Create

India at Paralympics - भविना पटेल के बारे में प्रमुख बातें जो आप नहीं जानते होंगे

Tokyo Paralympics में भविना पटेल ने रजत पदक पर कब्ज़ा किया
Tokyo Paralympics में भविना पटेल ने रजत पदक पर कब्ज़ा किया
Lakshmi Kant Tiwari

टोक्यो पैरालंपिक में टेबल टेनिस खिलाड़ी भविना पटेल रजत पदक जीतने में कामयाब रहीं और इतिहास रच दिया। ओलंपिक्स/पैरालंपिक्स टेबल टेनिस में वह पदक जीतने वाली पहली भारतीय खिलाड़ी बनीं।

कौन हैं भविना पटेल?

भविना पटेल का जन्म मेहसीना,गुजरात में हुआ था। भविना के पिता हसमुखभाई एक छोटी सी दुकान चलाते हैं। इस दुकान से बहुत मुश्किल से पूरे परिवार की जरूरतें पूरी होती है। ऐसे में भविना का ये पदक उनके परिवार को एक अच्छी जिंदगी जीने में मदद करेगा।

एशियन पावरहाउस को पैरालंपिक में हराया

एशियन पावरहाउस चीन को हराकर गुजरात की भविना ने ये साबित कर दिया। "कुछ कर ऐसा दुनिया बनना चाहे तेरे जैसा"। किसी भी प्रतियोगिता में चीनी खिलाड़ियों को हराना आसान नहीं होता है, लेकिन भविना ऐसा करने में सफल रही हैं।

ओलंपिक/पैरालंपिक में भारत के लिए टेबल टेनिस में पहला पदक

ओलंपिक और पैरालंपिक खेलों के इतिहास में भवीना पटेल पहली टेबल टेनिस खिलाड़ी बन गई हैं जिन्होंने भारत के लिए मेडल जीता। ओलंपिक खेलों के बारे में बात करें तो शरत कमल और मनिका बत्रा से भारत को सबसे ज्यादा मेडल की उम्मीद थी, लेकिन दोनों खिलाड़ी ऐसा करने में असफल रहे हैं। ऐसे में भविना का पदक कब्जा जमाने भारत के लिए कई मामलों में खास है। राष्ट्रमंडल खेलों और एशियन गेम्स के बाद भारत में टेबल टेनिस की लोकप्रियता मिली। ऐसे में भविना के ये पदक टेबल टेनिस को और लोकप्रिय बनाने में मदद करेगा।

पैरालंपिक खेलों के मिलने वाले लोकप्रियता के मायने

एक समय था, जब क्रिकेट के अलावा अन्य खेलों की तवज्जो भारत में उतनी नहीं थी। फिर खिलाड़ी ओलंपिक में पदक जीतने लगे। जिसके बाद क्रिकेट द्वारा अन्य खेलों को तवज्जो मिलने लगी। साधारण खिलाड़ियों को सुविधा मिलता देख। दिव्यांग एथलीट को उसी प्रकार सहायता मिलने लगी। जिसके परिणाम पिछले 4 सालों में हर किसी को भरपूर देखने को मिला। दिव्यांग खिलाड़ियों की सूद लेने लगी। सरकार के तरफ से हर सुविधा मिलने के परिणाम भी देखना शुरू कर दिया । अब भारत को ऐसे खेलों में पदक मिल रहे हैं। जिसके कल्पना हमने और आपने नहीं की होगी। भवीना पटेल ने भले ही ये पदक पैरालंपिक में जीता है। बावजूद उनका ये पदक टेबल टेनिस जैसे अन्य खेलों से जुड़े खिलाड़ियों को पदक दिलाने में अहम भूमिका निभाएगा।

आइये नज़र डालते हैं भविना पटेल के करियर और उनकी उपलब्धियों पर:

1) 2009: अंतराष्ट्रीय टेबल टेनिस में किया पर्दापण

2) 2011: थाइलैंड ओपन में जीता रजत पदक

3) 2013: अंतराष्ट्रीय टेबल टेनिस में ये स्थान प्राप्त करने वाली पहली महिला खिलाड़ी बनीं।

4)2014: थाइलैंड ओपन में जीता कांस्य पदक

5) 2015:पीटीटी थाइलैंड ओपन में कांस्य पदक अपने नाम किया

6) 2017:एशियन चैंपियनशिप में जीता कांस्य पदक

7) 2019: बैंकाॅक ओपन में स्वर्ण पदक अपने नाम किया

8) 2020: इजीप्ट ओपन में स्वर्ण पदक जीता

9) 2021:विश्व नंबर 2,3,8 और खिलाड़ियों को हराकर जीता टोक्यो ओलंपिक में जीता रजत पदक

Tokyo Paralympics पदक तालिका


Edited by निशांत द्रविड़

Comments

Quick Links

More from Sportskeeda
Fetching more content...