अपने भारतीय ओलंपियन को जानें: मेराज अहमद खान (शॉटगन स्कीट शूटिंग)

रियो ओलंपिक्स 2016 में भारत की ओर से शॉट गन स्कीट शूटिंग के खेल में मेराज अहमद खान हिस्सा लेंगे। सितंबर 2015 में इटली के लोनातो शॉटगन चैंपियनशिप से उन्होंने अपनी क्वालिफिकेशन पक्की की। ओलंपिक्स इतिहास में इस खेल के लिए भारत की ओर से क्वालीफाई करनेवाले ये पहले खिलाडी बने। ये रही मेराज अहमद सिंह से जुडी 10 बातें:

  1. 2 नवंबर 1975 को उत्तर प्रदेश के खुर्जा में एक मुस्लिम परिवार में हुआ।
  2. दस साल की उम्र में अंडर-12 की 50 मीटर राइफल शूटिंग प्रतियोगीता में वें तीसरे आएं थे और इनाम की राशी ₹ 30 का उन्होंने क्रिकेट का बल्ला ख़रीदा।
  3. उनके पिता राज्य स्तर के ट्रैप शूटर थे, लेकिन घर के व्यवसाय के कारण वें इस खेल में आगे नहीं बढ़ पाएं।
  4. खान बचपन में क्रिकेट खेला करते थे और जामिया यूनिवर्सिटी की ओर से वीरेंद्र सहवाग के साथ खेल चुके हैं। साल 1990 में उत्तर प्रदेश के सी के नायडू ट्रॉफी के लिए उन्हें अंडर-19 क्रिकेट टीम में भी शामिल किया गया था।
  5. अप्रैल 2016 में रियो में आयोजित ISSF विश्व कप SK125 इवेंट में उन्होंने रजत पदक हासिल क़िया। इसी शहर में 2016 का ओलिंपिक खेल भी आयोजित होनेवाला है।
  6. ओलिंपिक खेलों में शॉटगन स्कीट शूटिंग प्रतियोगता में वें भारत की ओर से इसमें भाग लेनेवाले पहले खिलाडी हैं।
  7. 24 साल की उम्र में वें प्रोफेशनल हुए और नेशनल ख़िताब तीन बार जीत चुके हैं।
  8. दिल्ली के 2010 कामनवेल्थ खेलों में वें टीम इवेंट में स्वर्ण पदक हासिल कर चुके हैं।
  9. 2011 में एशियाई शॉट गन प्रतियोगिता में वें स्वर्ण पदक हासिल कर चुके हैं।
  10. जल्द ही उनकी आत्मकथा "हार्ड टारगेट" रिलीज़ होगी, जिसमें उन्होंने अपने करियर के बारे में जानकारी दी है।
लेखक: तेजस, अनुवादक: सूर्यकांत त्रिपाठी
App download animated image Get the free App now