Create

Tokyo Olympics - जिमनास्टिक में महिलाओं के कपड़ों को चुनने की आजादी के लिए जर्मनी आया आगे

ओलंपिक में इस तरह पहली बार महिला जिमनास्ट खिलाड़ियों ने Unitard पहनकर प्रतिभाग किया है।
ओलंपिक में इस तरह पहली बार महिला जिमनास्ट खिलाड़ियों ने Unitard पहनकर प्रतिभाग किया है।
Hemlata Pandey

21वीं सदी में समाज में बराबरी, जीवन जीने की आजादी और सुदृढ़ समाज की बात हम सब पढ़ रहे हैं, देख रहे हैं और बदलाव को महसूस भी कर रहे हैं, ऐसे में टोक्यो ओलंपिक की जिमनास्टिक स्पर्धा में भी जर्मनी की महिला खिलाड़ियों के एक कदम ने इस खेल की रुढ़िवादी मानसिकता पर चोट की है।

जिमनास्टिक में नहीं पहनी बिकनी कट पोशाक

सामान्यत: इस प्रकार के Leotard पहनकर प्रदर्शन की अपेक्षा महिला जिमनास्ट से की जाती है।
सामान्यत: इस प्रकार के Leotard पहनकर प्रदर्शन की अपेक्षा महिला जिमनास्ट से की जाती है।

आर्टिस्टिक जिमनास्टिक स्पर्धा के लिए जर्मनी की महिला टीम की खिलाड़ियों ने सामान्य रूप से महिलाओं द्वारा पहने जाने वाले Leotard, जो कि बिकनी कट वाली पोशाक होती है, की जगह Unitard को पहनकर मैदान में उतरने का फैसला किया। Unitard पूरे शरीर को ढकने वाली पोशाक है और जर्मनी की खिलाड़ियों के मुताबिक वो इस खेल में महिलाओं के बढ़ते Sexualisation के खिलाफ हैं और इसलिए ये कदम उठाया।

Unitard पहनकर Uneven Bars पर प्रदर्शन करती जर्मनी की खिलाड़ी।
Unitard पहनकर Uneven Bars पर प्रदर्शन करती जर्मनी की खिलाड़ी।

जर्मनी की महिला टीम की 4 खिलाड़ियों - सारा वोस, ऐलिजाबेथ सीत्ज, किम बुई और पॉलीन शैफर ने साल 2021 की यूरोपियन चैंपियनशिप के दौरान भी Leotard के स्थान पर Unitard पहना था और जिमनास्टिक के खेल में महिला खिलाड़ियों को जबरन बिकनी कट वाली ड्रेस पहनाने की मानसिकता का विरोध किया था। जर्मनी की इस कोशिश का कई देशों ने समर्थन किया है।

कई बार असहज होता है Leotard

पुरुष जिमनास्ट के लिए ऐसे नियम
पुरुष जिमनास्ट के लिए ऐसे नियम

दरअसल, Puberty के बाद लड़कियों के शरीर में बदलाव आते हैं, जिस कारण कई लड़कियां जिमनास्टिक में Leotard पहनकर खेलने में सहज महसूस नहीं करतीं। इसके साथ ही जिमनास्टिक में कुछ नियम खासे अजीब हैं जो विशेष रूप से महिलाओं को असहज महसूस करवाने वाले माने जाते हैं। जैसे यदि जिमनास्टिक की कोई भी स्पर्धा में भाग लेते हुए खिलाड़ी के कपड़े खिसक जाएं और वो उसे ठीक करे तो इसके भी नंबर कट जाते हैं। यही नहीं यदि कोई मूव करते हुए किसी महिला जिमनास्ट की ब्रा का स्ट्रैप दिख जाए तो यह भी नंबर कम करवा देता है। ऐसे में महिला खिलाड़ी इन रुढ़िवादी नियमों से लड़ने और अपनी मर्जी और कम्फर्ट के हिसाब से जिमनास्टिक के कपड़े चुनने के पक्ष में हैं।

अंतर्राष्ट्रीय जिमनास्ट फेडरेशन ने किया समर्थन

खास बात ये है कि Internation Gymnastics Federation, जो पूर्व में इस प्रकार के मुद्दों पर रुढ़िवादी रुख अपनाती थी, ने इस बार खिलाड़ियों को Leotard या Unitard चुनने की आजादी दी है। IGF का मानना है कि जब तक महिला जिमनास्ट की फ्लेक्सिबिलिटी पर इससे कोई असर नहीं पड़ता, तब तक उन्हें कोई दिक्कत नहीं है। ऐसे में जर्मनी की टीम का प्रयास उन भी लड़कियों और महिलाओं के लिए प्रेरणा है जो कई बार असहजता की वजह से जिमनास्टिक के खेल से खुद को अलग कर लेती हैं। इसलिए यह अच्छा है कि महिला जिमनास्ट अपने कपड़ों की बजाय अपने खेल पर ध्यान दे सकती हैं। जिमनास्ट Leotard पहनें या Unitard, उनका प्रदर्शन उन्हें मेडल दिलाए, यही मांग है इन महिला जिमनास्ट की।

Tokyo Olympics पदक तालिका


Edited by निशांत द्रविड़

Comments

comments icon

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...