Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

रितु फोगाट ने फिर किया धमाल, लगातार चौथा एमएमए चैंपियनशिप खिताब जीता

रितु फोगाट
रितु फोगाट
Vivek Goel
FEATURED WRITER
Modified 05 Dec 2020
न्यूज़

भारतीय पहलवान से मिक्‍स्‍ड मार्शल आर्ट्स (एमएमए) फाइटर बनी रितु फोगाट ने एक और सफलता हासिल करते हुए देश का नाम रोशन किया है। रितु फोगाट ने लगातार चौथा एमएमए चैंपियनशिप खिताब अपने नाम किया है। रितु फोगाट ने बेहतरीन प्रदर्शन दिखाया और फिलीपीन की जोमारी टोरेस को वन चैम्पियनशिप के पहले दौर में तकनीकी नॉकआउट में हरा दिया। रितु फोगाट ने अपने पेशेवर करियर में अपराजित रिकॉर्ड को अब तक कायम रखा है। 

जीत के बाद रितु फोगाट ने कहा, 'मैं लगातार अच्छे प्रदर्शन की कोशिश कर रही हूं। यह आसान मैच नहीं था, लेकिन भविष्य में चुनौतियां और भी कठिन होंगी। अब मेरा ध्यान वन महिला एटमवेट ग्रां प्री जीतने पर है और मैं मेहनत कर रही हूं।' पता हो कि फोगाट की तुलना में टोरेस के खाते में ज्‍यादा फाइट दर्ज थी। उसने 8 फाइट कर रखी थीं जबकि फोगाट ने तीन फाइट की थीं। रितु फोगाट ने अपने रेसलिंग करियर में तीन भारतीय नेशनल चैंपियनशिप्‍स और 2016 में कॉमनवेल्‍थ रेसलिंग चैंपियनशिप्‍स में गोल्‍ड मेडल जीता था।

गौरतलब है कि रितु फोगाट ने सिंगापुर में अपना लगातार तीसरा एमएमए चैंपियनशिप खिताब जीता था। उन्‍होंने तकनीकी नॉकआउट के आधार पर कंबोडिया की नाउ स्रे पोव को दूसरे दौर में ही शिकस्‍त दे डाली थी। रितु ने एमएमए चैंपियनशिप में अपना रिकॉर्ड 3-0 से बेहतर किया था जबकि नाउ स्रे पोव का स्‍कोर 1-2 हो गया था। रेफरी ने तीन राउंड के कॉन्‍टेस्‍ट में दूसरे राउंड में दो मिनट और दो सेकंड पर खेल रोक दिया था।

रितु फोगाट इस तरह बनी एमएमए रेसलर

रितु फोगाट का जन्‍म 2 मई 1994 को हरियाणा के बलाली में हुआ। वह पूर्व पहलवान महावीर सिंह फोगाट की तीसरी बेटी हैं। रितु फोगाट ने महज 8 साल की उम्र से रेसलिंग की ट्रेनिंग शुरू कर दी थी। रितु फोगाट ने रेसलिंग में अपना करियर बनाने के लिए 10वीं के बाद पढ़ाई भी छोड़ दी थी। ध्‍यान हो कि रितु फोगाट ने 2016 कॉमनवेल्‍थ रेसलिंग चैंपियनशिप में 48 किग्रा वर्ग में गोल्‍ड मेडल जीता था।

2016 दिसंबर में रितु फोगाट प्रो रेसलिंग लीग की नीलामी में बिकने वाली सबसे महंगी पहलवान बनीं थीं। जयपुर निंजा फ्रेंचाइजी ने रितु फोगाट को 36 लाख रुपए में खरीदा था। 2017 में रितु फोगाट ने विश्‍व अंडर-23 रेसलिंग चैंपियनशिप में सिल्‍वर मेडल जीता था। यह भारत का प्रतिष्ठित चैंपियनशिप में पहला सिल्‍वर मेडल था। 2019 फरवरी में रितु फोगाट ने वन चैंपियनशिप के साथ करार किया और अपना करियर मिक्‍स्‍ड मार्शल आर्ट में बनाने की ठानी। पेशेवर करियर में अब तक रितु फोगाट का प्रदर्शन शानदार रहा है और उनकी टीम को विश्‍वास है कि वह भविष्‍य में भी अपराजेय रिकॉर्ड को कायम रखने में कामयाब रहेंगी।

Published 05 Dec 2020, 17:29 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now