Create

Ultimate Kho Kho: मुंबई खिलाड़ीज ने राजस्थान वॉरियर्स को 8 अंकों से हराकर अपनी पहली जीत दर्ज की, ओडिशा ने चेन्नई को हराया 

अल्टीमेट खो खो में मुंबई ने खोला अपनी जीत का खाता (Photo: Ultimate Kho Kho)
अल्टीमेट खो खो में मुंबई ने खोला अपनी जीत का खाता (Photo: Ultimate Kho Kho)
Narender

मुंबई खिलाड़ीज ने महाराष्ट्र के महालुंगे स्थित श्री शिव छत्रपति स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स में जारी अल्टीमेट खो-खो के उद्घाटन संस्करण में अपने दूसरे मैच में सोमवार को राजस्थान वॉरियर्स के खिलाफ आठ अंकों की शानदार जीत हासिल करते हुए अपना खाता खोला। दूसरे मैच में ओडिसा जगरनॉट्स ने चेन्नई क्विक गन्स को भी आठ अंकों के अंतर से हराया।

उद्घाटन के दिन अपना पहला मैच गंवाने वाली मुम्बई खिलाड़ीज टीम ने यह मैच 51-43 के स्कोर से जीता। अल्टीमेट खो खो के दूसरे दिन एक विशेष समारोह में भारतीय सेना के बॉम्बे इंजीनियरिंग ग्रुप के ब्रास बैंड द्वारा राष्ट्रगान बजाया गया। इस दिन भारत के 75वें स्वतंत्रता दिवस के जश्न का मनाने के लिए दो शानदार भारतीय परंपराएं एक साथ नजर आईं।

इस घरेलू खेल की तरह, बॉम्बे इंजीनियरिंग ग्रुप का भी एक लंबा और विशिष्ट इतिहास रहा है। इसकी स्थापना 300 साल पहले हुई थी। इसने युद्ध और शांति के समय में राष्ट्र की सेवा की है, पुरस्कार अर्जित किए हैं और अपने निस्वार्थ बलिदानों के लिए राष्ट्र का आभार और पहचान प्राप्त की है।

मुंबई के गजानन शेंगल ने अटैक में प्रभावित किया। गजानन ने दो पोल डाईव और एक स्काई डाइव के साथ कुल 16 अंक बनाए।

मुंबई खिलाड़ीज ने टॉस जीता और रोहन कोरे के साथ कप्तान विजय हजारे के रूप में डिफेंस का फैसला किया। अविक सिंघा ने इसकी कार्यवाही शुरू की। अगले आधे मिनट में बैच के आउट होने से पहले निखिल ने राजस्थान के लिए लीग के पहले मैच में ही कप्तान हजारे को पकड़ लिया। मुंबई के तीसरे बैच के फैजानखा पठान कुशल डिफेंस का प्रदर्शन करते हुए नाबाद रहे, लेकिन राजस्थान वारियर्स ने 18-4 की बढ़त के साथ पहला टर्न समाप्त किया।

मुंबई खिलाड़ीज ने अपना आक्रामक रुख अटैक के समय भी जारी रखा। उसने तीन विपक्षी बैचों को पकड़कर पहली पारी को अपने पक्ष में 29-20 पर समाप्त किया।

राजस्थान ने पहले टर्न में 41-33 के स्कोर के साथ आठ अंक की बढ़त लेने के लिए अटैक के माध्यम से 21 अंक अर्जित किए। हालांकि, मुंबई ने अंतिम टर्न में 18 अंक हासिल करते हुए मैच पर अपनी पकड़ बना ली। इस तरह उन्होंने 51-43 के स्कोर के साथ मैच अपने नाम कर लिया।

मुंबई खिलाड़ीज के श्रीजेश एस. ने डिफेंडर ऑफ द मैच का पुरस्कार जीता जबकि कप्तान हजारे को अल्टीमेट खो ऑफ द मैच चुना गया। राजस्थान के मजार जमादार को अटैकर ऑफ द मैच का पुरस्कार दिया गया।

लीग के सीजन-1 में छह फ्रेंचाइजी टीमें- चेन्नई क्विक गन्स, गुजरात जायंट्स, मुंबई खिलाड़ीज, ओडिशा जगरनॉट्स, राजस्थान वॉरियर्स और तेलुगु योद्धा खेल रही हैं। इन टीमों के बीच 22 दिनों तक प्रतिस्पर्धा होगी।

लीग का प्रसारण सोनी स्पोर्ट्स नेटवर्क पर पांच अलग-अलग भाषाओं में किया जा रहा है। सोनी टेन 1 (अंग्रेजी), सोनी टेन 3 (हिंदी और मराठी) सोनी टेन 4 (तेलुगु और तमिल) और साथ ही साथ ओटीटी प्लेटफार्म- सोनी लिव इसका प्रसारण शुरू हो चुका है।

लीग के प्रत्येक दिन दो मैच खेले जाएंगे, जिनका लाइव कवरेज भारतीय समयानुसार शाम 7:00 बजे से शुरू होगा। सीजन 1 में, सभी टीमें लीग चरण के दौरान दो बार एक-दूसरे के खिलाफ खेलेंगी। शीर्ष -4 में ने वाली टीमें नॉकआउट चरण में खेलेंगी। इसके बाद प्लेऑफ मुकाबले खेले जाएंगे।

टीवी पर लाइव एक्शन देखें: सोनी टेन 1 (अंग्रेजी), सोनी टेन 3 (हिंदी और मराठी), सोनी टेन 4 (तेलुगु और तमिल) और सोनी लिव पर।

Press Release


Edited by Narender

Comments

Quick Links

More from Sportskeeda
Fetching more content...