Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

लैंडो नॉरिस ने बेवकूफी और लावरवाही भरे बयान के लिए माफी मांगी

लैंडो नॉरिस
लैंडो नॉरिस
Vivek Goel
SENIOR ANALYST
Modified 28 Oct 2020, 14:41 IST
न्यूज़
Advertisement

मैक्‍लेरन के लैंडो नॉरिस ने मंगलवार को सार्वजनिक रूप से बिना किसी का नाम लिए माफी मांगी। लैंडो नॉरिस ने शनिवार को पुर्तगाल ग्रां पी में हमवतन लुईस हैमिल्‍टन की रिकॉर्ड 92वीं जीत पर अच्‍छी तरह प्रतिक्रिया नहीं दी थी। 20 साल के लैंडो मॉरिस इस ग्रिड में सबसे युवा ड्राइवर थे। लैंडो नॉरिस की कड़ी आलोचना हुई जब कनाडाई लैंस स्‍ट्रोल से रेस के दौरान उनकी भिड़ंत हुई। नॉरिस 13वें स्‍थान पर रहे जबकि स्‍टीवर्ड्स ने स्‍ट्रोल को घटना के लिए सजा दी।

लैंडो नॉरिस ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर लिखा, 'मैं माफी मांगता हूं। मैंने बेवकूफी और लापरवाही की। कुछ चीजें मीडिया और इंटरव्‍यू में मैंने देरी से की और उन लोगों की इज्‍जत नहीं की, जो करनी चाहिए थी। मैं उस तरह का व्‍यक्ति नहीं हूं। इसलिए मैं उन सभी से माफी मांगता हूं और उन सबसे भी जो ये पढ़ या सुन रहे हैं। माफी।'

लैंडो नॉरिस ने लुईस हैमिल्‍टन के बारे में दिया था अटपटा बयान

लैंडो नॉरिस से रेस के बाद टीवी इंटरव्‍यू में पूछा गया था कि लुई हैमिल्‍टन के सबसे सफल एफ1 ड्राइवर बनने के बारे में आप क्‍या कहना चाहेंगे। दरअसल, हैमिल्‍टन ने महान फेरारी ड्राइवर माइकल शूमाकर का रिकॉर्ड तोड़ा था। इस पर ब्रिटेन ने लैंडो नॉरिस ने जवाब दिया, 'मैं बस उनके लिए खुश हूं और कुछ नहीं। यह मेरे लिए मायने नहीं रखता। वो उस कार में है जो हर रेस जीतती है। उन्‍हें बस एक या दो ड्राइवर को मात देनी होती है। बस। उनके साथ का खेल साफ है। वो अपना वही काम कर रहे हैं, जो उन्‍हें करना है।'

बता दें कि लुईस हैमिल्‍टन ने इस सीजन में 12 रेस जीती और वह रिकॉर्ड सातवें खिताब की बराबरी करने के लिए आगे बढ़ रहे हैं। इससे वह एफ1 इतिहास के सबसे सफल ड्राइवर बन जाएंगे। ब्रिटन ने 2014 से शुरू हुए वी6 टर्बो हाइब्रिड युग में प्रति सीजन कम से कम 10 जीत दर्ज की। मर्सीडीज ने आखिरी छह चैंपियनशिप जीती और अब इटली में अगले सप्‍ताह सातवीं चैंपियनशिप जीतने की तैयारी में जुटी है। लैंडो नॉरिस ने पिछले साल फॉर्मूला वन डेब्‍यू किया और अब तक एक पोडियम फिनिश के साथ 33 शुरूआत की।

याद हो कि लुईस हैमिल्‍टन ने पुर्तगाल ग्रां पी जीतकर इतिहास रच दिया था। मर्सीडीज के ड्राइवर लुईस हैमिल्‍टन ने करियर की 92वीं जीत दर्ज की और फॉर्मूला वन में सबसे ज्‍यादा रेस जीतने वाले ड्राइवर बने। लुईस हैमिल्‍टन ने रिटायर्ड फेरारी के महान ड्राइवर माइकल शूमाकर (91 जीत) का रिकॉर्ड तोड़ा। हैमिल्‍टन ने पुर्तगाल ग्रां पी जीतने के बाद कहा, 'मुझे पता था कि हम चैंपियनशिप्‍स जीत सकते हैं। क्‍या मैंने कभी इतना सोचा था, जितना है? नहीं। क्‍या मैंने सोचा था कि हम इतनी रेस जीतेंगे? बिलकुल भी नहीं। यह हमारे लिए शानदार समय है और अच्‍छी बात यह है कि सिर्फ मैं नहीं हूं। जिंदा रहने का क्‍या समय है।'

Published 28 Oct 2020, 14:41 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now
❤️ Favorites Edit