Create

हिमा दास असम में डीएसपी बनी, कहा- एथलेटिक्‍स में करियर जारी रखेंगी

हिमा दास
हिमा दास
Vivek Goel

भारत की स्टार फर्राटा धाविका हिमा दास को शुक्रवार को असम पुलिस में उप अधीक्षक बनाया गया। हिमा दास ने इसे बचपन का सपना सच होने जैसा बताया। हिमा दास को नियुक्ति पत्र असम के मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल ने सौंपा, जो केंद्र में खेलमंत्री भी रह चुके हैं। एक समारोह में पुलिस महानिदेशक समेत शीर्ष पुलिस अधिकारी और प्रदेश सरकार के अधिकारी उपस्थित थे। हिमा दास ने बाद में कहा कि वह बचपन से पुलिस अधिकारी बनने का सपना देखती आई हैं।

हिमा दास ने कहा, 'यहां लोगों को पता है। मैं कुछ अलग नहीं कहने जा रही। स्कूली दिनों से ही मैं पुलिस अधिकारी बनना चाहती थी और यह मेरी मां का भी सपना था। वह दुर्गापूजा के दौरान मुझे खिलौने में बंदूक दिलाती थी। मां कहती थी कि मैं असम पुलिस की सेवा करूं और अच्छी इंसान बनूं।'

एशियाई खेलों की सिल्‍वर मेडलिस्‍ट और जूनियर विश्व चैंपियन हिमा ने कहा कि वह पुलिस की नौकरी के साथ खेलों में अपना करियर भी जारी रखेगी। हिमा दास ने कहा, 'मुझे सबकुछ खेलों की वजह से मिला है। मैं प्रदेश में खेल की बेहतरी के लिए काम करूंगी और असम को हरियाणा की तरह सबसे अच्छा प्रदर्शन करने वाला राज्य बनाने की कोशिश करूंगी। असम पुलिस के लिए काम करते हुए अपना करियर भी जारी रखूंगी।'

सर्वानंद सोनोवाल ने कहा कि हिमा दास की डीएसपी पद पर नियुक्ति से युवाओं को खेल में भविष्‍य बनाने के लिए प्रोत्‍साहन मिलेगा। सोनोवाल ने ट्वीट किया, 'असम के लिए गर्व का दिन। दिग्‍गज एथलीट हिमा दास को समारोह में असम पुलिस में डीएसपी पद पर नियुक्‍त करके खुशी हुई। खेल नीति के अंतर्गत उनकी उपलब्धियों पर सम्‍मान। इससे युवाओं को खेल में अपना भविष्‍य बनाने के लिए प्रेरणा मिलेगी।'

हिमा दास की शानदार वापसी

भारत की स्‍टार स्प्रिंटर हिमा दास ने एक साल से ज्‍यादा समय बाद पहली प्रतिस्‍पर्धी रेस में हिस्‍सा लिया और यहां नेताजी सुभाष नेशनल इंस्‍टीट्युट ऑफ स्‍पोर्ट्स कैंपस में गुरुवार को इंडियन ग्रांपि 2 में महिलाओं की 200 मीटर रेस में गोल्‍ड मेडल जीता। 2018 में 400 मीटर में विश्‍व जूनियर चैंपियन 21 साल की हिमा दास ने 23.31 सेकंड में रेस पूरी की।

हिमा दास ने इस दूरी में पहले तीन बार जल्‍दी का समय काटा है। 2018 में दो बार उन्‍होंने गुवाहाटी में राष्‍ट्रीय अंतर-राज्‍य एथलेटिक्‍स चैंपियनशि में 23.10 सेंकड का समय निकाला और फिर पोलैंड में ग्रांपि मीट में 23.22 का समय निकाला था। एक बार 2019 में चेक रिपब्लिक में हिमा दास ने 23.25 सेकंड में रेस पूरी की थी। हिमा दास को आगामी टोक्‍यो ओलंपिक्‍स के लिए क्‍वालीफाई होना बाकी है। हिमा दास ने आखिरी बार अगस्‍त 2019 में प्रतिस्‍पर्धी रेस में हिस्‍सा लिया था।


Edited by Vivek Goel

Comments

Fetching more content...