दर्द झेल रहे होते हैं। आम तौर पर नौकायन की दौड़ 2 किलोमीटर से लेकर 5 किलोमीटर लंबी होती हैं। एक खिलाड़ी के लिए 2 किलोमीटर की इस रेस को पांच से सात मिनट में ही पूरा करने का लक्ष्य होता है। अगर देखा जाए तो इस दूरी को इतने समय में आम इंसान दौड़कर भी पूरा नहीं कर सकते। नौकायन के खेल में सबसे ज्यादा पैरों के बल का इस्तेमाल होता है। इसमें 60 प्रतिशत तक पैरों की ताकत ही काम आती है। इसके आलावा इस खेल में फैंफड़ें काफी सिकुड़ते हैं जिसके चलते खिलाड़ी को अपनी सांस पर नियंत्रण बैठाना पड़ता है। ऐसा माना जाता है कि 2 किलोमीटर लंबी नौकायन की दौड़, बास्केटबॉल के लगातार दो मैच खेलने के बराबर थकान देने वाली है। दुनिया में कुछ ऐसी नौकायन दौड़ भी होती हैं जिनके बारे में सुनकर आप सोच भी नहीं सकते कि उनमें थकान की सीमा क्या होती होगी। जिनेवा में होने वाली The Tour du Lac नाम की दौड़ में 160 किलोमीटर तक नौका चलानी होती है। इसमें लगभग 12 घंटे लगते हैं। ऐसे ही Great Pacific Run नाम की दौड़ में लगभग 4 हजार किलोमीटर का पूरा सफर नौका चलाकर तय किया जाता है, जो 30 से लेकर 80 दिनों में पूरा हो पाता है। खेल की शारीरिक क्षमता के पैमाने- Calories burnt/min - 14 Sweat loss/min - .03L Duration - 8 min (औसतन ओलंपिक के लिए)
9.Water Polo generic-water-polo-1476960973-800 दुनियाभर के खेलों के बीच देखने वाले को ऐसा लगता होगी कि 'वॉटर पोलो' सबसे धीमे खेलों में से एक है और इसमें शारीरिक बल का प्रयोग अधिक नहीं होता है। लेकिन ये बहुत बड़ी गलत फैहमी है। ये खेल पानी के ऊपर से जितना आसान दिखता है, भीतर से उतना ही थकावट वाला है। जब केवल तैराकी के लिए पुरजोर शारीरिक बल चाहिए, तो आप सोचिए तैरने के साथ पानी में खेलने वाले इस स्पोर्ट में कितनी ताकत लगती होगी। जी हां वॉटर पोलो बेशक सबसे थका देने वाले खेलों में से एक है। इसमें खिलाड़ी पानी के अंदर खिलाड़ी ऐसे दिखते हैं मानो किसी शार्क से बचने के लिए भागने की कोशिश कर रहे हों। इस खेल के इतना थकावट भरा होने के कई कारण हैं और ये सभी कारण खेल के सख्त नियमों से ही पता चलते हैं। वॉटर पोलो में खिलाड़ी को हर समय पानी के अंदर पैर चलाते हुए (जिसे साइक्लिंग कहते है) तैरते रहना है, वो रुक नहीं सकता। ऐसा इसलिए क्योंकि नियम अनुसार खिलाड़ी न हीं पूल के तल को छू सकते हैं और ना ही उसके किनारों को। बॉल को गोल की तरफ मारने के लिए भी 30 सैकंड की समय सीमा है जिसके अंदर ये करना होता है। साथ खिलाड़ियों को पानी के चश्मे पहनने की इजाज़त नहीं है, वो केवल कानों में 'earplugs' लगा सकते हैं, जिससे पानी कान में न जाए। इन नियमों के अलावा गेंद को अपने विपक्षी से छीनने के लिए खिलाड़ियों को लगातार पानी में जद्दो-जहद करनी होती है। ये काम अपने आप में काफी थकाने वाला है। सभी पूल के पानी में 'क्लोरीन' मिला होता है जो एक समय के बाद आखों में थकान पैदा कर देता है। इन सब बातों को समझने के बाद हम आप अब समझ गए होंगे कि वॉटर पोलो बेहद थकान वाल और सबसे ज्यादा शारीरिक ताकत वाले खेलों में से एक हैं। आइए जानते हैं इस खेल की शारीरिक क्षमता के पैमाने - Calories burnt/min - 11.7 Sweat loss/min - .01L Duration - 32 मिनट
1 / 4 NEXT
Published 07 Nov 2016, 22:50 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now
❤️ Favorites Edit