Asian Games 2023 : रोमांचक स्क्वॉश फाइनल में पाकिस्तान को हराकर भारतीय पुरुष टीम ने जीता गोल्ड

भारत के अभय सिंह (नीली जर्सी) और पाकिस्तान के जमान के बीच बेहद रोमांचक निर्णायक मैच हुआ।
भारत के अभय सिंह (नीली जर्सी) और पाकिस्तान के जमान के बीच बेहद रोमांचक निर्णायक मैच हुआ।

भारतीय पुरुष स्क्वॉश टीम ने हांगझाओ एशियन गेम्स में गोल्ड जीतने में कामयाबी हासिल की है। टीम इवेंट के फाइनल में भारत ने बेहद कड़े मैच में शानदार वापसी कर चिर-प्रतिद्वंदी पाकिस्तान को 2-1 से हराकर दूसरी बार इस स्पर्धा का गोल्ड मेडल जीतने में कामयाबी पाई। सौरव घोषाल, अभय सिंह और महेश मांगगाओंकर ने फाइनल में भारत का प्रतिनिधित्व किया। एशियाड में भारत ने हर बार स्क्वॉश में पुरुष टीम स्पर्धा में मेडल हासिल किया है।

गोल्ड मेडल के लिए हुए पहले मैच में पाकिस्तान के इकबाल नासिर ने भारत के महेश मंगाओंकर को आसानी से 3-0 से मात दी। इकबाल ने यह मैच 11-8, 11-3, 11-2 से जीता। लेकिन दूसरे मैच में भारत के सबसे अनुभवी स्क्वॉश खिलाड़ी सौरव घोषाल ने बेहतरीन प्रदर्शन कर पाकिस्तान के मुहम्मद आसिम को 3-0 से हराकर मुकाबला 1-1 से बराबर कर दिया। लेकिन तीसरा मुकाबला बेहद रोमांचक रहा।

पाकिस्तान के जमान नूर और अभय सिंह के मुकाबले ने सभी की सांसों को थाम दिया। अभय ने पहला सेट 11-7 से जीता तो जमान ने 11-9, 11-8 से अगले दोनों सेट जीतकर मुकाबला अपनी तरफ झुका दिया। चौथे सेट में एक समय जमान 6-5 से आगे थे और उनकी जीत तय लग रही थी, लेकिन यहां वापसी कर अभय ने 11-9 से सेट जीता और मुकाबला निर्णायक सेट में गया। यहां अंत तक दोनों खिलाड़ियों में काफी जोरदार मुकाबला हुआ। दोनों कई बार एक-दूसरे से तल्ख होते हुए भी दिखे। अभय ने 12-10 से सेट जीत भारत को 2-1 से जीत दिलाई और गोल्ड मेडल हासिल कर लिया।

भारतीय पुरुष टीम ने साल 2014 के इंचियोन एशियन गेम्स में गोल्ड मेडल जीता था। 2010 में जब टीम ईवेंट पहली बार इन खेलों में शामिल हुआ तो भारतीय टीम को ब्रॉन्ज मेडल मिला था। 2018 के एशियन गेम्स में भी पुरुष टीम को ब्रॉन्ज मेडल प्राप्त हुआ था। खास बात यह है कि सौरव घोषाल हर बार पदक जीतने वाली भारतीय टीम का हिस्सा रहे हैं।

आएंगे और मेडल !

हांगझाओ एशियन गेम्स में भारतीय महिला टीम ने एक दिन पहले ही ब्रॉन्ज मेडल हासिल कर चुकी है। अब भारत के कुल पदकों की संख्या 36 हो गई है जिसमें 10 गोल्ड मेडल हैं। फिलहाल पदक तालिका में भारत चौथे नंबर पर है। स्क्वॉश में अब एकल और डबल्स मुकाबले शुरु होंगे और यहां से भी भारत पदकों की उम्मीद कर सकता है।

Edited by निशांत द्रविड़