विश्व कप के बाद से ही एमएस धोनी के भविष्य को लेकर सवाल उठने लगे 

Hindi Cricket News: धोनी द्वारा अपनी मर्जी के मुताबिक सीरीज खेलने या छोड़ने को लेकर गौतम गंभीर ने दी बड़ी प्रतिक्रिया 

  • गौतम गंभीर ने कहा कि संन्यास का फैसला निजी होता है।
Prashant Kumar
ANALYST
Modified 26 Sep 2019, 21:27 IST

पूर्व भारतीय ओपनिंग बल्लेबाज गौतम गंभीर ने गुरुवार को कहा कि भारतीय चयनकर्ताओं को पूर्व भारतीय कप्तान एमएस धोनी से उनके भविष्य को लेकर बात करनी चाहिए। धोनी विश्व कप 2019 के बाद से ही क्रिकेट से दूर हैं। उन्होंने खुद को वेस्टइंडीज और साउथ अफ्रीका के खिलाफ सीरीज के लिए उपलब्ध नहीं बताया था और अब ख़बरें की माने तो उन्होंने बांग्लादेश के खिलाफ नवम्बर में होने वाली टी20 सीरीज के लिए भी खुद को उपलब्ध नहीं बताया है। विश्व कप के दौरान दिग्गजों ने धोनी के धीमे खेल की आलोचना की थी।

गंभीर ने कहा,"मैंने हमेशा ही कहा है कि संन्यास लेना किसी भी खिलाड़ी का व्यक्तिगत फैसला है। मेरे हिसाब से चयनकर्ताओं को धोनी से बात करके उनकी भविष्य की योजनाओं के बारे में पूछना चाहिए। आखिर में आप जब भारतीय टीम के लिए खेलते हो तो आप अपनी मर्जी के मुताबिक सीरीज खेल या छोड़ नहीं सकते।"

Advertisement
Ad

यह भी पढ़े: 3 दिग्गज बल्लेबाज जिन्होंने वनडे क्रिकेट में एक भी शतक नहीं बनाया

गौतम गंभीर ने रोहित शर्मा को टेस्ट में ओपनिंग कराये जाने के फैसले की तारीफ की और कहा कि आप रोहित शर्मा जैसे बेहतरीन खिलाड़ी को टीम से बाहर नहीं बिठा सकते।

उन्होंने कहा," यदि कोई खिलाड़ी विश्व कप जैसे टूर्नामेंट में 5 शतक लगता हैं तो उसे निश्चित तौर पर टेस्ट प्रारूप में मौका दिया जाना चाहिए। अगर उन्हें टेस्ट टीम में शामिल किया गया है तो जरूर खिलाना चाहिए। रोहित जैसे खिलाड़ी का बेंच में बिठाना अच्छा नहीं।"

गंभीर ने कप्तान विराट कोहली और कोच रवि शास्त्री को भी ऋषभ पंत से भी बात करने की सलाह दी है और कहा कि उन पर बेवजह का दवाब ना बनाया जाये।

Hindi Cricket Newsसभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं।

Advertisement
Ad
Published 26 Sep 2019, 21:27 IST
 
See more comments
 
 
×