Create
Notifications

भारतीय टीम में जगह न मिलने पर मनिका बत्रा पहुंची दिल्ली हाई कोर्ट, सेलेक्शन को लेकर विवाद

मनिका बत्रा टीम में शामिल नहीं किए जाने को लेकर हाई कोर्ट गई हैं।
मनिका बत्रा टीम में शामिल नहीं किए जाने को लेकर हाई कोर्ट गई हैं।
Hemlata Pandey

टोक्यो ओलंपिक में कोच विवाद के बाद भारतीय टेबल टेनिल स्टार मनिका बत्रा एक बार फिर सुर्खियों में हैं। मनिका एशियन चैंपियनशिप के लिए भारतीय टीम में शामिल नहीं किए जाने को लेकर दिल्ली हाई कोर्ट पहुंच गई हैं। मनिका ने कोर्ट के सामने टीम के सेलेक्शन प्रोसेस को लेकर गुहार लगाई है।

दोहा में 28 सितंबर से 5 सितंबर तक होने वाली एशियन चैंपियनशिप के लिए पिछले हफ्ते भारतीय टीम की घोषणा हुई थी। मनिका को इस टीम में शामिल नहीं किया गया है। TTFI यानि टेबल टेनिस फेडरेशन ऑफ इंडिया के मुताबिक मनिका ने हरियाण के सोनीपत में हुए नेशनल कैम्प में हिस्सा लेने की बजाय अपनी ट्रेनिंग पर्सनल कोच के साथ पुणे में की। ऐसे में उनका सेलेक्शन नहीं किया गया है। मनिका इसी बात को लेकर कोर्ट के दरवाजे पर पहुंची हैं और कोर्ट ने केंद्र से पूरे मामले में जवाब दाखिल करने को कहा है।

क्या है पूरा मामला

दरअसल टोक्यो ओलंपिक के दौरान मनिका बत्रा अपने मुकाबलों में निजी कोच को साथ ले जाना चाहती थीं, जबकि अन्य सभी खिलाड़ियों के मैच के दौरान नेशनल कोच सौम्यदीप रॉय साथ होते थे। मनिका ने रॉय की मौजूदगी में मैच खेलने से मना किया और उनके किसी भी मुकाबले में रॉय कॉर्नर में नहीं थे और न ही मनिका के पर्सनल कोच को एंट्री मिल पाई। मनिका ने महिला एकल के तीसरे दौर में हार के बाद ये बयान भी दे दिया कि कोचिंग में हुए गफलत की वजह से प्रदर्शन पर असर पड़ा।

मनिका और नेशनल कोच सौम्यदीप के बीच का विवाद पूरे मामले की जड़ है।
मनिका और नेशनल कोच सौम्यदीप के बीच का विवाद पूरे मामले की जड़ है।

इसके बाद मामले ने तूल पकड़ा जब TFFI ने मनिका से जवाब मांगा। मनिका ने जवाब देते हुए आरोप लगाया कि ओलंपिक क्वालिफायर्स के दौरान सौम्यदीप ने उन्हें जानबूझकर मैच हारने को कहा जिसकी जांच TFFI द्वारा गठित पैनल कर रहा है। इन सबके बाद मनिका ने नेशनल कैम्प में शामिल होने से मना कर दिया क्योंकि उनके मुताबिक वह मैच फिक्सिंग के लिए उकसाने वाले कोच के साथ काम नहीं कर पाएंगी और पुणे में निजी कोच सन्मय परांजपे के साथ प्रैक्टिस करती रहीं। TFFI ने इसे अनुशासनहीनता मानते हुए उन्हें टीम में जगह देने की बजाय सिर्फ उन खिलाड़ियों को टीम में रखा जो नेशनल कैम्प में थे। अब यह पूरा मामला कोर्ट के सामने चला गया है।

कौन हैं भारतीय टीम का हिस्सा

विश्व की 56वें नंबर की महिला खिलाड़ी मनिका की अनुपस्थिति में 97वीं रैंकिंग वाली सुतीर्था मुखर्जी महिला टीम की अगुवाई करेंगी। इनके अलावा अयहिका मुखर्जी और अर्चना कामथ भी टीम में शामिल की गई है। पुरुष टीम में कॉमनवेल्थ गेम्स गोल्ड मेडलिस्ट शरत कमल टीम को लीड करेंगे। कमल के साथ जी सथियान, हरमीत देसाई, मानव ठक्कर और सनिल शेट्टी टीम का हिस्सा हैं।


Edited by निशांत द्रविड़

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...