Create

विश्‍व ओपन शतरंज खिताब जीतने वाले पहले भारतीय ग्रैंडमास्‍टर बने पी इनियान

पी इनियान
पी इनियान
Vivek Goel

ग्रैंडमास्‍टर पी इनियान पिछले महीने वार्षिक विश्‍व ओपन शतरंज टूर्नामेंट जीतने वाले पहले भारतीय खिलाड़ी बने। आयोजकों द्वारा विश्‍लेषण आयोजित होने के बाद प्रतियोगिता के नतीजे गुरुवार को आधिकारिक रूप से घोषित हुए। आमतौर पर फिलाडेलफिया में आयोजित होने वाली प्रतियोगिता इस साल कोरोना वायरस महामारी के कारण ऑनलाइन आयोजित हुई। यह प्रतियोगिता का 48वां साल था।

9 राउंड इवेंट क्‍लासिकल टाइम कंट्रोल में खेला गया जहां पी इनियान और रूस के ग्रैंडमास्‍टर जुगिरो सनन 7.5 अंक के साथ पहले स्‍थान पर टाई चल रहे थे। हालांकि, पी इनियान को बेहतर टाई ब्रेक स्‍कोर के कारण विजेता घोषित किया गया। पी इनियान ने अपने अभियान की शुरूआत ड्रॉ के साथ की थी। पी इनियान ने इसके बाद बेहतरीन प्रदर्शन किया और अगले लगातार छह मुकाबले जीते। फिर पी इनियान ने आखिरी दो बाजियां ड्रॉ खेली। पी इनियान के दमदार प्रदर्शन ने उन्‍हें 3100 अमेरिकी डॉलर से अमीर बना दिया।

पी इनियान ने करियर की सबसे बड़ी जीत में से एक करार दिया

17 साल के पी इनियान ने टीओआई से बातचीत में कहा, 'इस प्रतियोगिता को जीतने वाला पहला भारतीय बनकर बड़ी खुशी हो रही है। यह मेरे करियर की सबसे बड़ी जीत में से एक रहेगी।' यह टूर्नामेंट अमेरिकी समयानुसार खेला गया था, जिसका मतलब यह रहा कि पी इनियान को रात में सभी मुकाबले खेलना होते थे। पी इनियान ने कहा, 'हमने अपने सभी मुकाबले शाम 9:30 से सुबह 6 के बीच खेले। अमेरिकी समय के हिसाब से खेलना मुश्किल था और मुझे एक सप्‍ताह से ज्‍यादा समय तक तैयारी करनी पड़ी ताकि टूर्नामेंट के लिए रात भर जाग सकूं।' बता दें कि टूर्नामेंट में 16 देशों के 122 प्रतियोगियों ने हिस्‍सा लिया था, जिसमें भारत, अमेरिका, ब्रिटेन, रूस, स्‍पेन, जॉर्जिया, अजरबैजान, यूक्रेन, पोलैंड, उज्‍बेकिस्‍तान, बेलारूस, इसराइल, बांग्‍लादेश, मेक्सिको, पेरू और क्‍यूबा भी शामिल थे।

भारत के 61वें ग्रैंडमास्‍टर हैं पी इनियान

बता दें कि 2019 में पी इनियान भारत के 61वें ग्रैंडमास्‍टर बने थे। तब पी इनियान की उम्र 16 साल और छह महीने थी। पी इनियान का जन्‍म 13 सितंबर 2002 को तमिलनाडु के इरोड में हुआ था। पी इनियान ने 2017 के मोंटाकाडा ओपन में अपना पहला ग्रैंडमास्‍टर नियम स्‍कोर किया था। इसके बाद 2018 में बोबलीजेन ओपन में दूसरा जबकि 2018 में बारबेरा डल वालेस में तीसरा स्‍कोर किया था। निर्णायक जीएम नॉर्म हासिल करने के बाद पी इनियान को 2500 ऐलो मार्क हासिल करने में कुछ समय लगा, जो उन्‍होंने 5 मार्च 2019 को फ्रांस में नोइसेल ओपन में किया। तब छठे राउंड में पी इनियान ने ग्रैंडमास्‍टर सर्जे फेडोरचुक को मात दी थी।


Edited by निशांत द्रविड़

Comments

Fetching more content...