अपने भारतीय ओलम्पियन को जानें: निशानेबाज़ काइनन चेनाई के बारे में 10 बातें

रियो ओलंपिक 2016 में इस बार भारत के कई निशानेबाजों का जलवा देखने को मिलेगा। इन्हीं में से एक और शूटर काइनन चेनाई भी हैं। जो ट्रैप इवेंट में निशाना लगायेंगे। आइये आपको इनके बारे में 10 बातें बताएं: #1 काइनन डारिउस चेनाई का जन्म 20 जनवरी 1991 में हैदराबाद के बहुत सम्मानित पारसी परिवार में हुआ था। #2 उनके पिता डेरियस चेनाई खुद राष्ट्रीय स्तर के चैंपियन निशानेबाज़ राह चुके हैं। आज के समय में वह एक सफल बिज़नेसमैन हैं। #3 चेनाई ने अपनी शुरूआती पढ़ाई हैदराबाद में की है, उसके बाद हेब्रोन स्कूल ऊटी में और उच्चतर शिक्षा उन्होंने जर्मन भाषा की तमिलनाडु में ली है। #4 अपने स्कूली दिनों में वह बहुत सारे खेल में भाग लेते थे। जिसमें हॉकी और फुटबॉल के अलावा वह साल 2004,2006 और 2009 में वह स्कूल स्तर पर फ्रीस्टाइल स्विमिंग चैंपियन भी रह चुके हैं। #5 साल 2003 में उन्होंने शॉटगन निशानेबाजी शुरू की जिसमें शुरू में उनके पिता ही उन्हें सिखाते थे। उसके बाद उन्हें दिग्गज और 4 बार के ओलम्पियन मनशेर सिंह कोचिंग दी। #6 चेनाई को बाहर घूमना, ट्रैकिंग, कैम्पिंग और फिशिंग करने का शौक है। जो खाली समय में वह करते रहते हैं। #7 जयपुर में हुए 50वें राष्ट्रीय शूटिंग चैंपियनशिप में साल 2007 में चेनाई ने जूनियर मेन्स ट्रैप शूटिंग इवेंट में भाग लिया था। जहाँ उन्होंने सोना जीता था। #8 साल 2008 में पुणे में हुए यूथ कामनवेल्थ खेलों में चेनाई ने स्वर्ण पदक जीता था। #9 काइनन ने साल 2008 में हुए 51वें राष्ट्रीय शूटिंग चैंपियनशिप में भाग लेते हुए अपने ख़िताब को बचाने में सफलता हासिल की। उनके पिता डेरियस ने इसी चैंपियनशिप में मेन्स ट्रैप का ख़िताब भी जीता था। #10 काइनन को इटली की आग निरोधक चीजें बनाने वाली कम्पनी बेरेट्टा स्पांसर करती है। इसके अलावा उन्हें एनजीओ ओलंपिक गोल्ड क्वेस्ट भी मदद करती है।

App download animated image Get the free App now