Create
Notifications

ओलंपिक आयोजकों को सबक सिखाने के लिए शुरु हुई थी विश्व एथलेटिक्स चैंपियनशिप्स, जानिए क्यों

विश्व एथलेटिक्स चैंपियनशिप का पहला संस्करण साल 1983 में आयोजित हुआ।
विश्व एथलेटिक्स चैंपियनशिप का पहला संस्करण साल 1983 में आयोजित हुआ।
Hemlata Pandey

15 जुलाई से अमेरिका के ओरेगोन में विश्व एथलेटिक्स चैंपियनशिप्स 2022 का आयोजन हो रहा है। दुनिया के सबसे बेहतरीन ट्रैक एंड फील्ड एथलीट हर दो सालों में इस प्रतियोगिता का हिस्सा बनते हैं। लेकिन ये बात बहुत कम लोग जानते हैं कि दुनिया के बेस्ट एथलीटों के बीच मुकाबले करवाने वाली इस प्रतियोगिता की शुरुआत ओलंपिक आयोजकों से हुए झगड़े के बाद हुई थी।

IAAF (International Amateur Athletic Federation) की ओर से 1910 के दशक से ही कोशिश की जा रही थी कि विश्व के सर्वश्रेष्ठ एथलीटों के लिए एक अलग प्रतियोगिता का आयोजन किया जाए। लेकिन साल 1913 में IAAF ( अब वर्ल्ड एथलेटिक्स) ने फैसला किया कि ओलंपिक खेलों में ही एथलीटों के बीच सबसे बड़े मुकाबले करवाए जाएंगे। लेकिन साल 1976 के मोंट्रियल ओलंपिक खेलों में पुरुषों की 50 किलोमीटर पैदलचाल प्रतियोगिता को किन्हीं कारण से हटा दिया गया, और ये बात IAAF को ठीक नहीं लगी।

मोंट्रियल ओलंपिक में आयोजकों की ओर से इस तरह एथलेटिक्स का एक इवेंट बिना कारण हटाए जाने की वजह से एथलेटिक्स का ये संघ नाराज हुआ और IAAF ने फैसला किया कि इस इवेंट को अलग से आयोजित किया जाएगा। ओलंपिक के करीब 2 महीने बाद IAAF ने अंतरराष्ट्रीय स्तर की पुरुषों की 50 किलोमीटर पैदलचाल प्रतियोगिता का आयोजन किया। इसी साल पोर्टो रिको देश में हुए विशेष IAAF बैठक में ये फैसला लिया गया कि एथलेटिक्स की विश्व चैंपियनशिप का आयोजन ओलंपिक से हटकर किया जाएगा। साल 1980 में IAAF ने एक और बार एथलीटों की चैंपियनशिप का आयोजन किया जिसमें 50 किलोमीटर पैदलचाल के साथ 400 मीटर बाधा दौड़ और 3000 मीटर दौड़ को शामिल किया गया था।

साल 1983 में आधिकारिक रूप से पहली विश्व चैंपियनशिप का आयोजन फिनलैंड की राजधानी हेलसिंकी में किया गया। इसके बाद 1987 और 1991 में 4-4 सालों के अंतराल पर प्रतियोगिता आयोजित हुई। साल 1993 से हर दो सालों बाद इस प्रतियोगिता का आयोजन किया जाने लगा और इस साल अमेरिका में विश्व चैंपियनशिप का 18वां संस्करण आयोजित किया जाएगा।


Edited by Prashant Kumar

Comments

Fetching more content...