भारत की पहली पेशेवर खो-खो लीग लॉन्च

Enter caption

खो-खो फेडरेशन ऑफ इंडिया ने देश की पहली फ्रेंचाइजी आधारित खो-खो लीग को लॉन्च किया। इसका नाम अल्टीमेट खो-खो है। नई दिल्ली में आयोजित हुए एक कार्यक्रम में इस लीग को लॉन्च किया गया। हालांकि अभी तक इसकी तारीख सामने नहीं आई है लेकिन सितंबर-अक्टूबर में इसके आयोजन की संभावना है।

इस मौके पर खेल मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि स्वदेशी खेल हमारी स्थानीय प्रतिभा और देश के मूल्यों की अभिव्यक्ति करते हैं। मुझे इस लीग की लॉन्चिंग पर बेहद खुशी हो रही है। इससे इस भारतीय खेल की लोकप्रियता में इजाफा होगा और इसके खिलाड़ियों और फैंस के लिए एक नया मार्ग प्रशस्त करेगा। इसके लिए मैं खो-खो फेडरेशन ऑफ इंडिया को बधाई देता हूं।

खो-खो फेडरेशन ऑफ इंडिया के अध्यक्ष सुधांशु मित्तल ने कहा कि खो-खो लीग के जरिए हम इस खेल को और लोकप्रिय बनाना चाहते हैं। इस लीग में भारत समेत खो-खो खेलने वाले अन्य देशों के खिलाड़ी भी शामिल होंगे।

आपको बता दें के अल्टीमेट खो-खो के पहले संस्करण में कुल 8 टीमें होंगी, जिनका नाम देश के प्रमुख क्षेत्रों के आधार पर रखा जाएगा। खिलाड़ियों के शुरूआती ड्रॉफ्ट में दुनिया भर के विभिन्न देशों जैसे-इंग्लैंड, दक्षिण कोरिया, ईरान गणराज्य, बांग्लादेश, नेपाल और श्रीलंका के जाने-माने खिलाड़ी शामिल होंगे। सभी टीमों को अपने स्क्वाड में अंडर-18 स्तर के खिलाड़ियों को भी शामिल करने का मौका मिलेगा। आधुनिक इन्डोर स्टेडियम में विशेष रूप से विकसित मैट पर 9 मिनट की 4 पारियों में सभी मैच खेल जाएंगे। इसका आयोजन कुल 21 दिनों तक चलेगा।

खो-खो खेल के बारे में जानकारी

खो खो कबड्डी के साथ भारत के सबसे लोकप्रिय पारंपरिक खेलों में से एक है। यह 'रन जेच' का संशोधित रूप है जिसमें बेहद चुस्ती और फुर्ती के साथ खिलाड़ी दूसरे खिलाड़ी को छूने की कोशिश करता है। इसे टैग-टीम खेलों में से एक माना जाता है।

App download animated image Get the free App now