विराट कोहली

विराट कोहली टेस्ट चैंपियनशिप के नए नियमों से हैं नाखुश

  • टेस्ट चैंपियनशिप नियम बदलने से भारत की रैंक में भी बदलाव आया है
  • भारतीय टीम इससे पहले टेस्ट चैंपियनशिप रैंक में सबसे ऊपर थी
निरंजन
ANALYST
Modified 27 Nov 2020, 21:44 IST

भारतीय कप्तान विराट कोहली आईसीसी के द्वारा वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के नियमों में बदलाव के निर्णय से नाखुश नजर आ रहे हैं। विराट ने इस बदले नियम को भ्रमित करने वाला बताया साथ ही उन्होंने कहा कि आईसीसी को इसके बारे में पहले बताना चाहिए था। आईसीसी ने पिछले हफ्ते वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप में खेले गए मैचों में अंकों के प्रतिशत के आधार पर टीमों की रैंकिंग तैयार करने का फैसला किया था। इसके बाद वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप में बदलाव के कारण शीर्ष स्थान पर काबिज भारतीय टीम अब दूसरे स्थान पर खिसक गयी है और ऑस्ट्रेलिया पहले पायदान पर पहुँच गयी है।  

विराट कोहली ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले वनडे मैच से पहले शाम को वीडियो कॉन्फ्रेंस में बात करते हुए कहा, "यह निश्चित रूप से आश्चर्यजनक है क्योंकि हमें बताया गया था जिन टीमों के सबसे ज्यादा अंक होंगे, उसी के आधार पर टॉप 2 टीम का निर्णय होगा। अब अचानक से यह निर्णय प्रतिशत के आधार पर लिया जायेगा। मेरे लिए यह समझ से परे है कि ऐसा निर्णय क्यों लिया गया। अगर इसके बारे में हमें पहले दिन से मालूम होता तो हमारे लिए इस बदलाव को समझना आसान होता। यह सब अचानक से हुआ और हमें इस बारे में आईसीसी से प्रश्न पूछने चाहिए कि उन्होंने ऐसा क्यों किया।"

Advertisement
Ad

वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप में नियमों के बदलाव के पीछे की बड़ी वजह 

कोरोना जैसी महामारी के कारण वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के अंतर्गत कई सीरीज रद्द हो गयी और कुछ को आगे बढ़ाना पड़ा। ऐसे में आईसीसी ने नियमों में बदलाव करने का निर्णय लिया ताकि उन टीमों का नुकसान ना हो जिनकी सीरीज इस महामारी के कारण कैंसिल हुयी हैं। 

भारत के 4 सीरीज के बाद 396 अंक हैं वहीँ ऑस्ट्रेलिया के 3 सीरीज के बाद 296 लेकिन ऑस्ट्रेलिया का प्रतिशत 82.22 है और भारत का 75 प्रतिशत। अधिक प्रतिशत के कारण ऑस्ट्रेलिया नंबर 1 पर पहुँच गया।

Advertisement
Ad
Published 27 Nov 2020, 21:44 IST
 
See more comments
 
 
×