Rio Olympics 2016: USA की महिला टीम 4x100 मीटर रिले रेस में ट्रैक पर अकेली क्यों दौड़ी ?

relay

गुरुवार को रियो ओलंपिक्स में महिलाओं की 4x100 मीटर रेस की क्वालिफाइंग हीट के दौरान सबको हैरानी हुई, जब डिफैंडिंग चैंपियन अमेरिका की टीम की एथलीट ने रेस के दौरान बैटन को गिरा दिया। इस हीट के दौरान जमैका की टीम ने सबसे तेज समय निकालकर रेस पूरी की। रिले रेस हमेशा से ही एथलीट्स की कड़ी परीक्षा लेती हैं, क्योंकि किसी भी एथलीट के एक गलती पूरी टीम का मेडल जीतने का सपना चूर-चूर कर सकती है। यूएस टीम की दूसरी रनर एलिसन फैलिक्स जब तीसरी रनर इंग्लिश गार्डनर को बैटन दे रही थी, तब वो बैटन गिर गई। गार्डनर को समझ नहीं आय़ा कि फैलिक्स का बैलेंस बिगड गया, जिसकी वजह से उन्होंने बैटन गिरा दी। जब गार्डनर को बैटन नहीं मिली तो उन्होंने पीछे मुडकर देखा कि बैटन ट्रैक पर गिरी हुई और फैलिक्स के चेहरे पर मायूसी साफ तौर पर देखी जा सकती थी। हालांकि यूएस टीम ने बाद में रेस पूरी की, उन्होंने क्वालीफाई करने वाली टीमों से 1 मिनट 22 सेकेंड का ज्यादा समय लिया। यूएस टीम की अपील कामयाब हुई रेस के तुरंत बाद USA की ट्रैक एंड फील्ड टीम ने रियो गेम्स की ज्यूरी के सामने अपील फाइल कर दी। जिसमें उन्होंने बताया कि ब्राजीलियन टीम की दखल की वजह से फैलिक्स के हाथ से बैटन गिर गई थी। रेस के रीप्ले देखने के बाद साफ हुआ की ब्राजीलियन टीम की वजह से अमेरिकी खिलाड़ी के हाथ से बैटन गिरी। इसके बाद ब्राजीलियन टीम को डिस्क्वालीफाई कर दिया गया और USA की टीम को क्वालीफाई करने का दूसरा मौका मिला। अमेरिका की टीम ट्रैक पर अकेली दौड़ी और उन्हें सबसे अच्छा समय निकालकर फाइनल के लिए क्वालीफाई किया। अमेरिका की टीम ने 41.77 सेकेंड के साथ रेस पूरी की, जोकि जैमका के 41.79 से कम समय था। relay won डिस्क्वालीफिकेशन की कगार पर खड़ी अमेरिका की टीम ने सबसे तेज समय के साथ फाइनल में प्रवेश किया। चीन की टीम जोकि 8वें स्थान पर आकर फाइनल में जगह बना पाई थी। उन्हें अमेरिका के फाइनल में जगह बनाने के बाद फाइनल से बाहर कर दिया। हालांकि इसको लेकर चीन ने अपील दायर की, लेकिन वो कामयाब नहीं हो पाए।

Edited by Staff Editor